>प्रादेशिक समाचार-21.06.2011

21 जून

>

आकाशवाणी चण्डीगढ़
प्रादेशिक समाचार, हिन्दी
21.06.2011
मुख्य समाचार:-
ऽ प्रदेश में पिछले वर्ष दिंसबर तक आवेदन करने वाले किसानों को नलकूप कनैक्शन जल्द मिलेगे।
ऽ समझौता एक्सप्रैस बम विस्फोट मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने स्वामी असीमानंद व अन्य सह
अभियुक्तों के खिलाफ आरोप-पत्र दाखिल किए है।
ऽ प्रदेश में भू-स्थिति जानने के लिए रिमोट सेंसिग प्रणाली का प्रयोग शुरू।
ऽ साकेत कॉलेज ऑफ फिजियोथिरेपी चंडीमंदिर को सरकारी सहायता प्राप्त कॉलेज का दर्जा दिया
जाएगा।
हरियाणा के कृषि क्षेत्र को बढ़ावा तथा किसानों को राहत देते हुए मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने आज दिसंबर
2010 तक नलकूप कनैक्शन के लिए प्राप्त हुए सभी आवेदनों को नलकूप कनैक्शन जारी करने की घोषणा की।
उन्होंने ऐसे 40 हजार से अधिक लंबित आवेदनों के विरूद्ध तुरंत मागं नोटिस जारी करने के निर्देश दिए है।
यह घोषणा मुख्यमंत्री ने हरियाणा बिजली निगमों के कार्यों की समीक्षा करते हुए की। उन्होंने कहा कि
अधिकांश नलकूप कनैक्शनों को संशोधित हाई वोल्टेज वितरण प्रणाली के तहत कवर किया जायेगा। एक वर्ष
में इतनी बड़ी संख्या में नलकूप कनैक्शन जारी करना अब तक का उक रिकार्ड होगा।
उन्होंने कहा कि नई नीति के लागू होने के उपरांत ऐसे किसान जो पहले से आवेदन कर चुके है चाहे उन्हें
मांग नोटिस जारी हो चुका हो या नही को नये विकल्प देने होंगे। ओवरलोड तथा नुकसान से बचाव के लिए
संशाधित हाई वोल्टेज वितरण प्रणाली के तहत ट्रांसफार्मर का अधिकतम लोड ट्रांसफार्मर की क्षमता के 80
प्रतिशत से ज्यादा नहीं होगा। ट्रांसफार्मर की क्षमता 100 केवीए से अधिक नही होनी चाहिए। सभी कनैक्शन
मीटर आपूर्ति पर जारी किये जायेंगे।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने समझौता एक्सप्रैस मामले में कल पंचकूला की विशेष अदालत में स्वामी असीमानंद और
चार अन्य अभियुक्तों सुनील जोशी, लोकेश शर्मा, संदीप डांगे और राम चंद्र कालासंगरा के खिलाफ अरोप पत्र
दाखिल किया। आरोप पत्र में स्वामी असीमानंद और चार सह अभियुक्तों में पानीपत के निकट 18 फरवरी 2007
में हुए बम विस्फोट की साजिश रचने और धमाका करने का आरोपी पाया गया है। इस विस्फोट में 68 यात्री
मारे गए और 12 घायल हो गए थे। विस्फोट में रेलगाड़ी के कई डिब्बे भी क्षतिग्रस्त हो गए थे।
आरोपपत्र में कहा गया है कि स्वामी असीमानंद ने गुजरात में अक्षरधाम मंदिर , जम्मू में रघुनाथ मंदिर और
वाराणसी में संकट मोचन मंदिर में हुए जेहादी हमलों से विचलित होकर बम के बदले बम सिद्धात का इंलान
किया और समझौता बम विस्फोट की साजिश रची । उसने विस्फोट के लिए अपने साथियों वित्तीय मदद एवं
साजोसमान मुहैया करवाया।
राष्ट्रीय जांच एजेंसी एन आई ए ने समझौता एक्सप्रैस मामलें में स्वामी असीमानंद के खिलाफ चार वर्ष की
छानबीन के बाद आरोप पत्र दाखिल किया है। जांच एजेंसी ने आरोप पत्र में साध्वी प्रज्ञा, इंद्रेश और अमित
चौहान को भी क्लीन चिट नही दी है और कहा है कि संदेह के चलते जांच अभी जारी रहेगी। अगर जरूरत
पड़ी तो सप्लीमैंटरी चार्ज शीट भी दाखिल की जायेगी। अदालत में इस मामले की अगली सुनवाई 1 जुलाई
को होगी।
आरोपपत्र में दोषी बताए गए स्वामी असीमानंद और लोकेश शर्मा इस समय अंबाला की जेल में बंद है और
असीमानंद पर 2007 में हैदराबाद की मक्का मस्जिद में हुए धमाकों में कथित तौर पर लिपत होने का भी
आरोप है। स्वामी असीमानंद के साथी भगौड़े अभियुक्तों को गिरफतार करने की कार्रवाई अभी जारी हैं। एन
आई ए ने भगौड़ो राम चंद्र कालेसंगरा और संदीप डागे पर 10-10 लाख रूपए और एक संदिग्ध अमित का
पता लगाने के लिए दो लाख का ईनाम घोषित कर रखा है, जबकि सुनील जोशी की मृत्यु हो चुकी है।

हरियाणा के मुख्य संसदीय सचिव श्री रामकिशन फौजी ने कहा है कि प्रदेश में हरियाणा स्वास्थ्य वाहन सेवा
102 के तहत एम्बूलैस की सेवाएं लेने के लिए अस्पतालों में करीब 22000 फोन कॉल प्राप्त हुए है। श्री फौजी
ने कहा कि सुविधा प्रदेश के सभी जिला सामान्य अस्पतालों सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रो तथा प्राथमिक स्वास्थ्य
केंद्रो में 102 नम्बर पर दी जा रही है। इस योजना के तहत कोई भी व्यक्ति 102 नम्बर पर फोन करके
आकस्मिक एम्बूलैस की सुविधा प्राप्त कर सकता है। मुख्य संसदीय सचिव ने कहा कि गर्भवती महिलाओं ,
सड़क हादसों से पीड़ित लोगों बी पी एल व अधिसूचित मलिन बस्तियों, प्रसव उपरान्त 6 सप्ताह तक
महिलाओं, 4 सप्ताह के नवजात बच्चों स्वतंत्रता सेनानियों तथा नेत्रदान के लिए जाने वाले लोगों को यह
सुविधा निशुल्क दी जाती है।
श्री फौजी ने कहा कि इस सुविधा के लिए प्रदेश में 335 एम्बूलैसं उपलब्ध करवाई गई है। ये सभी एम्बूलैस
ग्लोबल पोसिजीशन सिस्टम से लैस है। उन्होंने कहा कि अन सुविधाओं को और गति प्रदान करने के लिए इस
बेड़े में 21 एम्बूलैंस को और जोड़ने का प्रस्ताव है।

भाखड़ा और पौंग बांध की झीलों में आस पास के क्षेत्रों में भारी वर्षा होने और पहाड़ी इलाके में बर्फ
पिघलने के कारण जल स्तर लगातार बढ़ रहा है। पौंग बांध की झील का पानी 1349 फुट तक पहुॅच गया है
जो पिछले कई वर्षो के मुकाबले 64 हजार 168 फुट अधिक है। भाखड़ा बांध के पानी का स्तर भी 1577.42
फुट है जो पिछले तीन वर्षाे में अधिकतम है।

करनाल स्थित केंद्रीय मृदा लवणता अनुसंधान ने रूड़की व पूसा संस्थान की मदद से जमीन के मैप तैयार
करने शुरू कर दिए है। वैज्ञानिकों का दावा है कि इन नक्शो की सहयाता से भू दृश्य , मृदा लवणता, जल
भराव, वर्षा, रेलों सड़कों के जाल व नहरों के पानी की उपयोगिता के विस्तृत आकड़े प्राप्त हांगे। संस्थान में
आयोजित एक पत्रकार वार्ता के दौरान निदेशक डाक्टर डी के शर्मा ने बताया कि भूमि की स्थिति का पता
लगाने के लिए कृषि क्षेत्र में इस जी पी एस तकनीक का भारत में पहली बार इस्तेमाल किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि सेटलाईट तकनीक पर आधारित इस परियोजना के माध्यम से किसान घर पर बैठे अपनी
जमीन की वास्तविक स्थिति का आकंलन कर सकेंगे और उसी के अनुरूप अपनी फसल की बिजाई कर बेहतर
लाभ प्राप्त कर पाएंगे।
श्री शर्मा ने यह भी बताया कि संस्थान द्वारा विश्व बैंक की सहायता से पानीपत के नेन गांव एक नया प्रोजैक्ट
शुरू किया गया है जिसके तहत इस गांव की 27 एकड़ जमीन पर अनुसंधान को उपजाउ भूमि में बदला
जाएगा। अगर यह प्रोजेक्ट सफल रहा तो आने वाले समय में देश भर की लाखो एकड़ बजंर जमीन को कृषि
योग्य बनाने में मदद मिलेगी।

सकेत कालेज आफ फिजयौथेरपी चंडीमंदिर को सरकारी सहयता प्राप्त कालेज का दर्जा दिया जाएगा।यह
फैसला हरियाण के राज्यपाल जगन्नाथ पहाडिया की अण्यक्षता तथा मुख्यमंत्री भूपिन्द सिंह हुडडा की
उपस्थिति में हरियाणा राजभवन में हुई हरियाणा साकेत काउंसिल की कार्यकारी तथा वाशर््िक आम बैठक में
लिया गया ।
मुख्यमंत्री के सुझाव पर बैठक में साकेत कॉलेज में और अधिक पाठ्यक्रम जोड़ने का फैसला लिया गया। बैठक
में पीड़ित भगवत दयाल शर्मा स्वास्थ्य विश्वविद्यालय रोहतक के कुलपति डा एस एस सांगवान, स्वास्थ्य विभाग
के वित्त आयुक्त एवं प्रधान सचिव तथा जाने माने चिकित्सक प्रो़ राज बहादूर को कार्यकारी परिषद के सदस्य
के रूप में मनोनीत करने का फैसला लिया गया। डाक्टर नरेद्र अरोड़ा को हरियाणा साकेत कांउसिल कॉलेज
एवं अस्पताल के सलाहकार के रूप में नियुक्ति दी गई है। साकेत अस्पताल में 3 और मैडिकल अधिकारी
नियुक्त करने की मंजूरी भी दी गई है। बैठक में ठेकेदारी व समेकित वेतन आधार पर कार्य कर रहे
कर्मचारियों के वेतन में 10 प्रतिशत वार्षिक बढ़ोतरी भी मंजूर भी दी है।

गुड़गांव नगर निगम के पहली बार हुए नगर निगम चुनावों में महापौर वरिष्ठ उप महापौर के तीनों पद कांग्रेस
पार्टी समर्पित उम्मीदवारों को मिले। वार्ड नम्बर 4 से पार्षद विमल यादव गुड़गांव नगर निम के पहले महापौर
चुने गए। इस बारे में जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि इन पदो ंके लिए आज गुड़गांव के
हुड्डा जिमरवाना क्लब में गुड़गांव मंडलायुक्त श्री टीके शर्मा की उपस्थिति में चुनाव करवाए गए। महापौर के
शीर्ष पद के लिए श्री विमल यादव और श्रीमती सीमा पहुता के बीच टक्कर थी।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: