>प्रादेशिक समाचार-14.06.2011

15 जून

>

आकाशवाणी चण्डीगढ़
मुख्य समाचार:-
ऽ जापान के सहयोग से झज्जर और मानेसर में दो ईको सिटी की स्थापना की जाएंगी।
ऽ हरियाणा को ग्रामीण विकास क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने के लिए प्रथम पुरस्कार मिला है।
ऽ औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में अधिक से अधिक दाखिला सुनिश्चित करने के लिए समितियां गठित की
जायेगी।
ऽ रक्त संकलन के क्षेत्र में जिला सिरसा का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज किया गया।
हरियाणा के झज्जर एवं मानेसर शहरों में जापान सरकार के सहयोग से दो ईको सिटी स्थापित की जाएंगी।
उद्योग मंत्री श्री रणदीप सिंह सुरजेवाला ने आज यहां जापान के दो शिष्टिमंडलों से भेंट करने के उपरान्त यह
जानकारी दी।
ईको सिटी के प्रस्ताव पर वैचारिक सहमति व्यक्त कते हुए उद्योग मंत्री ने कहा कि इन शहरो का मॉडल इस
प्रकार तैयार किया जाना चाहिए जहंा उपलब्ध करवाई जाने वाली विभिन्न सुविधाओं एवं सेवाओं की दरें चालू
बाजार मूल्य के अनुरूप हों ताकि लोग उन्हें अपना सके।
उद्योग मंत्री के समक्ष प्रस्तुत किये गये व्यवहार्यता अध्ययन में जापान शिष्टमंडल के द्वारा जल, जलपुनर्भरण,
बिजली, ठोस कचरा प्रबंधन तथा ढुलाई के क्षेत्रों को भी शामिल किया गया। यह परियोजना जापान के आर्थिक
व्यापार एवं उद्योग मंत्रालय द्वारा वित्त पोषित है।
जापान की कम्पनी तोशोबा ने उन्हें बताया कि मानेसर बावल निवेश क्षेत्र में विकसित की जाने वाली पायलट
परियोजना का अन्य क्षेत्रों में भी विस्तार एवं क्रियान्वयन किया जाएगा। जिसमें बिजली संबंधित बिजली आपूर्ति
प्रणाली के प्रभावी संचालन के सुझाव प्रस्तावित है।

मनरेगा योजना को सफलतापूर्वक लागू करने के परिणामस्वरूप प्रदेश को ग्रामीण विकास के क्षेत्र में देश का प्रथम
पुरस्कार मिला है। इस पुरस्कार में 50 लाख रूपये प्रदेश को मिले है।
उपायुक्त अशोक कुमार बिश्नोई ने केंद्रीय योजना आयोग और निर्माण उद्योग विकास परिषद के सयुक्त तत्वाधान
में करनाल में आयोजित एक सात दिवसीय जिला स्तरीय कार्यशाला का उद्घाटन करने के बाद समारोह को
संबोधित करते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद देश ने सभी क्षेत्रों में बड़ी तेजी से
विकास किया है लेकिन बढ़ती जनसंख्या और बढ़ते मशीनीकरण ने वर्तमान दौर में बेरोजगारी को भी बड़ी तेजी
से बढ़ाया है। ऐसे में लोगों को उनके गांवों में ही रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए ही सरकार ने मनरेगा योजना
लागू की है।
उन्होंने बताया कि मनरेगा के तहत ऐसे पक्के कार्य भी करवाये जा सकते है जिनमें 60 प्रतिशत मजदूरी तथा 40
प्रतिशत अन्य सामाग्रिया लगती है। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत पेड़ लगाने, सड़को पर मिट्टी डलवाने
तथा सिंचाई की नालियां बनवाने जैसे कार्य करवाये जा सकते है।

राज्य के विभिन्न औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में चालू शिक्षा सत्र में अधिक से अधिक दाखिला सुनिश्चित करने
के उद्देश्य से समितियॉ गठित की जाएंगी।
शिक्षा मंत्री गीता भुक्कल ने बताया कि समितियां 21 जून से पहले गठित कर ली जाएंगी। ऐसे संस्थानों में 20
प्रतिशत सीटों पर दाखिला संस्थान प्रबंधन समति अपने स्तर पर करेगी। जिला स्तर पर संबंधित संस्थानों के
प्रचार्य समति के अध्यक्ष होंगे जबकि उप प्रधानाचार्य और प्रशिक्षण संस्थानों के दो वरिष्ठ प्राचार्य सदस्य सचिव
होंगे। महिला औद्योगिक संस्थानों में दाखिला के लिए संबंधित संस्थान की प्रधानाचार्य समिति की अध्यक्ष होगी।

रक्त दान के मामले में हरियाणा के सिरसा जिले की पहचान विश्व स्तर पर बन चुकी है। जिले का नाम सबसे
अधिक रक्त संग्रहण के लिए लिम्का बूक ऑफ रिकॉर्ड में शामिल हो चुका है।
उपायुक्त युद्धवीर सिंह ख्यालिया ने बताया कि जिले में अब तक लाखो यूनिट रक्त एकत्रित किया जा चुका है
जिसके कारण से सिरसा को पूरे शिव में सिटी ऑफ ब्लड डॉनर के नाम से भी जाना जाता है।
उन्होंने बताया कि सिरसा जिला में प्रति वर्ष 17 हजार रक्त युनिटो कि मांग रहती है जबकि जिले के रक्त दाता
इससे कई अधिक 80 हजार से भी अधिक यूनिट रक्त दान करते है जो एक विश्व कीर्तिमान है।

करनाल में आई टी आई चौंक के पास एक वाहन के रिक्शा से टकराने से एक महिला और उसकी दो साल की
बच्ची की मौके पर ही मौत हो गई जबकि 3 अन्य घायल हो गए। घायलों में दो अन्य बच्चे और मृतका का पति
भी शामिल है।
घायलों को करनाल के ट्रामा सेंटर में भर्ती किया गया है। टक्कर मारने वाले वाहन का कोई पता नहीं चला है।

सिक्ख रेजीमेन्ट सेंटर रामगढ़ झारखड़ में इस महीने की 24 तारीख से इस रेजीमेन्ट के पूर्व सैनिकों के लिए
पुनभर्ती रैली आयोजित की जा रही है। इसके लिए इच्छुक उम्मीदवारों को 23 जून को ही उपस्थित हो पड़ेगा।
उम्मीदवारों की उम्र 45 वर्ष से कम होनी चाहिए और उनके सेवा से विमुक्त हुए करीब 5 वर्ष हुए होने चाहिए।
शारीरिक तौर पर उम्मीदवार को तंदरूस्त एवं उसका चरित्र उत्तम होना चाहिए।

महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय रोहतक ने 26 जून को होने वाली यू जी सी नेट परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र और रोल
नंबर जारी कर दिए है।
विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक व परीक्षा के समन्वयक डा बी एस संधू ने कहा कि अगर किसी उम्मीदवार को 20
जून तक अडमिट कार्ड व रोल नंबर नही मिलते है तो वह वेबसाइट से डाउन लौड किए गए अडमिट कार्ड की
प्रति के साथ 21 से 24 जून तक सहायक रजिस्ट्रार से सम्पर्क कर सकता है।

सरकार द्वारा जल संरक्षण को बढ़ावा देने तथा गिरते भू जल स्तर को रोकने की दिशा में व्यापक कदम डठाते
हुए किसानों को टपका व फव्वारा सिंचाई प्रणाली अपनाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।
एक सरकारी प्रवक्ता ने आज वंडीगढ़ में बताया कि फव्वारा सिंचाई अपनने वाले किसानों को लागत का 50
प्रतिशत अधिकतम 7500 रूपए प्रति हैक्टेयर के हिसाब से अनुदान दिया जाता है।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: