>local news, सिरसा समाचार

11 जून

>


 
      मुख्यमंत्री चौ. भूपेंद्र सिंह हुड्डा का सिरसा दौरा
वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दौरान जहां प्रदेश में विकास की एक नई गाथा लिखी गई है, वहीं सामाजिक विकास के साथ-साथ प्रदेश में साम्प्रदायिक सद्भाव और सुदृढ़ हुआ है
सिरसा
, 11 जून : हरियाणा में वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दौरान जहां प्रदेश में विकास की एक नई गाथा लिखी गई है, वहीं सामाजिक विकास के साथ-साथ प्रदेश में साम्प्रदायिक सद्भाव और सुदृढ़ हुआ है।
    यह बात हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने आज सिरसा शहर में परशुराम चौक के निकट अग्रवाल सदन और अरोड़वंश सदन की आधारशिला रखने के पश्चात आयोजित सम्मान समारोह में सम्बोधित करते हुए कही। उन्होंने आज 200 करोड़ रुपए से भी अधिक की सरकारी व सामाजिक परियोजनाओं की आधारशिला व उद्घाटन किया। सामाजिक परियोजनाओं में उपरोक्त दोनो सदनों की आधारशिला के साथ, श्री बाबा तारा चैरिटेबल सुपर स्पेशलिटी अस्पताल की आधारशिला, 96 किलोमीटर लम्बे गुरू गोबिन्द सिंह मार्ग का उद्घाटन, श्रीमती रतनी देवी सदन का शिलान्यास शामिल हैं। सरकारी परियोजनाओं में 72 करोड़ 23 लाख रुपए की लागत से पंजुआना में बनने वाले जलघर की आधारशिला, कंगनपुर रोड़ पर 5.70 करोड़ रुपए की लागत से बने पॉलीक्लनिक का उद्घाटन, 3 करोड़ 39 लाख रुपए की लागत से बने राजकीय संस्कृति मॉडल स्कूल का उद्घाटन, 7 करोड़ 63 लाख रुपए की लागत से बनने वाली रानिया रोड़ की फोरलेन का शिलान्यास शामिल हैं।
    मुख्यमंत्री ने अपने सम्बोधन में कहा कि वर्तमान सरकार पूरे प्रदेश के विकास के लिए वचनबद्ध है। प्रदेश के सभी जिलों में समान रूप से विकास करवाया जा रहा है। सिरसा में करवाए गए विकास के आंकड़े प्रस्तुत करते हुए कहा कि उनकी सरकार के सवा छ साल के  कार्यकाल में विभिन्न क्षेत्रों मे विकास कार्यो पर 2446.94 करोड़ रुपए की राशि खर्च की गई जबकि पूर्ववर्ती विपक्षी सरकार के 6 वर्ष के कार्यकाल में केवल मात्र 799 करोड़ रुपए की राशि खर्च की गई है। उन्होंने कहा कि सिरसा जिला में वर्तमान समय में 1098 करोड़ रुपए के कार्य प्रगति पर हैं।
    उन्होंने कहा कि केन्द्र में यूपीए और हरियाणा में कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में सभी वर्गो के हित के साथ-साथ किसानों के हितों क े लिए विशेष योजनाएं क्रियान्वित की गई हैं। उन्होंने कहा कि किसानों के हितों को देखते हुए ऋण राशि से ब्याज की दर 11 प्रतिशत से घटाकर चार प्रतिशत की गई और प्रदेश से उस काले कानून को हटाया गया जिसमें ऋणी किसानों को पकड़ कर जेलों मे ठूस दिया जाता था। इतना ही नहीं किसानों की जीनस के भाव में रिकार्ड वृद्धि की गई। उनकी सरकार के कार्यकाल में जीरी के भाव में 550 रुपए प्रति क्विंटल की वृद्धि की गई। उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग को भी इस सरकार ने विभिन्न प्रकार की रियायतें दी हैं।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार प्रदेश में जनसेवा की भावना और सामाजिक सौहार्द की भावना से कार्य कर रही है। आज सिरसा में समाज से जुड़ी परियोजनाओं की आधारशिला रखी गई है उससे समाज में एकता नया अध्याया शुरू होगा। उन्होंने कहा कि सिरसा शहर के बीचोंबीच अरोड़वंश और अग्रवाल सदनों के लिए जो जगह दी गई है उसक ा श्रेय स्थानीय विधायक व निकाय मंत्री श्री गोपाल कांडा तथा स्थानीय सांसद श्री अशोक तंवर को जाता है। उन्होंने यह भी कहा कि इन दोनों सदनों की जमीन की 89 लाख रुपए की कीमत श्री गोपाल कांडा ने दी है। इसके साथ वे दोनों  सदनों के निर्माण के लिए 21-21 लाख रुपए की राशि स्वयं देंगे और 10-10 लाख रुपए की राशि सांसद श्री अशोक तंवर देंगे।
    इस अवसर पर मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए सांसद श्री अशोक तंवर ने कहा कि हजारों करोड़ रुपए के विकास कार्य सिरसा संसदीय क्षेत्र में करवाए हैं इसके लिए मैं मुख्यमंत्री का आभार प्रकट करता हूं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में गरीब, मजदूर, महिला, नौजवानों, किसानों के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं लागू की हैं। सांसद ने कहा कि सिरसा में बिजली व्यवस्था में सुधार किया गया है। पूर्व की विपक्षी सरकार में 24 सब स्टेशन थे। कांग्रेस सरकार के आने के बाद सिरसा में 49 स्टेशनों का निर्माण किया गया है तथा 21 बिजली सब स्टेशन पाईप लाईन में हैं। उन्होंने कहा कि सिरसा क्षेत्र में पेयजल व सीवरेज की व्यवस्था सुदृढ़ की गई है। सांसद ने अग्रवाल व अरोड़वंश समाज के लिए जगह देने के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद करते हुए कहा कि यह 40 साल से लम्बित मांग थी जिसे आज मुख्यमंत्री ने पूरा किया है। इनके पूरा होने से दोनों समाज में खुशी की लहर है।
    गृह राज्य व स्थानीय निकाय मंत्री श्री गोपाल कांडा ने मुख्यमंत्री का सिरसा में विभिन्न सौगातें देने के लिए आभार जताया और कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक दिन है। मुख्यमंत्री ने आज चारों समाज अग्रवाल, अरोड़ा, गुज्जर व सिख समुदाय के लोगों की मांगे मानी हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे विकासपुरुष मुख्यमंत्री को समाज के लोग जीवन भर याद रखेंगे। आज प्रदेश में मुख्यमंत्री के नेतृत्व में चहुंमुखी विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि आज मुख्यमंत्री के नेतृत्व में  हरियाणा में अभूतपूर्व विकास हुआ है। सिरसा शहर के लोगों ने आज 72.23 करोड़ रुपए की जल परियोजना की शुरूआत करके शहर की 2040 तक की पेयजल समस्या को खत्म किया है। इस परियोजना से शहर के लोगों को 135 लीटर प्रतिदिन प्रतिव्याक्ति आर ओ आधारित प्योरीफाईड पेयजल मिलेगा। इससे पूर्व अरोड़वंश और अग्रवाल समाज की ओर से मुख्यमंत्री को सम्मानित किया गया और दोनों समाज के लोगों ने एक सुर में मुख्यमंत्री का आभार जताया। वहीं धर्मशाला सदनों के निर्माण के लिए भूमि दिलवाने पर स्थानीय विधायक व सांसद का आभार प्रकट किया और सम्मानित किया।
    इस समारोह में हरियाणा के कृषि एवं पशुपालन मंत्री स0 परमवीर सिंह, लोक निर्माण विभाग के मुख्य संसदीय सचिव श्री प्रहलाद सिंह गिलाखेड़ा, जयबीर बाल्मीकि, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार, प्रो0 वीरेन्द्र ङ्क्षसह, प्रैस सलाहकार सुन्दरपाल, कान्फेड के चेयरमैन बजरंग दास गर्ग, पूर्व विधायक मनीराम केहरवाला, भरत सिंह बैनीवाल, पूर्व मंत्री कृष्णमूर्ति हुड़्डा, जगदीश नेहरा, प्रदेश कांग्रेस प्रतिनिध श्री गोबिन्द कांडा, जिला प्रधान मलकीत सिंह खोसा, होशियारी लाल शर्मा, अग्रवाल सभा के प्रधान श्री भागीरथ गुप्ता, प्रेम शर्मा, कृष्ण लाल सैनी, अरोड़वंश सभा के प्रधान वीरेन्द्र बाहिया, सदन के प्रधान बनवारी लाल चावला, उपप्रधान रामनारायण कक्कड़, सचिव राजेन्द्र मकानी, सुरेन्द्र भाटिया सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

प्रदेश की कांग्रेस सरकार जनता के विकास के लिए वचनबद्ध है
सिरसा
, 11 जून : प्रदेश की कांग्रेस सरकार जनता के विकास के लिए वचनबद्ध है। सिरसा जिला में विकास के लिए धन की कमी आड़े नहीं दी जाएगी। यह बात हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने गांव पंजुआना में तृतीय जलघर के शिलान्यास करने उपरान्त एक समारोह को सम्बोधित करते हुए कही।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार गांव व शहर में स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवा रही है। लोगों को स्वास्थ्य, शिक्षा जैसी मूलभूत सुविधाएं प्रदान कर रही है। सिरसा जिला में भी 6 वर्ष के शासनकाल में करोड़ों रुपए के विकास करवाए गए। उन्होंने कहा कि सिरसा के लोगों ने कांग्रेस का साथ दिया है। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि जनता उनका आगे भी साथ देती रहेगी।
    उन्होंने कहा कि प्रदेश ने हर क्षेत्र में प्रगति की है। उन्होंने कहा कि केन्द्र में यूपीए और हरियाणा में कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में सभी वर्गो के हित के साथ-साथ किसानों के हितों क े लिए विशेष योजनाएं क्रियान्वित की गई हैं। उन्होंने कहा कि किसानों के हितों को देखते हुए ऋण राशि से ब्याज की दर 11 प्रतिशत से घटाकर चार प्रतिशत की गई और प्रदेश से उस काले कानून को हटाया गया जिसमें ऋणी किसानों को पकड़ कर जेलों मे ठूस दिया जाता था। प्रदेश सरकार ने किसानों द्वारा लिए गए ऋण की एवज में उनकी जायदाद को नीलाम नही किया जाएगा। किसान को एक एकड़ की फर्द पर टै्रक्टर के लिए ऋण दिए जाने का प्रावधान है। इतना ही नहीं किसानों की जीनस के भाव में रिकार्ड वृद्धि की गई। उनकी सरकार के कार्यकाल में जीरी के भाव में 550 रुपए प्रति क्विंटल की वृद्धि की गई। उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग को भी इस सरकार ने विभिन्न प्रकार की रियायतें दी हैं।
    इस अवसर पर मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए योजना आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष श्री रणजीत सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री विकास पुरूष हैं। उनकी विकासशील सोच को देखते हुए उन्होंने हमेशा उनका साथ दिया है। उन्होंने मुख्यमंत्री को आश्वासन दिया कि रानिया हलके की जनता व वे स्वयं मुख्यमंत्री के साथ डटे रहेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने जिला के विकास के लिए करोड़ो रुपए की राशि दी है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश में समान रूप से विकास कार्य करवाए हैं।
    सांसद श्री अशोक तंवर ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए सांसद श्री अशोक तंवर ने कहा कि हजारों करोड़ रुपए के विकास कार्य सिरसा संसदीय क्षेत्र में करवाए हैं इसके लिए मैं मुख्यमंत्री का आभार प्रकट करता हूं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में गरीब, मजदूर, महिला, नौजवानों, किसानों के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं लागू की हैं। सांसद ने कहा कि सिरसा में बिजली व्यवस्था में सुधार किया गया है।
    गृह राज्य एवं स्थानीय निकाय मंत्री श्री गोपाला कांडा  ने कहा कि आज प्रदेश में मुख्यमंत्री के नेतृत्व में चहुंमुखी विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि आज मुख्यमंत्री के नेतृत्व में  हरियाणा में अभूतपूर्व विकास हुआ है। सिरसा शहर के लोगों ने आज 72.23 करोड़ रुपए की जल परियोजना की शुरूआत करके शहर की 2040 तक की पेयजल समस्या को खत्म किया है। इस परियोजना से शहर के लोगों को 135 लीटर प्रतिदिन प्रतिव्याक्ति आर ओ आधारित प्योरीफाईड पेयजल मिलेगा।
    इसके उपरान्त गुज्जर समाज की ओर से मुख्यमंत्री का स्वागत किया गया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि गुज्जर समाज ने देश की आजादी में अह्म योगदान दिया है। गुज्जर समाज ने आज जो उनका मान-सम्मान किया है वे उसके लिए सदा आभारी रहेंगे।
    इस अवसर पर मुख्यमंत्री के पूर्व ओएसडी डा के वी सिंह, राजनीतिक सलाहकार प्रो0 वीरेन्द्र सिंह, पूर्व विधायक भरत सिंह बैनीवाल, मनीराम केहरवाला, पूर्व सांसद आत्मा सिंह गिला, पूर्व मंत्री कृष्णमूर्ति हुड्डा, कांग्रेस जिला प्रधान मलकीत सिंह खोसा, पूर्व प्रधान होशियारी लाल शर्मा, कान्फेड के चेयरमैन बजरंग दास गर्ग सहित अन्य वरिष्ठ कार्यकर्ता व गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

छा गए गोबिंद गोपाल
सिरसा।
मुख्यमंत्री एक दिवसीय सिरसा दौरे में जिलावासियों को विकास योजनाओं के रूप मे करोड़ों रूपए की सौगातें दे गए। सीधे तौर पर मुख्यमंत्री को सिरसा लाने का श्रेय सिरसा के निर्दलीय विधायक एवं गृहराज्यमंत्री गोपाल कांडा को जाता है। मुख्यमंत्री द्वारा लोकार्पित की गई अधिकतर विकास योजनाओं का श्रेय भी गोपाल कांडा को जाता है, उधर गोपाल कांडा के अनुज गोबिंद कांडा ने भी सफल आयोजनकर्ता की भूमिका को बखूबी निभाया। शहर के बीचों बीच अग्रवाल और अरोड़वंश समाज को दी गई धर्मशालाओं के लिए दी गई जगहों के धन्यवाद स्वरूप दोनो समाजों द्वारा आयोजित किए गए सम्मान समारोह की तैयारियों का मुख्य जिम्मा गोपाल-गोबिंद के कंधों पर ही था। सिरसा में अपने दम पर मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का सफल आयोजन करवाकर गोपाल गोबिंद ने अपनी लोकप्रियता साबित की।
दरियादिल मंत्री के रूप में विख्यात गोपाल कांडा ने न केवल अग्रवाल अरोड़वंश समाज को धर्मशाला हेतू जगह दिलवाने में अहम भूमिका निभाई बल्कि दोनो स्थानों की रजिस्ट्रियों के लिए 89 लाख रूपए अपने निजी कोष से भेंट किए। वहीं मुख्यमंत्री श्री हुड्डा व सांसद अशोक तंवर ने भी दोनों धर्मशालाओं के लिए 21-21लाख रुपये देने की घोषणा की।  गोपाल कांडा ने मुख्यमंत्री के आगमन के दौरान ही जिलावासियों को करोड़ों रूपए के मल्टी स्पेशलिटी अस्पताल की सौगात भी दिलवा दी। इस अस्पताल का निर्माण होने के बाद जिलावासियों को खासी राहत मिलेगी।
     परशुराम चौक पर आयोजित मुख्यमंत्री के अभिनंदन समारोह में उमड़े जनसैलाब ने गृहराज्यमंत्री गोपाल कांडा व उनके अनुज गोबिंद कांडा की बढ़ती लोकप्रियता पर मोहर लगा दी है। ढोल-नगाड़े बजाते लोग गोपाल कांडा और गोबिंद कांडा जिंदाबाद के गगनभेदी नारे लगाते अभिनंदन समारोह स्थल की ओर रवाना हो रहे थे। जहां भी देखें वहीं चारों तरफ जनसमुद्र नजर आ रहा था। अरोड़वंश समुदाय और अग्रवाल समुदाय द्वारा धर्मशाला निर्माण हेतु उपलब्ध करवाई गई भूमि के लिए मुख्यमंत्री चौ. भूपेन्द्र सिंह हुड्डा और गृह राज्यमंत्री गोपाल कांडा का अभिनंदन करने के लिए आयोजित समारोह रैली में बदल गया। लोगों का जोश इस बात से ही देखा जा रहा था कि खचाखच भरे पंडाल के बाहर राधा स्वामी सत्संग घर तक जन हुजूम भीषण गर्मी में भी भूपेन्द्र सिंह हुड्डा और गोपाल कांडा को सुनने के लिए आतुर था। आज के इस विशाल अभिनंदन समारोह ने सिरसा में आयोजित किये गये अब तक के सभी रिकॉर्ड तोड़कर यह दिखा दिया कि सिरसा जिले की पांचों विधानसभा सीटों में से एक मात्र सरकार में शामिल निर्दलीय विधायक का जनाधार विधानसभा चुनावों के बाद लगातार बढ़ रहा है। इस अभिनंदन समारोह में मुख्य संसदीय सचिव प्रहलाद सिंह गिल्लाखेड़ा ने इनेलो पर तीखे प्रहार किये। वहीं महिलाओं की अपार भागीदारी यह दर्शा रही थी कि सिरसा में कांडा बंधुओं को सभी तरफ से आशीर्वाद मिल रहा है। इस समारोह में जिला कांग्रेस महासचिव रानी रंधावा ने हजारों महिला कार्यकर्ताओं के साथ ढोल-नगाड़े बजाते हुए शिरकत की, वहीं डबवाली से जग्गा सिंह बराड़ के नेतृत्व में भारी काफिले ने अभिनंदन समारोह को और भव्य बना दिया। अभिनंदन समारोह में सबसे अधिक संख्या युवा वर्ग की देखकर यह बात स्पष्ट हो गई कि युवाओं में मुख्यमंत्री और गृहराज्यमंत्री की लोकप्रियता का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है।

भूपेन्द्र सिंह हुड्डा पूर्व उद्योग मंत्री लछमन दास अरोड़ा के निवास पर पहुंचे
सिरसा
, 11 जून :  हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा आज पूर्व उद्योग मंत्री लछमन दास अरोड़ा के निवास पर पहुंचे। मुख्यमंत्री ने श्री अरोड़ा का कु शलक्षेम पूछा और उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।  मुख्यमंत्री ने चौ0 देवीलाल विश्वविद्यालय में प्रो0 राजेश वैद्य के आवास पर जलपान समारोह में भाग लिया। इनके अलावा मुख्यमंत्री गुर्जर समाज के अभिनंदन समारोह में पहुंचे। मुख्यमंत्री श्री दलजीत सिंह सरां व श्री सुरेश मैहता के आवास पर आयोजित जलपान समारोह में शिरकत की।

इनेलो का सिरसा बंद हो रहा है सफल, नही खुली एक भी दुकान
सिरसा।

इंडियन नेशनल लोकदल पार्टी की ओर से सिरसा बंद के आवहान का असर पूरी तरह से देखने को मिला रहा है।  आज सिरसा पूर्ण रूप से बंद रहा। सिरसा की सभी दूकाने बंद देखने को मिली। साथ ही चप्पे-चप्पे पर पुलिस पेहरे पर खड़ी है इनेलो पार्टी के कार्यकर्ताओ का कहना है की सिरसा में बढ़ रहे अपराधिक मामलो को
देखते हुए आज इनेलो पार्टी ने सिरसा बंद रखा है वहीं कांग्रेेस  पार्टी ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए है वही सिरसा में बंद का असर सुबह से ही देखने को मिल रहा था। हर रोज सुबह 4 बजे होने वाली बोली भी नहीं हुई। गौरतलब है कि आज सिरसा में मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा का दौरा है इसलिए इनेलो ने आज सिरसा बंद रखा है। इनेलो पार्टी सिरसा बंद करने के लिए काफी दिन पहले से प्रयास कर रही थी जिसका अच्छा खासा असर देखने को मिला।
काबिलेगौर है कि सिरसा में बढ़ रहे आपराधिक मामलो को लेकर इनेलो ने आज सिरसा बंद रखा है। इनेलो का मानना है कि सिरसा पहले शांतिप्रिय होता था लेकिन जब से कांग्रेंस की सरकार बनी है प्रदेश में क्राईम की घटनाएं बढ़ती जा रही है। इनेलो कांग्रेंस पार्टी पर आरोप लगाया है कि सिरसा में आज कोई भी महिला सुरक्षित नहीं है। सिरसा में रोज हत्या, चोरी जैसी वारदाते बढ़ती जा रही है। चाहे वो दादी पोती हत्याकांड हो या कांलावाली में एक ही घर के चार सदस्या की हत्या का मामला ऐसे ही सिरसा जिला में 106 मामले हुए है लेकिन इन्हे रोकने वाला कोई नहीं इसी के चलते आज इनेलो पार्टी ने सिरसा बंद रखा है।
गौरतलब है कि आज सिरसा में मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा का दौरा है इसलिए इनेलो ने आज सिरसा बंद रखा है।
 सिरसा में बढ़ रहे अपराधिक मामलों को देखते हुए आज इनेलो पार्टी ने सिरसा बंद रखा है और इस बंद में उनका हर वर्ग और जिले के पूरे दुकानदारों ने पूरा सहयोग किया है। ये बात इनेलो जिला प्रैस प्रवक्ता कृष्ण गुम्बर ने दुकानदारों, व्यापारियों और लोगों धन्यावाद करते हुए कही।
गुम्बर ने कहा कि सिरसा में बढ़ रहे आपराधिक मामलों को लेकर उन्होने आज सिरसा बंद रखा है। सिरसा पहले शांतिप्रिय होता था लेकिन जब से कांग्रेंस की सरकार बनी है प्रदेश में क्राईम की घटनाएं बढ़ती जा रही है। गुम्बर ने कांग्रेंस पार्टी पर आरोप लगाते हुए कहा की सिरसा में आज कोई भी महिला सुरक्षित नहीं है । सिरसा में रोज हत्या, चोरी जैसी वारदाते बढ़ती जा रही है चाहे वो दादी पोती हत्याकांड हो या कांलावाली में एक ही घर के चार सदस्या की हत्या का मामला हो। उन्होंने कहा कि ऐसे ही सिरसा जिला में 106 मामले हुए है लेकिन इन्हे रोकने वाला कोई नहीं इसी के चलते आज इनेलो पार्टी ने सिरसा बंद रखा है और हमें सफलता मिली है जिसके लिए प्रदेश और जिले के लोगों का पूरा सहयोग है।
इस मौके पर लाल चंद गौदारा, राकेश सिहाग, नरेश रूपावास, हैप्पी एडवोकेट, सुरेश मकड़ , शहरी प्रधान मनोहर मेहता, रमेश मेहता संयोजके व्यापार शैल, कमल, भरत कम्बोज, मितल, अमिलाल, चिमनलाल, दलीप मांजरा, सुभाष, संदीप, सुनील, राजू, भोला सिंह, विनय, गोप्पी चंद, सुरैन्द्र सिंह सहित  अनेकों लोगों ने दुकानदारों और लोगों से बंद को पूरे दिन बनाए रखने की अपील करें।

भूपेश मेहता ने दरगाह में नवाया शीश
मांगी सीएम के दीर्घायु, स्वास्थ्य व कुशल शासन की कामना
सिरसा
। ब्लाक कांग्रेस कमेटी सिरसा शहरी के प्रधान भूपेश मेहता ने कहा कि पीरों फकीरों की धरती सिरसा पर समय समय पर अनेक संतों महापुरूषों ने अपने चरण टिकाकर इस धरती को पावन बनाया है। वे आज स्थानीय डबवाली रोड पर स्वास्तिक धर्मकांटा के निकट स्थित गमले वाले बाबा की दरगाह पर बतौर मुख्यातिथि उपस्थित श्रद्धालुओं को संबोधित कर रहे थे। श्री मेहता ने इस अवसर पर अपने कर कमलों से लंगर भंडारा बांटकर लंगर वितरण का शुभारंभ किया। श्री मेहता ने इस अवसर पर दरगाह में चिराग जलाकर व समाधि पर माथा टेक कर मुख्यमंत्री चौ. भूपेंद्र सिंह हुड्डा की दीर्घायु तथा स्वास्थ्य की कामना की साथ ही दुआ मांगी कि उनके शासन काल में प्रदेश और अधिक बुलंदियों को छुए तथा शांति और भाईचारा कायम रहें। इस अवसर पर गमले वाले बाबा की दरगाह के सेवादार टीके भाई ने भूपेश मेहता व उनके साथियों का स्वागत किया। इस मौके पर श्री मेहता के साथ औमप्रकाश एंथोनी, विनोद उपाध्याय, प्रेम सैनी, रामदास बजाज, धर्मवीर, अभिमन्यू मलिक सहित अन्य कार्यकर्ता साथी उपस्थित थे।

श्रद्धापूर्वक मनाया गया मूर्ति स्थापना दिवस
ओढ़ां

    पुरानी अनाज मंडी स्थित श्रीदुर्गा मंदिर में शनिवार को सेवादारों द्वारा मूर्ति स्थापना दिवस श्रद्धापूर्वक मनाया गया। इस वार्षिक उत्सव को लेकर सुबह सबेरे ही श्रद्धालुओं का आवागमन शुरू हो गया था। सुबह साढ़े सात बजे शुभ मुहुर्त में महिला श्रद्धालुओं द्वारा मूर्ति स्नान की रस्म आरंभ की गई जिसके तहत दूध, दही, घी, शहद और गंगाजल से मूर्ति को स्नान करवाया और नए वस्त्र धारण करवाए गए। तदुपरांत मंदिर के पुजारी पंडित विष्णु भारद्वाज की देखरेख में पंडित राजेश शर्मा द्वारा मंत्रोच्चारण के साथ पूजन करवाया गया और फिर हवन यज्ञ आयोजित किया गया जिसमें सभी महिला पुरुष श्रद्धालुओं ने आहुति डाली। हवन यज्ञ सम्पन्न होने के बाद हलवा व छोले पूरी का भोग लगवाया गया तथा भंडारे का शुभारंभ किया गया जिसमें काफी संख्या में गांववासी महिला, पुरुष व बच्चों ने भाग लिया। भंडारे का कार्यक्रम बाद दोपहर तक जारी रहा। इस अवसर पर पंडित धन्ना राम, जगदीश राय सिंगला, मदन लाल, सूरजभान सिंगला, रतन लाल जिंदल, रामपाल सिंगला, जसपाल तगड़, भोला गोयल, हरी राम गोयल, रमेश कांसल, रवि गोयल, वेद प्रकाश, रामलाल, सुखजीवन, सोमनाथ, भोला सिंह, बाल किशन, राजकुमार, सुभाष गर्ग, मोहित गर्ग, फकीर चंद गोयल, बिटू गर्ग, नीरज तिवारी, बीरू सिंह और हैप्पी गर्ग सहित काफी संख्या में सेवादार व श्रद्धालु उपस्थित थे।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: