>local news, सिरसा समाचार

13 जून

>

ईंट भठों पर बाल श्रम निरोधक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया
ऐलनाबाद
। विश्व बाल श्रम निरोधक दिवस पर हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के दिशा-निर्देश व श्री अमरजीत सिंह सिविल जज ऐलनाबाद के नेतृत्व में आज क्षेत्र के विभिन्न ईंट भठों पर बाल श्रम निरोधक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में ऐलनाबाद क्षेत्र के विधिक सेवा प्राधिकरण के सदस्यों द्वारा ईंट भठों पर कार्य कर रही लेबर व उनके बच्चों के अधिकारों व उन्हें सरकार द्वारा प्राप्त सुविधाएं के बारे में विस्तार से समझाते हुए विशेषकर 14 वर्ष से कम आयु के बच्चों को स्वच्छ माहौल प्रदान करते हुए उन्हें शिक्षा ग्रहण करने के लिए नजदीक स्थित शिक्षण संस्थान में भेजने के लिए प्रेरित किया। इस मौके पर बोलते हुए विभिन्न अधिवक्ताओं ने अपने सम्बोधन में उपस्थित मजदूरों को बताया किसी भी दुकान, व्यवसायिक संस्थान, कार्यशाला, खेत, होटल, रेस्टोरेंट, ढाबा, नाटक शाला और अन्य आम जनता के मनोरंजन स्थानों पर बाल श्रम करवाना कानूनन अपराध है। दोषी पाए जाने वाले अभिभावक व मालिकों दोनो के खिलाफ सजा व जुर्माना दोनों का प्रावधान है। उन्होंने उपस्थित मजदूरों को समझातेे हुए कहा कि कई स्थान ऐसे हैं, जहां पर लेबर का कार्य करने वाले मजदूर दमा व अन्य बीमारियों के शिकार हो जाते हैं तथा उनका शारीरिक विकास रुक जाता है, इसलिए बच्चों के भविष्य की ओर देखते हुए उन्हें चाहिए कि वे अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा ग्रहण करवाये व उन्हें अच्छा माहौल दे ताकि उनका बच्चा बड़ा होकर एक स्वच्छ समाज के निर्माण में अपनी अहम भूमिका निभा सके । इन जागरूकता शिविरों को सफल बनाने के लिए एडवोकेट जगतार सिंह रंधावा, संदीप कामरा, दलजीत सिंह विर्क, पवन कुमार जिंदल, अविनाश सेठी, राजेन्द्र कुमार केहरवाला, लखविन्द्र सिंह थिंद, महेश कुमार यादव, उदय प्रताप सिद्धू, मोहन लाल गोयनका व सर्वजीत कौर हांडा का विशेष योगदान रहा। 
परियोजनाओं व सामाजिक संस्थाओं का उदघाटन व शिलान्यास करने पर आभार व्यक्त
सिरसा
। प्रदेश के मुख्यमंत्री चौ. भूपेंद्र सिंह हुड्डा द्वारा शनिवार को सिरसा जिले में करोड़ो रूपयों की परियोजनाओं व सामाजिक संस्थाओं का उदघाटन व शिलान्यास करने पर आभार व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधि होशियारी लाल शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री के विकास के कदम ऐसे ही बढ़ते रहें और प्रदेश दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की करे। यह बात श्री शर्मा ने आज जारी अपने व्यक्त में कही। मुख्यमंत्री द्वारा सिरसा आगमन पर श्री शर्मा हवाई अड्डा पहुंचे जहां उन्होंने मुख्यमंत्री हुड्डा का गर्मजोशी से स्वागत किया। उसके बाद श्री शर्मा मुख्यमंत्री के साथ गांव पंजुआना भी गए जहां पर श्री हु्ड्डा द्वारा नहरी पानी आधारित जलघर की आधारशिला रखी। गांव पंजुआना में एक विशाल जनसभा के दौरान श्री शर्मा ने मुख्यमंत्री को चांदी से निर्मित कदम का पेड़ स्मृति चिन्ह के रूप में भेंट किया। उसके बाद श्री शर्मा सिरसा में आयोजित कार्यक्रमों में भी मुख्यमंत्री के साथ रहे। मुख्यमंत्री के कार्यक्रमों में भारी तादाद में पंहुचने पर जिलावासियों को आभार व्यक्त करते हुए श्री शर्मा ने कहा कि सिरसा की जनता हमेशा विकास चाहती है और विकास करवाने वाले के साथ ही रहती है। मुख्यमंत्री ने जो सिरसा को दिया वह इससे पहले किसी भी मुख्यमंत्री ने नहीं दिया है। उन्होंने मुख्यमंत्री को बड़े दिलवाला व्यक्ति कहते हुए बताया कि अपनी विकासपरक छवि के कारण श्री हुड्डा प्रत्येक प्रदेशवासी के दिलों पर राज कर रहे हैं। श्री शर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री ने पशुओं के पौली क्लीनिक, राजकीय माडल संस्कृति स्कूल, अरोड़वंश धर्मशाला, अग्रवाल धर्मशाला, सरदूलगढ से ऐलनाबाद तक फोर लाईन सड़क का भी उदघाटन किया। इस दौरान पूर्व जिला उपाध्यक्ष मा. राजकुमार वर्मा, युवा कांग्रेस मीडिया सैल के उपाध्यक्ष संजय शर्मा, हरीश सोनी, भोला जैन, संत लाल गुंबर, तिलक चंदेल, बृजदान चारन, सुखेदव बाजीगर, युसूफ खान, वेद सैनी, कृष्ण सिंगला, डॉ. आजाद केलनिया, मदन लाल सहित अनेक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

कोई भी सभ्य समाज प्रेस की आजादी पर इस प्रकार के हमले को बर्दाश्त नहीं कर सकता
सिरसा
, 12 जून। अंग्रेजी दैनिक मिड-डे के वरिष्ठ पत्रकार ज्योति डे की हत्या की निंदा करते हुए हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के प्रदेशाध्यक्ष बलजीत सिंह ने कहा कि कोई भी सभ्य समाज प्रेस की आजादी पर इस प्रकार के हमले को बर्दाश्त नहीं कर सकता। बलजीत सिंह ने कहा कि इस कृत्य ने प्रेस की आजादी और वस्तुपरक रिपोर्टिंग को चुनौती दी है। यह घटना बिना दिमाग वाले व्यक्तियों के पागलपन का संकेत है जिसमें निर्दोष लोग मारे जाते हैं। कोई भी सभ्य समाज प्रेस की आजादी पर इस प्रकार के हमले को बर्दाश्त नहीं करेगा।
बलजीत सिंह ने कहा कि इस अपराध के पीछे जो भी है, उसे तुरंत गिरफ्तार किया जाए और सख्त से सख्त सजा दी जाए। उन्होंने महाराष्ट्र सरकार से यह सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कदम उठाने की मांग की कि वहां पत्रकारों को आजाद पत्रकारिता करने की पूरी सुरक्षा प्रदान की जाए। उन्होंने ज्योति डे को एक साहसी पत्रकार के रूप में याद किया जिन्होंने अंडरवर्ल्ड को बेनकाब करने का जिम्मा हाथ में लिया था।
उन्होंने कहा कि मिड-डे अखबार में विशेष खोजी दल के संपादक के रूप में और उससे पहले इंडियन एक्सप्रेस अखबार में उन्होंने कई धमकियों के बावजूद मुम्बई के आपराधिक माफिया को बेनकाब किया। उन्होंने कहा कि हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स की मांग है कि केन्द्र सरकार खुद हस्तक्षेप कर ज्योति डे के हत्यारों को जल्दी से जल्दी गिरफतार करवाए।

अपने समर्थकों को भी रखा हुड्डा ने याद

सिरसा, 12 जून (ब्यूरो): अपने सिरसा प्रवास दौरान मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने जहां करोड़ों रुपयों की परियोजना को लोकार्पण व शिलान्यास करके जिला में विकास को और गति प्रदान की, वहीं वे अपने नजदीकी दोस्तों व समर्थकों के यहां जलपान करने पहुंचकर अपने संबंधों को मजबूती प्रदान की। इसी कड़ी में मुख्यमंत्री हुड्डा हरियाणा कम्बोज सभा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष व वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रेम सिंह कम्बोज के निवास स्थान पर  पहुंचे। प्रेम सिंह कम्बोज ने मुख्यमंत्री का भावभीना स्वागत किया और उनके साथ आए सांसद अशोक तंवर गृहराज्य मंत्री गोपाल कांडा, मुख्य संसदीय सचिव प्रहलाद सिंह गिल्लाखेड़ा, पूर्व सांसद आत्मा सिंह गिल का भी स्वागत किया। इस मौके पर जिला कांग्रेस प्रधान मलकीयत सिंह खोसा, पूर्व विधायक भरत सिंह बैनीवाल, समाजसेवी राधाकृष्ण बांसल, सेठ गोपीचंद कम्बोज, केहर सिंह कोटली, गुरदेव सिंह, परमजीत सिंह रियाड़ व सोहनलाल पनिहारी सहित बड़ी संख्या में प्रमुख लोग उपस्थित थे। प्रेम सिंह कम्बोज से विचार सांझे करते हुए मुख्यमंत्री हुड्डा ने उनसे जहां घर परिवार का कुशल क्षेम पूछा वहीं क्षेत्र के राजनीतिक हालात बारे भी चर्चा की। उपस्थितजनों से रु-ब-रु होते हुए मुख्यमंत्री हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस आम आदमी की अपनी पार्टी है और कांग्रेस की नीतियां हमेशा लोक भलाई की रही है। उन्होंने कहा कि सभी लोग कांग्रेस पार्टी से जुड़े और प्रदेश के विकास को गति प्रदान करने में उन्हें सहयोग करें।
छबील लगाकर राहगीरों को शर्बत पिलाया
सिरसा।
निर्जला एकादशी के उपलक्ष्य में जाट धर्मशाला क्षेत्र के दुकानदारों ने छबील लगाकर राहगीरों को शर्बत पिलाया। इस अवसर पर ब्लाक कांग्रेस कमेटी सिरसा शहरी के अध्यक्ष भूपेश मेहता ने विशेष रूप से शिरकत की। श्री मेहता ने राहगीरों को शर्बत पिलाकर इस पुनित कार्य में सहयोग किया। इस अवसर पर श्री मेहता ने दुकानदारों के इस पुनित कार्य की प्रशंसा की, उन्हे शुभकामनाएं दी तथा सामाजिक कार्यों मे बढ़ चढ़कर भाग लेने का आह्वान किया। इस मौके पर उनके साथ अशोक उपाध्याय, प्रेम सैनी, रमेश गोयल, विनोद भाटिया, सुनील मेहता, सरपंच प्रतिनिधि जग्गी बाजेकां व अन्य उपस्थित थे।

रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया
सिरसा
। ब्लाक कांग्रेस कमेटी सिरसा शहरी के कार्यकर्ताओं द्वारा आज स्थानीय शिव शक्ति ब्लड बैंक में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें युवा कार्यकताओं ने बीते दिवस मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा द्वारा सिरसा जिला के विकास के लिए समर्पित की गई 200 करोड़ रूपए से अधिक की परियोजनाओं के लिए धन्यवाद स्वरूप रक्तदान किया।
ब्लाक कांग्रेस कमेटी सिरसा शहरी के प्रवक्ता एवं किसान खेत मजूदर कांग्रेस के प्रांतीय प्रवक्ता विनोद उपाध्याय के नेतृत्व में आयोजित रक्तदान शिविर की अध्यक्षता ब्लाक कांग्रेस कमेटी सिरसा शहरी के अध्यक्ष भूपेश मेहता ने की। इस अवसर पर अपने संबोधन में श्री मेहता ने कार्यकर्ताओं को रक्तदान जैसे पुनित कार्य के लिए बधाई दी तथा कहा कि मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व में व सिरसा के सांसद डा. अशोक तंवर के सतत प्रयासों से सिरसा जिला में करोड़ों रूपये की योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया गया है। श्री मेहता ने कहा कि ईमानदार मुख्यमंत्री भूपेंद्र ङ्क्षसह हुड्डा के पदचिन्हों पर चलते हुए शहरी कांग्रेस कार्यकर्ता रक्तदान जैसे पुनित कार्य में लगे हुए है।
इस अवसर पर ब्लाक कांग्रेस कमेटी सिरसा शहरी के प्रवक्ता विनोद उपाध्याय ने कहा कि मुख्यमंत्री का सिरसा दौरा जिला के विकास में नया अध्याय जोड़ गया है। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व में पिछले सात सालों में सिरसा जिला में 2000 करोड़ से अधिक की विकास परियोजनाएं लागू हुई है। श्री उपाध्याय ने कहा कि मुख्यमंत्री प्रदेश के सभी क्षेत्रों का समान विकास करने के लिए ईमानदारी से कार्य कर रहे है तथा जो लोग ऐसे ईमानदार व्यक्तित्व के धनी मुख्यमंत्री के आगमन का विरोध करते है वे सही अर्थों में प्रदेश के लोगों के शुभचिंतक नही हो सकते है। श्री उपाध्याय ने बताया कि आगामी माह में हरियाणा किसान खेत मजदूर कांग्रेस द्वारा जन चेतना यात्रा निकाली जाएगी, जिसे हरी झंडी दिखाने के लिए मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, सांसद दीपेंद्र हुड्डा व रणदीप सुरजेवाला को आमंत्रण दिया गया है। इस मौके पर उनके साथ औमप्रकाश एंथोनी, जग्गी बाजेकां, हंसराज बाजेकां, प्रेम सैनी, सुशील शर्मा, रमेश गोयल, धर्मपाल सलारपुर, विकास शर्मा, जयकुमार, अजीत बरासरी, राजकुमार, धीरा सिंह, प्रवीण सिंगला, सुशील मेहता, रणजीत भंंभूर, सोमनाथ, प्रेम सैनी, विनोद भाटिया, सुनील मेहता, सरपंच प्रतिनिधि जग्गी बाजेकां व अन्य उपस्थित थे।

भारतीय संस्कृति अनुसार अपने कार्यालय के समक्ष ठंडे पेयजल का आयोजन किया
सिरसा

    पवित्र पर्व एकादशी पर देशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कांग्रेस के प्रदेश संगठन सचिव नवीन केडिय़ा ने भारतीय संस्कृति अनुसार अपने कार्यालय के समक्ष ठंडे पेयजल का आयोजन किया। इस अवसर पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए श्री केडिय़ा ने कहा कि भारत देश में लगभग सभी धर्मो द्वारा इस पवित्र दिवस पर प्रसन्नता का इजहार करते हुए आपसी भाईचारे को संगठित बनाये रखने की दुआ की जाती है जो कि सदियों से चला आ रहा है। उन्होनें कहा कि भारत देश विश्व का एक मात्र ऐसा देश है जहां सभी धर्मो के लोग एकजुट होकर हर धार्मिक समारोह को हर्षोल्लास से मनाते हैं। इस अवसर पर  शुभम केडिय़ा, तिलोकी भूषण मेहता, संजीव डोडा, अजय गोयल, रघुवीर सांई, बलबीर जांगड़ा, हनुमान गुज्जर इत्यादि ने लोगों को शीतल पेयजल पिला कर देश में सुख शांति, समृद्धि और भाईचारा कायम रखने की ईश्वर से प्रार्थना की।

पनिहारी गांव में 39 ग्रामीण लोक अदालत का आयोजन किया गया
सिरसा
,12 जून।  जिला के पनिहारी गांव में 39 ग्रामीण लोक अदालत का आयोजन किया गया। लोक अदालत में अतिरिक्त मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी श्री मति सीमा सिंघल व मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारीश्री नरेश सिंघल विभिन्न प्रकार के मामलो की सुनवाई कर    84  मामलो का निपटारा किया गया । जबकि इस लोक अदालतों में 109 मामले रखे गए थे।    
    इस सम्बंध में विस्तृत जानकारी देते हुए जिला विधिक सेवाऐं प्राधिकरण के सचिव व मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी श्री नरेश कुमार सिंघल ने बताया कि इन लोक अदालतों में सिविल किस्म के 8 मामलों को निपटारा किया गया जबकि 22 मामले रखे गए थे।  । उन्होंने बताया कि वैवाहिक और घरेलू झगड़ों से सम्बधिंत लोक अदालतों में 5 मामलों की सुनवाई कि गई जिनमें से 2 मामलो का निपटारा किया गया। इंतकाल के 73 मामले रखे गए जिनमें सभी मामलो का निपटारा कर दिया गया।
    उन्होंने बताया कि  लोक अदालतों में 138 एन आई एक्ट से सम्बधित 1 मामले का मौके पर निपटारा किया गया।श्री सिंघल ने  बताया कि जिला में अब तक 356 लोक अदालतों का आयोजन किया गया है।  जिनमें 39 ग्रामीण लोकअदालते आयोजित की गई । उन्होंने कहा कि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के द्वारा निशुल्क कानूनी सहायता उपलब्ध करवाई जाती है और सलाह भी दी जाती है। कानूनी विशेषज्ञों द्वारा प्रत्येक व्यक्ति को उनके अधिकारों बारे जानकारी भी दी जाती है। उन्होंने कहा कि कानूनी जागरुकता शिविरों में 1600 से भी ज्यादा  व्यक्तियों को कानूनी सहायता उपलब्ध करवाई गई और उन्हें जागरुक किया गया। इसी कड़ी में कल पनिहारी गांव में कानूनी जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया था। जिसमें ग्रामीण क्षेत्र के लोगो को मनरेगा व अन्य कानूनों कि जानकारी दी गई।
    श्री सिंघल ने बताया  कि गरीब परिवार जिनकी सालाना आमदनी 75 हजार रुपए से कम है व अपंग या विकलांग है उन व्यक्तियों के वकीलों व अन्य प्रकार के खर्चो को भी कोर्ट द्वारा वहन किया जाता है। उन्होंने कहा कि अनूसूचित जाति से संबंध रखने वाले व्यक्ति का किसी सामान्य जाति के साथ संबंध रखने वाले व्यक्ति से मामला चल रहा है तो जिला कल्याण विभाग द्वारा उसे 500 रुपए की राशि भी सहायता के रुप में उपलब्ध करवाई जाती है।
    उन्होंने बताया कि लोक अदालतों से धन और समय की बचत होती ही है इससे आमजन को तुरन्त न्याय भी मिल जाता है इसलिए जिन लोगों के लम्बे समय से मामले विभिन्न कोर्टो में लम्बित पड़े हैं, वे लोक अदालतों के माध्यम से मामलों का निपटारा करवाएं। इस मौके पर ऐडोवेकेट श्री पवन कुमार बेरवाल, विक्रम चंद, श्री एस के कालड़ा, श्री मति बलबीर कौर गांधी, ममता बांगा, संदीप गर्ग तथा सिंगारा सिंह एडवोकेट उपस्थित थे।

दुकाने व प्रतिष्ठान मुख्यमंत्री के सामाजिक कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए बंद किए थे
सिरसा,
12 जून। हरियाणा के गृह एवं स्थानीय निकाय राज्य मंत्री श्री गोपाल कांडा ने कहा कि कल सिरसा के व्यापारियों व दुकानदारों ने अपनी दुकाने व प्रतिष्ठान किसी के कहने पर नही बल्कि मुख्यमंत्री के सामाजिक कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए बंद किए थे। शहर में आयोजित चार समाजो के कार्यक्रम सम्पन्न होते ही दुकानदारो ने अपनी दुकाने खोल ली और बाजार में आम दिनों की तरह चहल पहल रही।
    उन्होंने कहा कि गत दिवस शहर में अग्रवाल समाज, अरोड़वंश समाज, सिख समुदाय तथा गुज्जर समुदाय के विकास से जुड़े कार्यक्रम थे जिनमें सौ करोड़ से भी अधिक की भी लागत की पूरी होने वाली समाजिक परियोजनाऐं थी। मुख्यमंत्री दोपहर 12 बजे हवाई अड्डे पहुंचे और उसके बाद 200 करोड़ रूपए की सरकारी व सामाजिक परियोजनाओं  की सौगात जिलावासियों को दी। उन्होने कहा कि सामाजिक परियोजनाओं में सबसे पहले स्थानीय हिसार डबवाली रोड पर चौक स्थित 96 किलो मीटर लम्बे श्री गुरु गोबिंद सिंह मार्ग का उद्घाटन किया। सरकार द्वारा पंजाब में आनंदपुर साहिब से नांदेड़साहिब तक के मार्ग का नाम गुरु गोबिंद सिंह  जी के नाम पर रखा गया है। इस मार्ग का उद्घाटन सबसे पहले हरियाणा की धरती पर किया गया है। सिख समाज व हरियाणा के लोगो के लिए गौरव की बात है। उन्होंने बताया कि इस मार्ग को मजबूत और चौड़ा करने पर भविष्य में भी 30 करोड़ रूपए की राशि खर्च की जाएगी। उन्होंने कहा कि शहर के जितने भी सिख समुदाय से जुड़े दुकानदार ,व्यापारी और अन्य व्यवासायी है वे सभी इस उद्घाटन समारोह में उपस्थित थे।
    मंत्री श्री कांडा ने कहा कि कल शहर में मुख्यमंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह हुडडा ने अग्रवाल और अरोड़वंश समाज के सदनों की आधार शिला रखी और इस अवसर पर मुख्यमंत्री के सम्मान में ऐतिहासिक समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह में उक्त दोनो समाजो के हजारो लोगो ने भाग लिया जिसमें  शहर के व्यापारी ,दुकानदार व व्यावसायी शामिल थे यह कार्यक्रम साय: पांच बजे तक चला । इसके बाद मुख्यमंत्री के  सम्मान में गुज्जर समाज द्वारा भी सम्मान समारोह का आयोजन किया गया था क्योंकि अग्रवाल समाज  को धर्मशााला के लिए 2600 वर्ग गज जगह मिलने से गुज्जर समुदाय को भी स्वतंत्र रूप से धर्मशाला मिल गई । इसी खुशी में समाज के लोगे ने मुख्यमंत्री का सम्मान किया यह कार्यक्रम भी देर तक चला । इस समाज के लोग भी शहर में विभिन्न व्यवसायों  से जुड़े हुए है। जब जब भी ये सामाजिक कार्यक्रम सम्पन्न हुए लोगो ने  अपने अपने दुकाने व प्रतिष्ठान खोले।
    उन्होने दावा किया कि  कल सिरसा के व्यापारी केवल और केवल मुख्यमंत्री के सामाजिक कार्यक्रमों को सफल बनाने  और उनका सम्मान करने के कार्यक्रम में शामिल हुए । ज्यों ही कार्यक्रम सम्पन्न हुए सभी व्यापारी भाईयों ने अपनी दुकाने खोली और पूरे बाजार में आम दिनों की तरह गतिविधियां चलती रही।

सिंचाई विभाग के अधिकारी सुनिश्चित करें कि इस बार जिला में बाढ़ की पुनरावृती न हो
सिरसा
12 जून।  सिरसा के सांसद डा0 अशोक तंवर ने प्रशासनिक व सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे सुनिश्चित करें कि इस बार जिला में बाढ़ की पुनरावृती न हो। डा0 तंवर आज विभागीय अधिकारियों के साथ ओटू वीयर के साथ -साथ फिरोजाबाद व अन्य गांव का दौरा कर बाढ़ बचाव कार्यो का दौरा कर रहे थे उनके साथ सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता श्री एस एस हुडडा, जिला राजस्व अधिकारी श्री ओ पी वर्मा तथा जिला कांग्रेस प्रधान श्री मलकीत सिंह खोसा सहित अधिकारी व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे ।
    उन्होंने कहा कि अधिकारी आगामी निश्चित अवधि तक बाढ़ बचाव से सम्बधित सभी इंतजामों  को पुख्ता करें।  अधिकारी इंतजामों से सम्बधित किसी भी कार्यवाही को हल्के में न लें। उन्होंने कहा कि गत वर्ष जिला में घग्घर से आई बाढ़ की वजह से करोड़ों रूपए कि हानि हुई थी इस बार अधिकारी समय रहते  सभी कार्य पूरे करें । उन्होंने कहा कि जो भी कार्य सरकारी योजनाओं और जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहै है उनके इलावा वे भी अपने सांसद निधि कोष से बाढ़ बचाव कार्यो को लिए धनराशि प्रदान करेंगे। इन कार्यो के लिए किसी भी तरह से धन की कमी आड़े नहीं आएगी। जिला को बाढ़ से बचाने के लिए  बरसात शुरू होने से पहले-पहले विभिन्न स्थानों पर घग्घर और रंगोई नाले की सफाई करवाई जाए।
    उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि घग्घर नदी में जहां कहीं भी किसानों ने सिंचाई के लिए पाइपें दबाई हुई हैं उन पाइपों को विभागीय मापदंडों के अनुसार दबवाएं। उन्होंने कहा कि सिंचाई विभाग द्वारा पाइपों के लिए जो भी डिजाइन तैयार किया गया है उसके आधार पर ही किसान पाइप दबाएंगे। उन्होंने विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे गांव के लोगो से सम्पर्क साध कर पाईपों कि लिकेज़ को बन्द करवाए और पाईपों के आस पास दिवार बनवाऐ।
    श्री एस एस हुडडा अधीक्षण अभियंता  ने कहा कि ओटू वीयर से राजस्थान बॉर्डर तक घग्घर नहर की मुख्य धार को और चौड़ा किया जा रहा है।  और घग्घर नदी में बने बंधों को हटवाया जा रहा है।  लोगों का मानना था कि बंधों के कारण ही घग्घर नदी में विभिन्न जगहों पर गत वर्ष बाढ़ आई थी। उन्होंने कहा कि सफाई और बांध हटवाने तथा मुख्य धार को चौड़ा व गहरा करने का कार्य महात्मा गांधी राष्ट्र्रीय योजना के तहत किया जा रहा है ।
    उन्होंने कहा कि बाढ़ बचाव कार्यों के लिए नदी के साथ-साथ विभिन्न ड्रेनों की सफाई का कार्य मनरेगा के तहत किया गया है। सभी गांवों में घग्घर नदी के आसपास बने विभिन्न बांधों को मजबूत किया गया है। और नदी के क्षेत्र में खड़ी विभिन्न प्रकार की कांटेदार झाडिय़ों और दूसरे छोटे वृक्षों की भी सफाई की गई है।

श्रद्धापूर्वक मनाया गया मूर्ति स्थापना दिवस
ओढ़ां

    पुरानी अनाज मंडी स्थित श्रीदुर्गा मंदिर में सेवादारों द्वारा मूर्ति स्थापना दिवस श्रद्धापूर्वक मनाया गया। इस वार्षिक उत्सव को लेकर सुबह सबेरे ही श्रद्धालुओं का आवागमन शुरू हो गया था। सुबह साढ़े सात बजे शुभ मुहुर्त में महिला श्रद्धालुओं द्वारा मूर्ति स्नान की रस्म आरंभ की गई जिसके तहत दूध, दही, घी, शहद और गंगाजल से मूर्ति को स्नान करवाया और नए वस्त्र धारण करवाए गए। तदुपरांत मंदिर के पुजारी पंडित विष्णु भारद्वाज की देखरेख में पंडित राजेश शर्मा द्वारा मंत्रोच्चारण के साथ पूजन करवाया गया और फिर हवन यज्ञ आयोजित किया गया जिसमें सभी महिला पुरुष श्रद्धालुओं ने आहुति डाली। हवन यज्ञ सम्पन्न होने के बाद हलवा व छोले पूरी का भोग लगवाया गया तथा भंडारे का शुभारंभ किया गया जिसमें काफी संख्या में गांववासी महिला, पुरुष व बच्चों ने भाग लिया। भंडारे का कार्यक्रम बाद दोपहर तक जारी रहा तथा रात्रि को श्रीदुर्गा जागरण का आयोजन किया गया।
    जागरण में पंडित राजेश शर्मा एवं विष्णु भारद्वाज द्वारा विधिवत पूजा अर्चना के साथ ज्योति प्रचंड की गई और फिर भगवती भजन मंडल के प्रधान जसपाल तगड़ द्वारा सारे मिलके गणेश नूं मनाइए सारे कम रास औनगे… तथा ज्वाला जी भजन मंडल के प्रधान राजकुमार मेहरा द्वारा बालाजी थाहने कूहन सजाएओ जी म्हारो मनड़ो हर लीहनो थारी सूरत मतवारी… के साथ जागरण का शुभारंभ हुआ तथा श्री हनुमत सेवा समिति के अमर सिंह गोदारा, चुनी लाल सिहाग तथा भजन गायिका राधा सोनी आदि ने मां भगवती के सुंदर भजनो के साथ ऐसा समां बांधा कि श्रद्धालु पूरी रात झूमते व नाचते देखे गए। इसके अलावा तीनों भजन मंडलों के सदस्यों द्वारा अनेक सुंदर झांकियां भी निकाली गई जिन्हें सभी ने सराहा।
    इस अवसर पर पंडित धन्ना राम, जगदीश राय सिंगला, मदन लाल, सूरजभान सिंगला, रतन लाल जिंदल, रामपाल सिंगला, जसपाल तगड़, भोला गोयल, हरी राम गोयल, रमेश कांसल, रवि गोयल, वेद प्रकाश, रामलाल, सुखजीवन, सोमनाथ, भोला सिंह, बालकिशन, राजकुमार, सुभाष गर्ग, मोहित गर्ग, फकीर चंद गोयल, बिटू गर्ग, नीरज तिवारी, बीरू सिंह और हैप्पी गर्ग सहित काफी संख्या में सेवादार व श्रद्धालु स्त्री, पुरुष उपस्थित थे।

निर्जला एकादशी के अवसर लगाई अनेक छबीलें
ओढ़ां

    ज्येष्ठ मास की निर्जला एकादशी के अवसर पर ओढ़ां क्षेत्र के लगभग सभी गांवों में सामाजिक व धार्मिक संगठनों द्वारा जगह जगह पर छबीलें लगाकर लोगों को ठंडा मीठा जल व अन्य पेय पदार्थ पिलाए गए। गांव ओढ़ां, सालमखेड़ा, टप्पी, पिपली, मिठडी, पन्नीवाला मोटा, रिसालियाखेड़ा, रत्ताखेड़ा, राजपुरा बिज्जूवाली व बनवाला आदि के बस स्टेंडों पर निर्जला एकादशी के उपलक्ष्य में ओमप्रकाश, नानक राम, कृष्ण कुमार, अशोक कुमार, दिनेश कुमार, भूप सिंह, देवी लाल, मोहन लाल और विभिन्न संगठनों द्वारा ठंडा मीठा पानी पिलाया गया।
    निर्जला एकादशी के विषय में 70 वर्षीय पंडित नानूराम शर्मा से बात किए जाने पर उन्होंने बताया कि सर्वोत्तम दान दो प्रकार के बताए गए हैं, पहला अन्न व दूसरा जल। ज्येष्ठ मास की एकादशी को अन्न का दान निषिध है अत: इस दिन जल का दान किया जाता है। उन्होंने बताया कि इस दिन जल दान करने का विशेष महत्व है जिससे मनुष्य के पाप कट जाते हैं। उन्होंने बताया कि द्वादशी के समान कोई तिथि नहीं, गायत्री से बढ़कर मंत्र नहीं, तत्व ज्ञान से बढ़कर ज्ञान नहीं और अन्न व जल के जैसा कोई दान नहीं है।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: