>local news सिरसा समाचार

14 जून

>

विश्व रक्त दान दिवस पर विशेष 
जिले का नाम सबसे अधिक रक्त कलैक्श्न के लिए लिम्का बूक ऑफ रिकॉड में शमिल हो चुका है
सिरसा,14 मई।  रक्तदान के मामले में सिरसा जिले कि पहचान विश्व स्तर पर बन चुकी है जिले का नाम सबसे अधिक रक्त कलैक्श्न के लिए लिम्का बूक ऑफ रिकॉड में शमिल हो चुका है।  जिले में अब तक लाखो युनिट  रक्त एकत्रित किया जा चुका है।  जिस कारण से सिरसा को पूरे विश्व में  सिटी ऑफ ब्लड डॉनर के नाम से जाना जाने लगा है पिछले एकवर्ष से जिला में औसतन प्रतिदिन एक से भी अधिक रक्त दान शिविरों को आयोजन किया जा रहा है जिला मेें गत एक वर्ष के दौरान 545 से भी अधिक रक्त दान शिविरों का आयोजन किया गया है जिनमें 81 हजार से भी अधिक रक्त युनिटों का संचय किया जा चुका है। 
आज विश्व रक्त दान दिवस के अवसर पर जिला में 8 विभिन्न जगहों पर रक्त दान शिविरों का आयोजन किया गया है जिनमें  1556 से भी अधिक युनिट रक्त एकत्रित किया गया है। रानियां120 , ऐलनाबाद300,  कालुंआना400, डबवालीमें 350, कालावाली103, आई टी आई सिरसा83,खैेरेका50,ं तथा लुुदेसर गांव में 150 रक्त युनिट एकत्रित की गई।  आज रक्त दान शिविरों में रक्तदान करने वाले अधिकतर छात्र व छात्राऐं थी ।आई टी आई सिरसा लुदेसर गांव में उपायुक्त की धर्मपत्नी डा0 किरण ख्यालिया ने तथा बाकी सभी जगहो पर आयोजित रक्त दान शिविरों में उपायुक्त डा0युद्धबीर सिंह ख्यालिया ने रक्त दाताओं का स्वयं जाकर उत्साह वर्धन किया और युवाओं को रक्त दान करने की प्ररेणा दी।। 
उपायुक्त ने बताया कि  सिरसा जिला में रक्त दान के क्षेत्र में  कई संस्थाएं उल्लेखनीय कार्य कर रही है जिनमें इंडियन सोसाईटी आफ ब्लड ट्रांसफ्युज़न इम्यूनोहीमोटोलोजी, शिवशक्ति ब्लड बैंक जिला रैड क्रास सोसाइटी के इलावा अन्य संस्थाए भी कार्य कर रही है उन्होंने बताया कि इंडियन सोसाईटी आफ ब्लड ट्रांसफ्युज़न इम्यूनोहीमोटोलोजी इस क्षेत्र में रक्त दान शिविर आयोजन करने के साथ साथ रक्त दान से प्रेरित करने के लिए सैमीनार और गोेिष्ठयों का भी आयोजन कर रही है जिनमें ज्यादा सा ज्यादा रक्त दाताओ ंको जोडऩे का कार्य किया जा रहा है। इंडियन सोसाईटी आफ ब्लड ट्रांसफ्युज़न इम्यूनोहीमोटोलोजी  जो राष्ट्रीय स्तर पर  स्वयंसेवी संगठन के रूप में 1973 से कार्य कर रही है। गत दो वर्षे से इस सोसाइटी के चैयर मैन सिरसा के उपायुक्त डा युद्धबीर सिंह ख्यालिया है।  जिन्होंने जिला में प्रतिदिन औसतन एक रक्त दान शिविर आयोजित करने का लक्ष्य रखा है उनकी प्ररेणा से विभिन्न संस्थाए प्रतिदिन एक से भी अधिक शिविरों का आयोजन कर रही है।
उन्होंने बताया कि सिरसा में रक्त दान को लेकर दो वैब साइट बरेवोब्लडडॉनरडॉट ओआरजी, आईएसबीटीआई डॉट ओआरजी तैयार की गई है  इस वैबसाइट पर एक लाख 23 हजार 5 सौ 24 स्वैच्छिक रक्त दाताओं के नामों की सूचि पूरे विवरण के साथ डाली गई है। जिनमें इतने पुरूष 80 प्रतिशत और इतनी महिला 20 प्रतिशत शमिल है। उन्होंने बताया सिरसा जिला में प्रति वर्ष 17 हजार रक्त युनिटों कि मांग रहती है जबकि जिला के रक्त दाता इससे  उपर उठ कर 80 हजार से भी अधिक युनिट रक्त दान करते है जो एक विश्व कीर्तिमान है । उन्होंने कहा कि  सिरसा जिला अपने जिले की रक्त  आवश्यकता की पुर्ति के साथ साथ दिल्ली राजस्थान चंडीगढ़ पंजाब व अन्य स्थानों की आवश्यकता को भी पूरा करता है यहां से एकत्रित किया गया रक्त पीजीआई चंडीगढ़ व रोहतक, सवाई मान सिंह होस्पीटल जयपुर, राजेन्द्रा होस्पीटल पटियाला, अखिल भारतीय मैडिकल आयुर्विज्ञान संस्थान दिल्ली आदि व आस पास के कई बड़े बड़े अस्पतालों में  रोगियों की रक्त सम्बंधी मांग को पूरा करता है । उन्होंने बताया कि  कोई भी जरूरतमंद रोगी कही पर भी अपनी सिरसा की पहचान बता कर  आवश्यकता पडऩे पर बिना रक्त दिए  रक्त ले सकता है।  इसके साथ साथ विश्व में कोई भी जरूरत मंद व्यक्ति उपरोक्त वेबसाइट खोल कर स्वैच्छिक रक्त दाता सूची में शामिल नाम वाले व्यक्ति से रक्त के लिए सम्पर्क कर सकता है और स्वैच्छिक रक्त दाता तुरंत रक्त दान करने के लिए आगे आएगा। इन्ही उपलब्धियों के कारण 8 मई को विश्व रैड क्रास दिवस के अवसर पर करनाल में सिरसा जिला को प्रथम स्थान के रुप में सम्मानित किया गया  रक्त दान के मामले मेें इस प्रकार से  सिरसा जिला ने रक्त दान के क्षेत्र में पहचान बना ली है जिसकी बदौलत जिला को सिटी ऑफ ब्लड डोनर कहा जाने लगा।
24 घंटे बिजली आपूर्ति सम्बन्धी शिकायतों की सुनवाई के लिए कॉल सैंटर की स्थापना की गई
सिरसा 14 मई ।  दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम ने सभी ग्रामीण व शहरी बिजली उपभोक्ताओं की  प्रत्येक दिन 24 घंटे बिजली आपूर्ति सम्बन्धी शिकायतों की सुनवाई के लिए कॉल सैंटर की स्थापना की गई है। जिसके तहत सभी ग्रामीण व घरेलू उपभोक्ता एकल बिन्दु के माध्यम से टोल फ्री टेलिफोन नम्बर. 18001801615 पर बिजली नहीं होने की शिकायतें दर्ज करवा सकते हैं।
यह जानकारी देते हुए उपायुक्त डा0 युद्धबीर सिंह ख्यालिया ने बताया कि उक्त टेलीफोन नम्बर के डायल करने पर शिष्ट व सौम्य आवाज में बिजली कटौती के कारण के बारे में बताया जाएगा कि यह लोड शैडिग या ब्रेक डाऊन के कारण बंद है तथा बिजली चालू होने के समय के बारे में बताया जाएगा। स्थानीय फाल्ट के कारण शिकायत कम्पयूटर में दर्ज की जाएगी। सम्बन्धित शिकायत केन्द्र या फीडर से शिकायत ठीक करने के बारे में कहा जाएगा। बिजली चालू होने के उपरांत ऑपे्रटर द्वारा टेलिफोन कर शिकायतकत्र्ता की संतुष्टि के बारे में पूछा जाएगा।
डा0 ख्यालिया ने बताया कि विभाग द्वारा संचालित काल सैंटर पर विभिन्न चैनल के माध्यम से शिकायतें सुनी जाएगी। तत्पश्चात शिकायत को समय पर समाधान के लिए सम्बन्धित अधिकारी व टीम को भेजी जाएगी तथा शिकायत दूर होने तक उस पर निगरानी रखी जाएगी। कॉल सैंटर तथा उपभोक्ता के बीच परस्पर वॉयस, ई-मेल, वैबचैट, फैक्स तथा एस.एम.एस. के माध्यम से पारस्परिक क्रिया होगी। कॉल सैंटर में इंटलिजैंट जवाब कॉल पंक्ति इंटलिजैंट कॉल चर्चा, प्रभावित वॉयस क्रिया तथा सैल्फ सर्विस विश्वसनीयता होगी । दिए गए समय पर उपभोक्ता की शिकायत के समाधान के लिए कॉल सैंटर क्षेत्र में तैनात फाल्ट संशोधन टीम से जुड़ा रहेगा।
उपायुक्त ने बताया कि इस कॉल सैंटर के शुरू होने से उपभोक्ताओं की ‘नो पावर’ शिकायत सम्बन्धी सेवाओं में अपेक्षाकृत और सुधार होगा। आगे और दक्षता के लिए कॉल सैंटर पर दूसरी सेवाएं भी शुरू करने की योजनाएं बनाई जाएगी। बिजली उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए सभी जिला मुख्यालयों पर बिजली सुविधा केन्द्रों के माध्यम से भी बिजली आपूर्ति सम्बन्धी शिकायतों की सुनवाई यथावत जारी रहेगी। उन्होंने बताया कि दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम द्वारा शुरू की गई कम्पयूटर आधारित उपभोक्ता शिकायत निवारण प्रणाली उपभोक्ताओं में काफी लोकप्रिय हो रही है। गत तीन मास के दौरान निगम ने इस माध्यम से बिजली आपूर्ति, मीटर रीडिंग, मीटर में खराबी आदि से सम्बन्धित 410 शिकायतें मिली हैं जिसमें से 392 शिकायतों का समाधान किया जा चुका है। इस माध्यम से प्राप्त 75 प्रतिशत शिकायतें सम्बन्धित कर्मचारियों द्वारा तय समय सीमा में ठीक की जा रही हैं और केवल 25 प्रतिशत शिकायतें उच्च अधिकारियों तक पहुंचने पर निर्धारित अवधि में उनका समाधान किया जाता है।
चंडीगढ़ से आई श्रम विभाग की टीम ने छापा मारकर एक दर्जन से अधिक बाल श्रमिक पकड़े
सिरसा, 14 जून। चंडीगढ़ से आई श्रम विभाग की टीम ने आज सिरसा शहर में कई स्थानों पर छापा मारकर एक दर्जन से अधिक बाल श्रमिक पकड़े हैं।  यह जानकारी देते हुए सरकारी प्रवक्ता ने कहा कि सिरसा में टीम का नेतृत्व श्रम विभाग के अधिकारी  श्याम सुंदर शर्मा कर रहे थे। उनके साथ डिप्टी लेबर कमिश्रर चंडीगढ़ बलराज सिंह, सिरसा के लेबर ऑफिसर आरके अग्रवाल, चंडीगढ़ के लेबर इंस्पेक्टर रोशन लाल, सिरसा के लेबर इंस्पेक्टर धर्म सिंह गिल थे। टीम सबसे पहले परसुराम चौक स्थित जोशी भोजनालय पर पहुंची। यहां पर टीम को तीन बाल मजदूर काम करते हुए मिले। टीम सदस्यों ने तीनों के नाम नोट कर लिए। इसके बाद अन्य होटल व दुकानों पर पहुंचे। धर्म सिंह ने बताया कि हिसार रोड, रोड़ी बाजार सहित अन्य स्थानों पर अब तक एक दर्जन बाल श्रमिक मिल चुके हैं। इसके अलावा डिंग मोड पर भी तीन अलग-अलग मिठाई की दुकानों से तीन बाल श्रमिक मिले हैं।  उन्होंने बताया कि यह अभियान विश्व बाल श्रम उन्मूलन दिवस जो 12 जून को मनाया जाता है, के उपलक्ष्य में शुरू हुए पखवाड़े के तहत चल रहा है। यह अभियान 20 जून तक चलेगा। उन्होंने बताया कि विशेष पखवाड़े के अलावा भी जिले में समय-समय पर बाल श्रम रोकने के लिए छापे मारे जाते हैं। जिन दुकानों व प्रतिष्ठानों से बाल मजदूर मिले हैं, उन दुकानदारों को नोटिस जारी किया जाएगा और आगामी कार्रवाई की जाएगी। 
श्री गोपाल कांडा 15 जून को कबीर जयंती समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करेगे
सिरसा, 14 मई।  स्थानीय निकाय एवं गृह राज्य मंत्री श्री गोपाल कांडा 15 जून को प्रात: 9 बजे कबीरपंथ द्वारा आयोजित कबीर जयंती समारोह में  बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करेगे और जनता की समस्याएं भी सुनेंगे।  इस मौके पर विभिन्न विभागों के अधिकारी, सामाजिक संगठन के प्रतिनिधि सहित क्षेत्र के गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित होगे । यह जानकारी सरकारी प्रवक्ता ने  आज यहां दी।
गृह राज्यमंत्री गोपाल कांडा बुधवार 15 जून को सिरसा में प्रवास करेंगे
सिरसा। गृह राज्यमंत्री गोपाल कांडा बुधवार 15 जून को सिरसा में प्रवास करेंगे। इस दौरान वे कार्यकर्ताओं से मिलेंगे व सुबह सवा 9 बजे एडिशनल मंडी स्थित कबीर चौक पर संत कबीर की मूर्ति का अनावरण करेंगे तथा इस कार्यक्रम में कांग्रेस नेता सुरेन्द्र नेहरा भी विशेष रूप से शिरकत करेंगे। इसके पश्चात हिसार में राजगढ़ रोड स्थित कबीर छात्रावास  में आयोजित कबीर जयंती महोत्सव में बतौर मुख्यातिथि शिरकत करेंगे।   यह जानकारी हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधि गोबिंद कांडा ने दी। 
पूर्व की सरकार में जो कार्य नहीं हो पाए वह कांग्रेस राज में हो रहे हैं
सिरसा। कांग्रेस के राज में प्रदेश खुशहाल है शहरों के साथ ग्रामीणांचल में भी बिजली, पानी, पक्की सड़कों जैसी बुनियादी सहुलतें मिल रही हैं। पूर्व की सरकार में जो कार्य नहीं हो पाए वह कांग्रेस राज में हो रहे हैं। यह बात गत दिवस गांव नागौकी में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधि होशियारी लाल शर्मा ने ग्रामीणों से कही। इस दौरान गांव के सरपंच सोहन लाल ने अपने साथियों के साथ अकाली दल को त्यागकर कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा की। इस पर श्री शर्मा ने भी कहा कि कांग्रेस में उनको पूरा मान सम्मान दिया जाएगा। इस मौके पर श्री शर्मा के साथ पूर्व जिला उपाध्यक्ष मा. राजकुमार वर्मा, हरीश सोनी, युवा कांग्रेस मीडिया सैल के उपाध्यक्ष संजय शर्मा, भोला जैन, संत लाल गुंबर, तिलक चंदेल, बृजदान चारन भी मौजूद थे। 
श्री शर्मा के समक्ष ग्रामीणों ने गांव में बिजली घर के निर्माण कार्य को शुरू करवाने के साथ गांव में पानी की समस्या के बारे में भी जानकारी दी। ग्रामीणों को समस्यायों को निदान करवाने का आश्वासन देते हुए श्री शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री के विकास परक सोच के कारण के प्रदेश दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की कर रहा है। आज कोई भी गांव विकास के मामले में पिछड़ा नही रहा। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता का विश्वास हर रोज मुख्यमंत्री के प्रति मजबूत हो रहा है तथा प्रदेश में विपक्ष का नाम लेने वाला भी नहीं रहा। उन्होंने सभी से कांग्रेस से ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोडऩे का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि लगातार साढ़े छ: साल से प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है जिसने प्रदेश को तरक्की की नई बुलंदियों तक पहुंचाया है । इस मौके पर मी_ू राम पूनिया, नसीब सिंह, स. छोटा सिंह, बसंत सिंह पंच, बसंत सिंह, गुरबक्श सिंह, बंता सिंह, कृष्ण कुमार, सतपाल, रूपराम, लेखराम, प्रेम कुमार, आत्मा राम, सुशील कुमार, नरेश कुमार, हरफूल, राजेंद्र कुमार सहित अनेक ग्रामीण मौजूद थे।
बी.सी.ए प्रथम समैस्टर की छह छात्राओं ने मैरिट प्राप्त की
ओढ़ां
माता हरकी देवी महिला महाविद्यालय ओढ़ां के बी.सी.ए प्रथम व तृतीय समैस्टर तथा बी.कॉम प्रथम व तृतीय समैस्टर के परीक्षा परिणाम आ चुके हैं। यह जानकारी देते हुए कार्यकारी प्राचार्या डॉ. अनीता छाबड़ा ने बताया उक्त तीनों कक्षाओं का परीक्षा परिणाम शत प्रतिशत रहा है।
उन्होंने बताया कि बी.सी.ए प्रथम समैस्टर की छह छात्राओं ने मैरिट प्राप्त की है जिनमें से प्रीतजोत कौर ने 81.8 प्रतिशत अंक लेकर महाविद्यालय में प्रथम, इशाली गर्ग ने 79 प्रतिशत अंक लेकर द्वितीय एवं पायल गर्ग ने 78 प्रतिशत अंकों के साथ तृतीय स्थान प्राप्त किया है। प्राचार्या ने बताया कि बी.सी.ए तृतीय समैस्टर की सभी छात्राओं ने प्रथम श्रेणी प्राप्त कर कॉलेज का नाम ऊंचा किया है जिनमें से रिंपी अरोड़ा ने 76.25 प्रतिशत अंकों के साथ प्रथम, मीनू गर्ग ने 73.25 प्रतिशत अंकों के साथ द्वितीय और नेहा मोंगा ने 70 प्रतिशत अंकों के साथ तृतीय स्थान प्राप्त किया। इसी प्रकार बी.कॉम प्रथम समैस्टर में सोनम मेहता ने 76.16 प्रतिशत अंकों के साथ प्रथम, कृष्णा देवी ने 74.16 अंकों के साथ द्वितीय और अंजना ने 70 प्रतिशत अंकों के साथ तृतीय स्थान प्राप्त किया। बी.कॉम द्वितीय वर्ष तृतीय समैस्टर में गगनप्रीत कौर ने 403 अंकों के साथ प्रथम, मंजूबाला ने 382 अंकोंके साथ द्वितीय और मंजूबाला ने 374 अंकों के साथ तृतीय स्थान प्राप्त किया।
प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर रही छात्राओं ने इस सफलता का श्रेय माता पिता के आशीर्वाद, कड़ी मेहनत, दृढ़ निश्चय एवं कॉलेज द्वारा उपलब्ध सुविधाओं को दिया। उन्होंने बताया कि प्राध्यापिकाओं गार्गी सेठी, स्वर्णा बजाज, नीरू कोचर, कंचन जैन, सुमन पाहूजा और चंचल सेतिया द्वारा उन्हें कड़ी मेहनत करवाई गई जिसकी बदौलत वे इस मुकाम पर पहुंची। संस्था के अध्यक्ष हरदयाल सिंह गदराना व कोषाध्यक्ष मंदर सिंह ने छात्राओं को भविष्य में भी इसी प्रकार सफलता पाने का आशीर्वाद एवं बधाई देते हुए कहा कि छात्राओं ने प्रमाणित कर दिया है कि यदि मन में दृढ़ निश्चय हो तो किसी भी मुकाम को पाना असंभव नहीं है।
रक्तदाता दिवस पर रक्तदान शिविर आयोजित
बिज्जूवाली, 14 जून ( हेमराज बिरट )। विश्व रक्तदाता दिवस के उपलक्ष्य में आज गांव कालुआना में जागृति युवा कल्ब व एसबीआई बैंक व समस्त गांववासियों के सहयोग तथा जिला रैडक्रॉस सोसायटी सिरसा द्वारा गांव कालुआना  रक्तदान केम्प का आयोजन करवाया गया। समाचार लिखे जाने तक केम्प के कुल 200 यूनिट रक्त इक्कठा हो गया। इस केम्प का शुभांरभ उपायुक्त युद्धवीर सिंह ख्यालिया ने मुख्यातिथि के रूप में पहुंच कर किया, जबकि इस केम्प की अध्यक्षता डबवाली के एसडीएम डा0 मुनीश नागपाल ने की। उपायुक्त ने रक्तदान के मौके पर उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि दुुुर्र्घटना में घायल होकर या गंभीर रूप से बीमार होने पर जिंदगी व मौत के बीच झूलने वाले लोगों को जब अचानक रक्त की जरूरत पड़ती है तो किसी इन्सान द्वारा दान दिया गया खून ही उस समय जान बचाने के काम में आता है। इन्सान के खून का एक-एक कतरा किसी दूसरे मनुष्य के लिए जीवनदायी साबित हो सकता है। रक्त जब मनुष्य के शरीर में दौड़कर स्पंदन करता है तो जीवन का एहसास होता है। जब किसी कारणवश रक्त की कमी हो जाती है तो स्पंदन मंद पड़ जाता है और जीवन की लौ टिमटिमाने लगती है, इसलिए रक्तदान निहायत ही जरूरी है ताकि आवश्यकता पडऩे पर किसी पीडि़त को पर्याप्त खून उपलब्ध हो सके। उन्होंने कहा कि बहुत से दानवीर सौ से अधिक बार रक्तदान करके बेशकीमती इन्सानी जान बचाने में अपना योगदान दे चुके हैं। वहीं उन्होंने कहा कि वे समय-समय पर गांवों में रक्तदान शिविर लगाकर ग्रामिणों को इस श्रेष्ठ दान के लिए प्रेरित करते रहते हैं, रक्तदान से बढ़कर कोई दान नहीं है, इसलिए इसे महादान कहा जाए तो कोई गलत नहीं होगा। इस मौके पर सरपंच जगदेव सहारण, जागृति युवा कल्ब के प्रधान जैकी सुथार, एसबीआई बैंक के मैनेजर सुनील कुमार, ओमप्रकाश, शिव कुमार शर्मा सहित अनेक आस-पास के गांवों के लोग मौजूद थे।
पुलिस समाचार
सिरसा। शहर डबवाली पुलिस ने बीती 11 जून की रात्रि को मंडी डबवाली के एक कंप्यूटर रिपेयर की दुकान में हुई चोरी की घटना की गुत्थी को सुलझा लिया है। पुलिस ने घटना के आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपी की पहचान धीरज पुत्र बाबूराम निवासी वार्ड 16 मंडी डबवाली के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर कंप्यूटर का सीपीयू बरामद कर लिया है। आरोपी को आज डबवाली अदालत में पेश कर रिमांड हासिल किया जाएगा, ताकि उसकी निशानेही पर चोरीशुदा अन्य सामान बरामद किया जा सके। इस संबंध में दुकानसंचालक राजपाल पुत्र चरणजीत निवासी दशमेश नगर मंडी किलियांवाली की शिकायत पर शहर थाना डबवाली में अभियोग दर्ज हुआ था। 
सदर डबवाली पुलिस ने रामचंद्र पुत्र मनफुल निवासी जंडवाला बिश्नोइयां को 8 बोतल शराब सहित उसी के गांव  से काबू किया। वहीं एक अन्य घटना में शहर डबवाली पुलिस ने गश्त व चैकिंग के दौरान बलवीर पुत्र जंगसिंह निवासी तुंगावाली पंजाब को 900ग्राम चूरापोस्त के साथ मंडी डबवाली से काबू किया।
सिरसा। शहर थाना सिरसा पुलिस ने बाईक चोर गिरोह के पकड़े गए चार सदस्यों से पूछताछ के दौरान मोटरसाइकिल चोरी की पांच वारदातों को सुलझा लिया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों की निशानदेही पर चोरीशुदा मोटरसाइकिल भी बरामद कर लिए है। चारों आरोपियों को कल मुख्य न्यायिक दंडाधिकारीश्री नरेश कुमार सिंघल की अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हे न्यायिक हिरासत में सिरसा जेल भेज दिया गया है। मामले की विस्तृत जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि सर्वप्रथम बीती 9 जून को शहर थाना के सहायक उपनिरीक्षक बच्चू सिंह पर आधारित पुलिस पार्टी ने गिरोह के तीन सदस्यों को चोरीशुदा मोटरसाइकिल के साथ गांव खैरेकां क्षेत्र से काबू किया था। पकड़े गए आरोपियों की पहचान राजेंद्र पुत्र रामकुमार निवासी चक्कां, विनोद पुत्र जगदीश निवासी बिरकांवाली राजस्थान व सीताराम पुत्र महेंद्र निवासी रामपुरा बिश्नोइयां के रूप में हुई थी। आरोपियों को अगले दिन सिरसा अदालत में पेश कर पूछताछ हेतू 3 दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया था, रिमांड अवधि के दौरान मोटरसाइकिल चोरी की चार और वारदातें सुलझाकर आरोपियों की निशानदेही पर चोरीशुदा मोटरसाइकिल गिरोह के सरगना राजेंद्र के गांव चक्कां से बरामद कर लिए गए है। आरोपियों से पूछताछ के दौरान उनके एक अन्य साथी रामपुरा बिश्नोइयां निवासी सतबीर पुत्र सपतपाल की भी पहचान हुई थी, जिसे भी गिरफ्तार कर लिया गया है। प्रवक्ता ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ के दौरान उनके दो अन्य साथियों की भी पहचान कर ली गई है। जिन्हे शीघ्र दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: