>local news सिरसा समाचार

18 जून

>

14 वर्ष के कम आयु के 160 बच्चों को बाल श्रम से मुक्त करवाकर 150 व्यावसायिक प्रतिष्ठिानों व उनके मालिको के चालान किए गए
सिरसा, 18 जून।  प्रदेश में श्रम विभाग द्वारा चलाए जा रहे बाल श्रम उन्मूलन अभियान के तहत अब तक पूरे हरियाणा में 14 वर्ष के कम आयु के 160 बच्चों को विभिन्न दुकानों व प्रतिष्ठिानों से बाल श्रम से मुक्त करवाकर 150 व्यावसायिक प्रतिष्ठिानों व उनके मालिको के चालान किए गए है। श्रम विभाग द्वारा आगामी 20 जून तक बाल श्रम उन्मूलन अभियान चलाया जाएगा। यह अभियान विश्व बालश्रम उन्मूलन दिवस के उपलक्ष में चलाया जा रहा है। 
यह जानकारी देते हुए सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि इस अभियान के तहत सिरसा जिला में अभी तक 21 बच्चों को बाल श्रम से मुक्त करवाकर 13 विभिन्न व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के चालान  किए गए है।  सिरसा में  15 बच्चे को , 5 बच्चे डबवाली में और एक बच्चे  केा ऐलनाबाद में बालश्रम से मुक्त करवाया गया है।  उन्होंने बताया कि बालश्रम उन्मूलन अभियान के तहत पूरे प्रदेश में राज्य स्तर पर औचक रूप से प्रतिष्ठानो पर छापामारी करने के लिए दो टीमों का गठन किया गया है एक टीम की जिम्मेवारी  विभाग के ऑडिटर श्याम सुन्दर शर्मा को और दुसरी टीम की जिम्मेवारी उप श्रम आयुक्त श्री मति सुमन कुंडु को सौंपी गई है । श्याम सुन्दर शर्मा को 11 जिलो जिनमें अम्बाला ,पंचकूला ,सिरसा ,हिसार, भिवानी, जींद, करनाल, कैथल, फतेहबाद तथा कुरूक्षेत्र जिलों की जिम्मेवारी सौपी गई  है। इसी प्रकार से श्री मति सुमन कुंडु को अन्य फरीदाबाद,,झज्जर, पानीपत, रोहतक,पलवल, मेवात, रेवाड़ी नारनौल ,गुडग़ांव और सोनीपत सहित 10 जिलों की जिम्मेवारी सौपी गई है। 
उन्होंनेे बताया कि प्रदेश स्तर के अलावा जिला स्तर एवं उपमण्डल स्तर पर भी  टीमों का गठन किया गया है। जिनमें सम्बधित उपमण्डला अधिकारी,कार्यकारी मैजिस्ट्रेट , तहसीलदार व समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों को शामिल किया गया है इन टीमो द्वारा सम्बध्ंिात क्षेत्रों में हर रोज औचक निरीक्षण किया जा रहा है और निरीक्षण के साथ-साथ विभिन्न स्थानों पर जागरूकता शिविरों का भी आयोजन किया जा रहा है । इन शिविरों में भट्ठा मालिको ,औद्योगिक प्रतिनिधियों, होटल ,ढाबा प्रतिनिधियों सहित अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के प्रतिनिधियों को बाल श्रम अधिनियमों की जानकारी दी जा रही है। 
सिरसा के डी आर डी ए कांफ्रेस हॉल में ऐसे ही उपायुक्त डा0 युद्धबीर सिंह ख्यालिया कि अध्यक्षता में जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया।  जिसमें जिला प्रशासन की तरफ से उन्होंने उपरोक्त प्रतिष्ठानों से अपील की कि वे 14 वर्ष से कम आयु के बच्चों से किसी भी प्रकार का श्रम न करवाएं क्योंकि यह कानूनी अपराध होने के साथ साथ नैतिक रूप से भी सही नहीं है। उन्होने बताया किष्द्धद्बद्यस्र द्यड्डड्ढशह्वह्म् श्चह्म्शद्धद्बड्ढद्बह्लद्बशठ्ठ  ड्डष्ह्ल 1986 के तहत किए गए चालान सम्बधित मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी की अदालत में पेश किए जा रहे है। जो भी प्रतिष्ठिान व उनके मालिक इस मामलें में दोषी पाए जाएगे उन्हे 10 से 20 हजार रूपए का जुर्माना व एक साल तक की सजा हो सकती है इसके अलावा दोषी व्यक्ति को 20 हजार रूपए की राशि जिला बाल श्रम पुनर्वास फंड में भी जमा करवानी होगी । 
उन्होंने बताया कि सिरसा जिला में बाल श्रम उन्मूलन अभियान गम 6 जून से चलाया जा रहा है। जो आगामी 20 जून तक चलेगा ही इसका साथ साथ 20 जून के बाद भी यह अभियान चलता रहेगा जिला के  सभी गैर सरकारी व सरकारी स्कूलों में अध्यापको के सहयोग से यह अभियान जारी रहेगा जिसमें अध्यापक अपने स्कूलों में बच्चों को बाल श्रम अधिनियम की जानकारी देने के साथ साथ बाल श्रम उन्मूलन के लिए जागरूक भी करेगे। आज यहां आयोजित इस बैठक में उपमण्डलाधीश   श्री रोशन लाल ने भी सभी प्रतिष्ठानो के प्रतिनिधियों से कहा  कि वे किसी भी प्रकार से बाल श्रम अधिनियम का  उल्लंघन न करके बच्चों से श्रम का कार्य न लें अन्यथा प्रशासन द्वारा कानूनी कार्यवाही की जाएगी और सख्ती से निपटा जाएगा। इस बैठक में श्रम विभाग के निरीक्षक श्री धर्म सिंह ने भी अधिनियम के बारे में विस्तृत रुप से जानकारी दी।  उन्होने कहा कि बाल श्रम के विरूद्ध विभाग द्वारा स्लोगन व नारे इत्यादि लिखावकर आमजन को जागरूक किया जा रहा है। 
बाल श्रम का हरियाणा में नामो निशान मिटा दो। बचपन की हठखेलियों संग पढऩे का अधिकार दिला दो। 
ये उमर खेलने की है ना की दुख झेलने की।
पुलिस समाचार
सिरसा। ओढां थाना पुलिस ने 16 जून को गांव बनवाला क्षेत्र के शराब ठेके में हुई चोरी की घटना की गुत्थी को सुलझा लिया है। पुलिस ने घटना के दोनो आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपियों की पहचान जगदीश पुत्र दयालीराम व दलबीर पुत्र पूर्णचंद निवासी वनवाला के रूप में हुई है। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने 5700 रूपए की नकदी व 8 बोतल शराब भी बरामद कर ली है। उल्लेखनीय है कि परसों रात्रि को बनवाला गांव स्थित शराब ठेके का ताला तोड़कर आरोपियों ने ठेके में रखी नकदी व शराब बोतलें चोरी कर ली थी। इस संबध्ंा में रिसालियाखेडा निवासी ठेका संचालक सीताराम पुत्र बहादूर राम की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया था। पकडे गए आरोपियों को आज सिरसा अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्ळे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। 
एक अन्य घटना में जिला की कालांवाली पुलिस ने एक व्यक्ति को मोबाईल चोरी के आरोप में गिरफ्तार कर चोरीशुदा मोबाईल बरामद कर लिया है। पकड़े गए आरोपी की पहचान गुरमीत पुत्र बलवीर निवासी मलसिंघेवाला मानसा पंजाब के रूप में हृुई है। आरोपी ने बीते दिवस मंडी कालांवाली में हेमराज पुत्र कौरचंद निवासी मंडीकालांवाली का मोबाईल चुरा लिया था। पकड़े गए आरोपी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। 
सिरसा। थाना शहर सिरसा पुलिस ने गश्त व चैकिंग के दौरान दो अलग अलग घटनाओं में अफीम व स्मैक के साथ 5 लोगों को काबू किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों के खिलाफ थाना शहर सिरसा में मादक पदार्थ अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज किया गया है। आरोपियों को आज सिरसा अदालत में पेश  कर रिमांड मांगा जाएगा ताकि इस नेटवर्क से जुड़े अन्य लोगों को भी बेनकाब किया जा सके। 
मामले की विस्तृत जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि शहर थाना के प्रभारी निरीक्षक महासिंह को मुखबिर के माध्यम से सूचना मिली थी कि पुराना बस स्टैंड के पास टाउन पार्क क्षेत्र में मादक पदार्थ तस्करी के धंधे से जुडे कुछ लोग इक्कठे हो सकते है।  इस सूचना को पाकर शहर थाना प्रभारी ने दो टीमों का गठन किया, एक टीम का नेतृत्व वे स्वयं कर रहे थे जबकि दूसरी का उपनिरीक्षक हंसराज निरीक्षण कर रहे थे। दोनो पुलिस पार्टियों ने जाल फैलाकर संदिग्ध दिखलाए दिए पांच लोगों को मौके से काबू कर लिया। 
प्रथम घटना में निरीक्षक महासिंह पर आधारित पुलिस टीम ने मौके से पकड़े गए दो आरोपियों से 390 ग्राम स्मैक बरामद की। आरोपियों की पहचान राजवीर उर्फ बिट्टू पुत्र गुरचरण निवासी साहुवाला प्रथम व श्यामलाल पुत्र रामसिंह निवासी चिकली जिला नीमच मध्यप्रदेश के रूप में हुई है। पकड़े गए आरोपी श्यामलाल मध्यप्रदेश से स्मैक को लेकर आया था तथा इसे साहूवाला निवासी राजवीर को सप्लाई कर रहा था। दूसरी घटना में उपनिरीक्षक हंसराज पर आधारित टीम द्वारा पकड़े गए तीन आरोपियों से 920 ग्राम अफीम बरामद हुई। आरोपियों की पहचान जगसीर पुत्र गुर्जर निवासी खैरेकां, वर्दीचंद पुत्र पूराजी तथा दलीप पुत्र कालूराम निवासियान चिकली जिला नीमच मध्यप्रदेश के रूप में हुई है। पकड़े गए आरोपियों वर्दीचंद व दलीप उक्त अफीम को मध्यप्रदेश से लेकर आए थे वह इसे खैरेकां निवासी जगसीर को सप्लाई कर रहे थे। 
सिरसा। जिला की रोडी पुलिस ने गोली चलाकर कातिलाना हमला करने के आरोप में एक व्यक्ति को काबू कयिा है। पकड़े गए आरोपी के कब्जे से 12 बोर का नजायज पिस्तौल व एक चला हुआ कारतूस भी बरामद कर लिया है। आरोपी नाजी सिंह पुत्र गुरदयाल ङ्क्षसह को आज सिरसा अदालत में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। जानकारी देते हुए रोड़ी थाना प्रभारी निरीक्षक कृष्णा यादव ने बताया कि बीती 13 जून को गांव सूरतियां में सतनाम सिंह पुत्र लीलू सिंह पर किसी बात को लेकर इसी गांव में रहनेवाले नाजी ङ्क्षसह व टोनी पुत्रान गुरदयाल ङ्क्षसह ने अवैध पिस्तौल से गोली चलाकर कातिलाना हमला कर दिया था। उन्होने बताया कि इस संबंध में सतनाम सिंह की शिकायत पर नाजी व टोनी के खिलाफ भादंसं की धारा 307 व शस्त्र अधिनियम की धारा के तहत अभियोग दर्ज किया गया था। थाना प्रभारी ने बताया कि पुलिस ने मामले की जांच करते हुए आरोपी नाजीसिंह को गिरफ्तार कर लिया है व दूसरे आरोपी की तलाश जारी है। 
पुरूष सिपाही पद के लिए साक्षात्कार पुलिस 20 जून से
सिरसा। चैयरमेन चयनबोर्ड यमूनानगर एवं पुलिस अधीक्षक कमांडो हरियाणा, नेवल करनाल की तरफ से बतलाया गया है कि जिन उम्मीदवारों ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय में पुरूष सिपाही पद के लिए आवेदन किया था, उनमें से सामान्य वर्ग के पंजीकरण संख्या 7347 से 12768 तक के उम्मीदवारों का साक्षात्कार पुलिस अधीक्षक कमांडों नेवल करनाल में दिनांक 20 जून 2011 को प्रात: 8 बजे आरंभ होनी है। उनमें से शारीरिक दक्षता परीक्षा में पास पाए गए उम्मीदवार अपने मूल दस्तावेज व उनकी छायाप्रतियां साथ लेकर आए। पंजीकरण संख्या 7347 से 8004 तक के उम्मीदवारों का 20 जून को, 8010 से 8408 तक का 23 जून को, 8410 से 8903 तक के उम्मीदवारों का साक्षात्कार 24 जून को होगा जबकि 8908 से 9467 तक के 27 जून को, 9468 से 10325 तक का 28 जून को, 10331 से 11116 तक का 29 जून को, 11120 से 12116 तक के 30 जून को, 12119 से 12495 तक का साक्षात्कार 1 जुलाई को, 12497 से 12768 तक के उम्मीदवारों का साक्षात्कार 4 जुलाई 2011 को होगा।  
डा.के.वी.सिंह 20 जून को डबवाली आयेगें
मण्डी डबवाली मुख्यमन्त्री हरियाणा के पूर्व विशेष कार्यधिकारी डा.के.वी.सिंह 20 जून को डबवाली आयेगें। यह जानकारी देते हुए उनके निजी सचिव बजरंग थालोड़ ने बताया कि डा. सिंह सोमवार को प्रात: 10 बजें से सांय 5 बजें तक सिरसा रोड़ स्थित कांग्रेस कार्यालय मे जनसमस्याऐं सुनेगे तथा उनका मौके पर ही निराकरण करेगें
नेत्र जांच व ऑप्रेशन शिविर का आयोजन किया गया
सिरसा, 18 जून ।  समाज सेवा को समर्पित श्री बाबा तारा चेरिटेबल अस्पताल एवं रिसर्च सेंटर के तत्वावधान में प्रत्येक शनिवार को लगाए जाने वाले नेत्र जांच व ऑप्रेशन शिविर का आयोजन अस्पताल परिसर में किया गया। इस शिविर में अस्पताल के नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. महिप बांसल व उनकी सहयोगी टीम ने नेत्र रोगियों  की जांच की। यह जानकारी देते हुए अस्पताल के प्रवक्ता गुरराज करन सिंह ने बताया कि इस शिविर में 210 नेत्र रोगियों की जांच की गई, जिनमें से 42 रोगी मोतियाबिंद रोग से पीडि़त पाए गए। उन्होंने बताया कि मोतियाबिंद रोग से पीडि़त सभी मरीजों का ऑप्रेशन अस्पताल में नि:शुल्क किया जाएगा व दवाईयां, चश्मे व ठहरने की व्यवस्था भी श्री तारा बाबा चेरिटेबल अस्पताल द्वारा की गई है।
आत्महत्या के लिए मजबूर करने वालों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की मांग
सिरसा, 18 जून (एमएस)।  आत्महत्या के लिए मजबूर करने वालों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की मांग को लेकर पीडि़त पक्ष ने मीडिया और समाज से सहयोग देने का आहवान किया। विगत 30 मई को द्वारकापुरी निवासी दीपक गोयल का शव नहर में बरामद हुआ था। दीपक के बैग से मिले सुसाइड नोट में उसने अपने ससुराल वालों पर प्रताडि़त करने और आत्महत्या के लिए मजबूर करने के आरोप लगाए थे। मृतक के पिता बलवंत राय ने आज एक निजी होटल में एक प्रैस वार्ता आयोजित करके शहर थाना के प्रभारी महासिंह पर प्रभावशाली लोगों के दबाव में कार्य करने का आरोप लगाया है। बलवंत राय ने पत्रकारों को बताया कि दहेज प्रताडऩा के केस में फंसाकर उसके पुत्र के ससुराल पक्ष वालों ने उन्हें भारी मानसिक प्रताडऩा तो दी ही तथा उनकी सामाजिक प्रतिष्ठा को भी तार-तार करने की कोशिश की। इसके अतिरिक्त रानियां निवासी मदन लाल व अशोक कुमार ने मृतक दीपक और मुझसे घर आकर मारपीट भी की, जिसके कारण उनको अनेक चोटें लगी। बलवंत राय ने आरोप लगाया कि रानियां वासी आरोपी मदन लाल और अशोक कुमार ने धन के लालच में उन्हें ब्लैकमेल करने के लिए एसपी कार्यालय में स्थित महिला सैल में झूठी शिकायत देकर परेशान तो किया ही, साथ में 25 मई को उनसे दुकान पर आकर पैसे मांगे और झगड़ा किया, जिससे तंग आकर दीपक ने आत्महत्या जैसा कदम उठाया। हालांकि पुलिस ने मुकदमा तो दर्ज कर लिया, परतुं शहर थाना प्रभारी आरोपियों को गिरफ्तार करने की बजाए उनके बचाव के झूठे फार्मूले ढूंढ रहे हैं। बलवंत राय ने सरकार से मांग की कि दोषियों को तुरंत गिरफ्तार किया जाए, क्योंकि इनकी अग्रिम जमानत भी माननीय न्यायालय ने रद्द कर दी है तथा पीडि़त पक्ष को इंसाफ दिलाए। बलवंत राय ने आरोपी मदन लाल से अपनी जान-माल को खतरा बताते हुए उसकी शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की है।
राधा कृष्ण मंदिर में धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया
सिरसा। ढाणी विलासपुर में स्थित राधा कृष्ण मंदिर में गत दिवस एक धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधि होशियारी लाल शर्मा व तिलक राज चंदेल द्वारा की गई। इस धार्मिक कार्यक्रम में मंदिर कमेटी के प्रधान रघुवीर सिंह चंदेल ने श्री शर्मा व चंदेल के हाथों से विधिवत रूप से पूजा-अर्चना करवाई। इस मौके पर होशियारी लाल शर्मा व तिलक राज चंदेल ने मंदिर में सफाई व्यवस्था व रंग-रोगन के लिए 11 हजार रुपये का अनुदान दिया।  इस मौके पर उनके साथ युवा कांग्रेस रामनगरिया के प्रधान अनिल चंदेल, परमजीत पंच, इंद्राज शर्मा, बनारसी दास, इन्द्रजीत, कुबेर चंदेल, सुरेश कुमार, सोनू, गगनदीप, संगीत कुमार, विपिन कुमार, संजय शर्मा, सुभाष चंदेल, रविन्द्र मलिक, भोला जैन आदि उपस्थित थे। 
मनजीत सिंह अहलावत की आत्मिक शांति के लिए उनकी रस्म पगड़ी 22 जून को
सिरसा। पुलिस महा निरीक्षक मनजीत सिंह अहलावत के निधन पर जिला पुलिस के अधिकारियों व कर्मचारियों ने शोक जताया है। सिरसा व डबवाली में कार्य कर चुके अहलावत का 11 जून को निधन हो गया था। हिसार रेंज के डीआईजी एवं स्व.अहलावत के भाई परमजीत सिंह अहलावत ने बताया कि मनजीत सिंह अहलावत की आत्मिक शांति के लिए उनकी रस्म पगड़ी 22 जून को गुडग़ांवा के सैक्टर-44 में सम्पन्न होगी। 
ठेके में चोरी दोनों आरोपी काबू
ओढ़ां-गांव बनवाला में स्थित ठेका शराब देसी का ताला तोड़कर दो व्यक्तियों ने 12 हजार रुपए की नकदी व 10 बोतल शराब चोरी कर ली। ठेकेदार सीताराम पुत्र बहादुर सिंह निवासी रिसालियाखेड़ा ने ओढ़ां पुलिस को दी गई शिकायत में बताया कि शुक्रवार की सुबह कारिंदे शंकर लाल ने देखा कि ठेके का ताला टूटा हुआ था और गल्ले में 12 हजार रुपए तथा ठेके से 10 बोतल शराब गायब थी। ओढ़ां पुलिस ने मौके पर पहुंच तुरंत कार्रवाई करते हुए उसी गांव के 25 वर्षीय दलबीर सिंह पुत्र पूर्ण चंद और जगदीश पुत्र दयालीराम को पकड़कर उनसे 5700 रुपए की नकदी व स्कूल के निकट रखी बनछटियों में से 10 बोतल शराब बरामद कर ली तथा उन पर दुकान में घुसकर चोरी करने का मामला दर्ज करके शुक्रवार को उन्हें सिरसा ड्युटी मजिस्ट्रैट के समक्ष पेश किया जहां से उन्हें 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया।
चाचा भतीजे के झगड़े में मां बेटा घायल
ओढ़ां-गांव घुकांवाली में चाचा भतीजे में झगड़ा होने से मां बेटा घायल हो गए। ओढ़ां थाना में कार्यरत उपनिरीक्षक धर्मबीर ने 27 वर्षीय जसबीर सिंह पुत्र भीम सिंह निवासी घुकांवाली की शिकायत पर उसके चाचा गुरजंट सिंह व पुत्र गगनदीप के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज करके छानबीन शुरू कर दी है। धर्मबीर एसआई ने बताया कि गुरुवार की रात को गुरजंट सिंह का दामाद आया हुआ था और गुरजंट सिंह व जसबीर सिंह उसके साथ शराब पी रहे थे तो किसी बात को लेकर जसबीर सिंह व गुरजंट सिंह में तकरार हो गई और दोनों गाली गलौच करने लगे। महिलाओं ने दोनों को छुड़वा दिया और दोनों अपने अपने घर जाकर सो गए। शुक्रवार की सुबह 45 वर्षीय गुरजंट सिंह व 25 वर्षीय गगनदीप ने जसबीर सिंह के घर जाकर उसे बुरा भला कहते हुए उसके साथ मारपीट की और चाकू से वार कर दिया। इसी बीच जसबीर सिंह की मां अंग्रेज कौर छुड़वाने आई तो उसके भी चोट लगी और दोनों को सिरसा अस्पताल में दाखिल करवाया गया।
बंधक बनाकर पीटने के मामले की जांच डीएसपी करेंगे
ओढ़ां-गांव घुकांवाली में एक मजदूर को बंधक बनाकर उसके साथ मारपीट करने व जातिसूचक गालियां देने के मामले को लेकर आज डबवाली के डीएसपी बाबू लाल मौके पर पहुंचे और वहां पर उपस्थित लोगों की बात सुनी और स्वयं जांच करने की बात कही। ओढ़ां पुलिस ने बलराम सिंह की शिकायत पर कृष्ण कुमार गोदारा, उसकी पत्नी संतोष देवी व दो पुत्रों प्रह्लाद सिंह व रघुवीर सिंह के खिलाफ बंधक बनाकर मारपीट करने और जातिसूचक गालियां देने का मामला दर्ज कर लिया है। बताया जाता है कि बलराम सिंह अपनी हिस्से पर ली हुई जमीन पर काम कर रहा था जो कि कृष्ण कुमार की जमीन के साथ लगती है। कुछ दिन पहले कृष्ण कुमार का पालतू कुत्ता किसी ने मार दिया था और उसे शक हो गया था कि उसका कुत्ता बलराम ने मारा है इसलिए उस कृष्ण कुमार व उसके पुत्रों ने उसे अपनी ढानी में ले जाकर उसके साथ मारपीट करते हुए जातिसूचक गालियां दी और रातभर बंधक बनाकर रखा। सुबह पता चलने पर गांववासियों ने उसे छुड़वाया और ओढ़ां पुलिस को सूचित किया।
नए सत्र के लिए विवरणिका मिलनी शुरू
ओढ़ां-माता हरकी देवी महिला महाविद्यालय में नए सत्र के लिए विवरणिका मिलनी प्रारंभ हो गई हैं। पहले दिन छात्राओं ने 80 विवरणिका खरीदी। यह जानकारी देते हुए महाविद्यालय की कार्यकारी प्राचार्या अनीता छाबड़ा ने बताया कि महाविद्यालय में बीसीए, बीकॉम, बीए और एमए के अलावा इंगलिश स्पोकिंग, कुकिंग एण्ड बेकिंग, कार ड्राइविंग, फोटोग्राफी, स्टीचिंग और ब्यूटी कटिंग आदि कोर्सेस भी करवाए जाते हैं जिनके लिए। उन्होंने बताया कि महाविद्यालय का परीक्षा परिणाम शत प्रतिशत आता है और यहां पर किताबी ज्ञान के साथ साथ व्यवहारिक ज्ञान भी दिया जाता है ताकि छात्राएं आत्मनिर्भर हो सकें। उन्होंने आगे बताया कि प्रॉसपैक्टस 30 दिन तक प्राप्त किए जा सकते हैं और 2 जुलाई को पहली मैरिट सूची जारी कर दी जाएगी।


सरकार के दो मंत्रियों ने नौकरी लगाने के नाम पर लाखों रुपयों की रिश्वत ली और नौकरी भी नहीं लगाई
सिरसा, 17 जून। पहले कांग्रेस पार्टी की सरकार लुटेरों की सरकार होती थी मगर अब तो लूट के साथ-साथ हत्यारों की सरकार बन गई है। सरकार के मंत्री खुद हत्याएं करवा रहे हैं। ऐसे में आम आदमी का क्या होगा, यह सोचने की बात है। यह बात ऐलनाबाद के विधायक अभय सिंह चौटाला ने गांव बाजेकां में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कही। अपने जनजागरण अभियान के तहत वे गांव बाजेकां में पहुंचे थे। अभय सिंह ने करनाल जिले में पूर्व सरपंच कर्म सिंह की हत्या के बारे में टिप्पणी करते हुए कहा कि सरकार के दो मंत्रियों ने नौकरी लगाने के नाम पर लाखों रुपयों की रिश्वत ली और नौकरी भी नहीं लगाई। जब कर्म सिंह ने रिश्वत के पैसे वापस मांगे तो उसकी हत्या करवा दी। रिश्वत के गवाह की भी हत्या करवा दी। इससे साबित होता है कि पहले कांग्रेस सरकार लोगों को लूटने का काम करती थी मगर अब लूट के साथ-साथ हत्या भी करवाने लगी है। अब आम आदमी कांग्रेस शासन में चैन की नींद नहीं सो सकता। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में कानून व्यवस्था बदहाल है। किसानों की जमीन सस्ते रेट पर खरीदकर सरकार प्रॉपर्टी डीलर्स को महंगे दामों बेचकर मुनाफा कमा रही है। हर तरफ भ्रष्टाचार का आलम है। अधिकारी भी बिना रिश्वत के काम नहीं करते हैं। सिरसा जिले में कानून व्यवस्था पर बोलते हुए कहा कि जिले में अपराध दिनोंदिन बढ़ रहे हैं। लोग पुलिस थाने में शिकायत लेकर जाते हैं तो थानेदार सुनवाई नहीं करते हैं। एसपी पर निशाना साधते हुए अभय सिंह ने कहा कि जिले में बिगड़ रही कानून व्यवस्था के लिए पुलिस प्रशासन जिम्मेदार है। पुलिस के बड़े अधिकारी रिश्वत खा रहे हैं तथा थानेदार बड़े अधिकारियों के एजेंट बने हुए हैं। महंगाई से आम आदमी का जीना मुश्किल हो गया है। कुछ दिन पहले पेट्रोल के दाम पांच रुपये तक बढ़ा दिए थे और अब होम लोन भी महंगा कर दिया है। अभय सिंह ने ग्रामीणों से कहा कि उक्त सभी समस्याओं का एक ही समाधान है, और वह है इनेलो का शासन। जब प्रदेश में इनेलो की सरकार बनेगी और चौधरी ओमप्रकाश चौटाला मुख्यमंत्री बनेंगे तो फिर कोई समस्या नहीं रहेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में चल रही गुटबाजी से लगता है कि जल्द ही उपचुनाव होंगे तथा इनेलो की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि 11 जून को सिरसा बंद करके जिले के लोगों ने अपना गुस्सा दिखाया था। वे बंद के लिए लोगों का धन्यवाद करने तथा कांग्रेस की नाकामियों को बताने के लिए ही ग्रामीणों के बीच जा रहे हैं। गांव साहुवाला में राकेश चाहर व रविंद्र चाहर के आवास पर उन्होंने जलपान किया। उन्होंने आज गांव केलनियां, रामनगरिया, सलारपुर, खाजाखेड़ा, कंगनपुर, बाजेकां, अलीमोहम्द, चांडीवाल, साहूवाला-2, ताजियाखेड़ा, शेरापुरा, कैरांवाली, नारायणखेड़ा, गदली, डिंग, मोचीवाली, कुक्कड़थाना, जोधकां, कुसुम्बी, कंवरपुरा, फूलकां सहित अन्य गांवों का दौरा किया। उनके साथ इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन, अमीर चावला, डॉ. सीताराम, कृष्ण कंबोज, जिला प्रेस प्रवक्ता कृष्ण गुंबर, जसबीर सिंह जस्सा, सुरेश कुक्कू, बंसी सचदेवा, लीलाधर सैनी, कृष्णा फौगाट,विनोद बेनीवाल, सीताराम बटनवाला, महावी शर्मा, हरि सिंह भारी, मीनूदीन पहलवान, प्रदीप मेहता, मनोहर मेहता, कृष्ण मेहता, रमेश मेहता, बाजेकां की सरपंच भगवंती देवी, पूर्व सरपंच जगीर सिंह, जीत सिंह सहित अन्य मौजूद थे।
पुलिस ने नकली चांदी के आभूषण बेचने के आरोप में तीन औरतों को काबू किया
सिरसा। सीआईए सिरसा पुलिस ने नकली चांदी के आभूषण बेचने के आरोप में तीन औरतों को काबू किया है। आरोपियों को आज न्यायलय में पेश किया गया, जहां से उन्हे न्यायिक हिरासत में बोस्टल जेल हिसार भेज दिया गया। 
जानकारी देते हुए सीआईए सिरसा प्रभारी किशोरी लाल ने बताया कि टेलीफोन एक्सचैंज के सामने स्थित डाबर ज्वैलर्स पर तीन महिलाएं आई तथा दुकान संचालक कृष्ण कुमार से चांदी के आभूषण बेचने संबंध में बातचीत की। उन्होने बताया कि बातचीत के बाद सौदा तय होने के बाद दुकान संचालक ने जब चांदी के आभूषणों की जांच की तो आभूषणों को नकली पाया, जिस पर उसने इस बारे में पुलिस को सूचना दी। इस सूचना को पाकर सीआईए के सहायक उपनिरीक्षक रण सिंह पर आधारित पुलिस टीम ने मौके पर दबिश देकर तीनों महिलाओं को नकली चांदी के आभूषणों सहित काबू कर लिया। सीआईए प्रभारी ने बताया कि पकड़ी गई महिलाओं की पहचान शारदा पत्नी कमल निवासी मूड़ी, गुजरात , झींगू पत्नी कैलाश निवासी बाधवन गुजरात तथा माया पत्नी विनोद निवासी मूड़ी गुजरात के रूप में हुई है। उन्होने बताया कि आरोपियों के कब्जे से 2 किलो 700 ग्राम नकली चांदी के आभूषण बरामद हुए है। आरोपियों के खिलाफ शहर थाना में धोखाधड़ी का अभियोग दर्ज किया गया है। तीनों महिलाओं को आज मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी नरेश सिंघल की अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हे न्यायिक हिरासत में बोस्टल जेल हिसार भेजा गया है। 
सदर डबवाली पुलिस ने गश्त व चैकिंग के दौरान बीकर सिंह पुत्र गुरदिता निवासी गांव गटवाली पंजाब को 2 किलोग्राम चूरापोस्त के साथ अबूबशहर क्षेत्र से काबू किया गया। 
सदर सिरसा पुलिस ने दहेज प्रताडना के मामले में तीन लोगों के खिलाफ अभियोग दर्ज किया है। पुलिस को दर्ज करवाई शिकायत में सुनीता पुत्री दर्शन निवासी मौजदीन ने अपने पति कुलदीप, सास सीताबाई व ससुर मुख्तयार ङ्क्षसह निवासी नटार पर दहेज के लिए प्रताडित करने, मारपीट करने व जान से मारने की धमकी दी है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ भादंसं की धारा 498ए, 323 व 506 के तहत अभियोग दर्ज कर जांच का जिम्मा उपनिरीक्षक रमेश कुमार को सौंप दिया है। 
खण्ड कार्यालयों में मतगणना केन्द्र स्थापित किए जाऐगे
सिरसा, 17 जून।  पंचायत  उप चुनाव जून 2011 केअंतर्गत जिला परिषद् सिरसा के  खण्ड बड़ागुढा के वार्ड नं0 1 तथा पंचायत समिति रानियां के वार्ड न0 6 के मतों की गणना करने हेतू मत गणना केन्द्र स्थापित किए जाएगे।  यह जानकारी देते हुए अतिरिक्त उपायुक्त श्री डी के बेहरा ने कहा कि जिले एवं ऑल ओवर इंचार्ज पंचायत उप चुनाव जून 2011 को संबधित खण्ड कार्यालयों में मतगणना केन्द्र स्थापित किए जाऐगे। जिसकी गणना 20 जून को प्रात: 8 बजे आरम्भ की जायेगी। 
बिजली के बिल भरने कालांवाली जाते हैं किंगरावासी
ओढ़ां खंड के गांव किंगरे में शुक्रवार को बीआरजीएफ के तहत करवाए गए कार्यों का लेखा जोखा प्रस्तुत करने और आगामी बजट के बारे में विचार विमर्श करने के उद्देश्य से गांव की सरपंच हरप्रीत कौर की अध्यक्षता में ग्राम सभा की बैठक का आयोजन किया गया। गांव में स्थित राजकीय माध्यमिक विद्यालय में आयोजित इस बैठक में गांववासियों ने उन्हें दरपेश जिन समस्याओं का उल्लेख किया। गांववासियों ने कहा कि उनके गांव में उपस्वास्थ्य केंद्र न होने के कारण उन्हें ओढ़ां या चोरमार जाना पड़ता है इसलिए गांव में उपस्वास्थ्य केंद्र खोला जाए। गांव में सांझे कार्यों के लिए कम्यूनिटी हाल बनाया जाना चाहिए, स्कूल में कमरों की कमी है अत: और कमरे बनाए जाने चाहिए। खाल पक्के न होने के कारण खेतों तक पर्याप्त पानी नहीं पहुंचता इसलिए खालों को पक्का किया जाना चाहिए तथा बिजली के बिल भरने हेतु गांववासियों को कालांवाली जाना पड़ता है इसलिए बिजली के बिल भरवाने की व्यवस्था गांव में ही की जानी चाहिए। इस प्रकार इस बैठक में उक्त कार्यों को करने से संबंधित प्रस्ताव पारित किए गए। इस बैठक में सहायक अमरीक सिंह, कृषि विकास अधिकारी सुभाष गोदारा, पशु अस्पताल के डाक्टर सुखविंद्र सिंह चौहान, नंबरदार मिठू सिंह और जगराज सिंह, पंच बीरा सिंह,सुरजीत कौर, जसवंत कौर, परमजीत सिंह, अजायब सिंह और सुरजीत सिंह सहित अनेक गांववासी उपस्थित थे।
हिसार डिवीजन के कमिशनर एम.पी बांसल ने मनरेगा के तहत चल रहे कार्य का औचक निरीक्षण किया
ओढ़ां खंड के गांव मलिकपुरा में मनरेगा के तहत चल रहे कार्य का गुरुवार को हिसार डिवीजन के कमिशनर एम.पी बांसल व अतिरिक्त उपायुक्त सिरसा ने औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने काम कर रहे मजदूरों से उनके वेतन के बारे में पूछा और मनरेगा के तहत दी जा रही सुविधाओं पीने के पानी, दवाओं और छाया के प्रबंध आदि का जायजा लिया। इस मौके पर सरपंच इकबाल सिंह ने बताया कि उनके गांव में जलघर के निकट दो एकड़ पंचायती भूमि उबड़ खाबड़ थी और उसमें झाडिय़ां उगी हुई थी, उस भूमि को मनरेगा के तहत समतल करके वहां पर बाग लगाने का निर्णय लिया है ताकि ग्राम पंचायत की आमदनी में इजाफा हो सके। खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी ओढ़ां बलराज सिंह ने बताया कि इस भूमि को समतल करने हेतु इस पर 4 लाख 83 हजार एक सौ रुपए की लागत आएगी। इस मौके पर कमिशनर एम.पी बांसल ने मजदूरों का हाजिरी रजिस्टर चैक किया जिसके अनुसार वहां पर 74 मजदूर कार्य कर रहे थे जिनमें 48 महिलाएं और 26 पुरुष शामिल थे। इस मौके पर गांववासियों ने बताया कि जलघर में पीने के पानी हेतु एक वाटर टैंक है जो कि पर्याप्त नहीं है। इस पर कमिशनर ने अतिरिक्त उपायुक्त को मनरेगा के तहत एक और वाटर टैंक बनाने के आदेश दिए। इस अवसर पर एडीसी डी.के बेहरा, ए.पी.ओ चरणजीत सिंह सिद्धू, बी.डी.पी.ओ ओढ़ां बलराज सिंह, ए.बी.पी.ओ सुनील कंबोज, एस.ई.पी.ओ ओढ़ां भूप सिंह और सरपंच इकबाल सिंह सहित अनेक कर्मचारी उपस्थित थे।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: