>local news, सिरसा समाचार

8 जून

>

11 जून को आयोजित होने वाले सम्मान समारोह की तैयारियां जोर शोर से चल रही है
सिरसा
। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र ङ्क्षसह हुड्डा के सिरसा में 11 जून को आयोजित होने वाले सम्मान समारोह की तैयारियां जोर शोर से चल रही है। श्री हुड्डा का सम्मान समारोह अग्रवाल समाज व अरोड़वंश समाज द्वारा आयोजित किया जा रहा है। इसी दिन हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री हुड्डा अग्रवाल सेवा सदन एवं अरोडवंश सेवा सदन की आधारशिला भी रखेंगे। यह हरियाणा में पहला मौका है, जब दो समुदायों द्वारा मुख्यमंत्री का जोरदार अभिनंदन किया जा रहा है। इस सम्मान समारोह को ऐतिहासिक समारोह बनाने के लिए हरियाणा के स्थानीय निकाय एवं गृहराज्यमंत्री श्री गोपाल कांडा ने यहां डेरा डाल लिया है, जो पूरे समारोह की तैयारियों का जायजा ले रहे है, और निरंतर लोगों से संपर्क कर रहे है।
    श्री गोपाल कांडा ने बताया कि आगामी 11 जून को सिरसा में होने वाले सम्मान समारोह के लिए उपरोक्त दोनो समुदायों के साथ साथ  गुज्र्जर समुदाय के लोगों में जबरदस्त खुशी है। सिरसा के अग्रवाल और अरोडवंश समाज की लंबे समय से चली आ रही मांग हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र ङ्क्षसह हुड्डा ने उनके विशेष आग्रह पर पूरी की है, जिससे दोनो समुदायों के लोगों में खुशी होना स्वाभाविक है।
अग्रवाल और अरोडवंश समुदाय के लोग अलग अलग टीमें बनाकर शहर के साथ साथ ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों से संपर्क साधने में जुटे हुए है। उनके अनुज श्री गोबिंद कांडा ने स्वागत समारोह में जान डालने के लिए दिन रात एक की हुई है, जो शहर के लोगोंं के साथ साथ गांवों के लोगों से संपर्क कर रहे है। अभी तक आठ दर्जन से भी अधिक गांवों में पहुंचकर सीधे लोगों से रूबरू हो चुके और लोगों को सम्मान समारोह में आमंत्रित कर चुके है। अग्रवाल समाज के अन्य लोग जिनमें भागीरथ गुप्ता, सुरेंद्र मिचनांबादी, महावीर मोदी, भूपेश गोयल शामिल है, इसके साथ साथ अरोडवंश समाज के अश्विनी बठला, राजेंद्र मकानी, रोशन डांग आदि स्थानीय नेता भी भीड इक_ा करने के लिए जुटे हुए है। इसके अलावा महिलाओं में रानी रंधावा, कैलाश रानी तथा अन्य सामाजिक व पार्टी के नेताओं में कृष्ण सैनी, कुलदीप गदराना, सूरत सैनी, प्रेम शर्मा भी लोगों से संपर्क साधने में दिन रात एक किए हुए है।
श्री गोपाल कांडा के अनुसार सिरसा में मुख्यमंत्री के सम्मान समारोह में एक रिकार्ड तोड हाजरी होगी, क्योंकि उसदिन 11 जून को समुदाय के लोग की कई दशकों पुरानी मांग पूरी होने जा रही है। उन्होने कहा कि सिरसा शहर के बीच में मुख्यमंत्री के कृपा से अरोडवंश और अग्रवाल समाज को 2600-2600 वर्ग गज जगह उपलब्ध करवाई गई है, जिसकी कीमत सर्कल रेट के अनुसार एक करोड़ चार लाख रूपए है। श्री कांडा ने बताया कि यह सारी राशि वे स्वयं अदा करेंगे।
उन्होने यह भी कहा कि सिरसा में उन्होने डेढ वर्ष के कार्यकाल में अपने द्वारा किए गए वायदों से भी कहीं आगे बढकर काम किया है। जिससे सिरसा के लोगों ने स्वीकार भी किया है। उन्होने कहा कि सम्मान समारोह में दोनो समुदायों के लोगों के साथ साथ शहर के सभी समुदायों के लोग और ग्रामीण क्षेत्र से हजारों लोग भाग लेंगे।

मुख्यमंत्री सिरसा शहर में 150 करोड़ रूपए की सरकारी व सामाजिक योजनाओं की आधारशिला व उदघाटन करेंग
सिरसा
। हरियाणा के स्थानीय निकाय एवं गृहराज्यमंत्री श्री गोपाल कांडा ने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा आगामी 11 जून को सिरसा शहर में 150 करोड़ रूपए की सरकारी व सामाजिक योजनाओं की आधारशिला व उदघाटन करेंगे। आगामी 11 जून का दिन सिरसा के इतिहास में विकास के मामले में स्वर्णीम दिन होगा। श्री कांडा आज स्थानीय शू कैंप कार्यालय में लोगों की समस्याएं सुनने के बाद पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री हरियाणा यहां से दस किलोमीटर दूर पंजुआना गांव में लगभग 71 करोड़ 23 लाख रूपए की लागत से बनने वाले नहरी पानी आधारित जलघर की आधारशिला रखेंगे, जिससे शहर के लोगों को 165 लीटर प्रति व्यक्ति प्रति दिन पानी मिलेगा और यह पानी पूरी तरह प्योरिफाइड होगा। हरियाणा में यह जलघर अपनी तरह का जलघर होगा, जहां लोगों को आरओ सिस्टम आधारित पानी मिलेगा। उन्होने बताया कि स्थानीय कंगनपुर रोड़ पर 5.70 करोड़ रूपए की लागत से बने पोली क्लीनिक का उदघाटन भी मुख्यमंत्री हरियाणा करेंगे। इस पोली क्लीनिक के बनने से जिला के लोगों को पशु धन की स्वास्थ्य सेवाओं के लिए सभी प्रकार की सुविधाएं मिलेगी।
उन्होने आगे बताया कि हरियाणा के मुख्यमंत्री शहर में राजकीय संस्कृति माडल सीनियर स्कूल भवन को भी शहर की जनता को सौंपेंगे। इस स्कूल के निर्माण पर 3 करोड़ 39 लाख रूपए की लागत आई है। इस स्कूल के बनने से शहर के लोगों की वर्षों पुरानी मांग पूरी हुई है। इस स्कूल के भवन में साढे तीन दर्जन से भी अधिक कमरों का निर्माण किया गया है और शिक्षा से जुडी सभी सुविधाएं मुहैया करवाई गई है।
श्री कांडा के अनुसार मुख्यमंत्री हरियाणा उसी दिन स्थानीय रानियां रोड के फोर लाईन की शुरूआत भी करेंगे। इस फोर लेन के निर्माण पर 7 करोड़ 63 लाख रूपए की राशि खर्च होगी, जिससे रानियां रोड का एक अलग नजारा होगा।
इसके साथ साथ उन्होने कहा कि सामाजिक परियोजनाओं में हरियाणा के मुख्यमंत्री स्थानीय हिसार रोड पर शहर के बीचोंबीच बनने वाले अग्रवाल व अरोड़वंश सेवा सदनों की आधारशिला रखेंगे। उन्होने बताया कि इसके पश्चात श्री हुड्डा स्थानीय रानियां रोड पर श्री तारा बाबा चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा 5 एकड भूमि पर बनाए जाने वाले मल्टीसुपर स्पेशलिटी अस्पताल की भी आधारशिला रखेंगे। यह अस्पताल सिरसा और आसपास के राज्यों के लोगों के लिए सभी तरह की  पांच सितारा चिकित्सा सुविधाएं उपलबध करवाने का एक अनूठा अस्पताल होगा। उन्होने बताया कि मुख्यमंत्री श्री हुड्डा स्थानीय सांगवान चौक पर गुरू गोबिंद सिंह मार्ग का भी उदघाटन करेंगे इसके साथ साथ मुख्यमंत्री स्थानीय हिसार रोड पर सेठ रामनारायण भीम सेन बियानी चेरिटेबल ट्रस्ट के श्रीमती रत्नी देवी सदन का भी शिलान्यास करेंगे। उन्होने बताया कि इसी दिन सिरसा के परशूराम चौक के पास अरोडवंश समाज और अग्रवाल समाज द्वारा सम्मान समारोह आयोजित किया जाएगा, जिसमें शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों से हजारों लोग अपने प्रिय मुख्यमंत्री का सम्मान करेंगे। इस समारोह में मुख्यमंत्री हरियाणा जिला के लिए विभिन्न विकास परियोजनाओं की भी घोषणा करेंगे। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री के समक्ष शहर के साथ साथ जिला की सभी प्रकार की मांगों को रखा जाएगा। उन्हे पूरी आशा है कि मुख्यमंत्री अपने 11 जून के दौरे में सिरसा जिले को कई विकास परियोजाएं देंगे।

जून माह में पैंशन वितरण का कार्य एक्सिस बैंक द्वारा किया जाएगा
सिरसा
, 8 जून । जिला में जून माह में पैंशन वितरण का कार्य एक्सिस बैंक द्वारा किया जाएगा। यह जानकारी देते हुए उपायुक्त डा0 युद्धबीर सिंह ख्यालिया ने बताया की सिरसा जिला में जून माह की पैंशन वितरण का कार्य 13 जुन से प्रारंभ किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा पैंशन के लिए राशि 10 जून को बैंक  को उपलब्ध करवाई जाएगी।

पुलिस समाचार
सिरसा
। जिला पुलिस द्वारा सुरक्षा को चाक चौबंद करने के लिए ऐहतियाती तौर पर कई कदम उठाए गए है। पुलिस अधीक्षक द्वारा जिला के तमाम पैंट्रोलपंप संचालकों व बैंक प्रबंधकों को पत्र जारी किया गया है, जिसमें निर्देश दिए गए है कि बैंक परिसर के बाहर की ओर भी सीसी टीवी कैमरा लगाए साथ ही सुरक्षा की दृष्टि से गार्ड इत्यादि रखना भी सुनिश्चित करें। इसके साथ ही पैंट्रोलपंप संचालकों को लिखे पत्र में उनसे कहा गया है बिना नंबर के वाहन में तेल न डाले। इसके पीछे पुलिस ने सुरक्षा पं्रबधों को मजबूत करने का तर्क बतलाया है। क्योंकि कई बार आपराधिक वारदातों में आरोपी बिना नंबरों के वाहनों का प्रयोग करते है। इसके अलावा शहर सिरसा में सुरक्षा व्यवस्था को और अधिक चाक चौबंद व मजबूत करने के लिए 200 और जवानों को तैनात किया जाएगा। जिला पुलिस द्वारा ट्रिपल राइडिंग , पै्रशर हार्न व बिना नंबर वाले वाहन चालकों के विरूद्ध जोरदार अभियान चलाकर नियमों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। इस अभियान के तहत पै्रस व पुलिस लिखे वाहनों की भी जांच पड़ताल की जाएगी।
सिरसा। जिला की डिंग पुलिस ने बलवन्त राम पुत्र ईश्वर राम निवासी बरवाली प्रथम को 7 बोतल देशी शराब के साथ काबू कर लिया है। आरोपी के खिलाफ थाना डिंग में आबकारी अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज किया गया है। वहीं एक अन्य घटना में रोड़ी पुलिस ने सोनी उर्फ सन्नी पुत्र दर्शन सिंह निवासी रोड़ी को 36 बोतल देशी शराब के साथ काबू किया है। कालांवाली पुलिस ने गुड्डू पुत्र अमर सिंह निवासी मंडी कालावांली को 10 बोतल देशी शराब के साथ काबू किया है।
सिरसा। पंचायत भवन वेदवाला में बीती 7 जून को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की तरफ से श्रीमती साधना मित्तल के नेतृत्व में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के मैम्बर अमित गोयल एडवोकेट के साथ लीगल लिटरैसी कैम्प का आयोजन किया गया जिसमें उपस्थित लोगों को निशुल्क कानूनी सहायता दी गई। मौके पर उपस्थित महिलाओं को घरेलू हिंसा से सम्बन्धित जानकारी दी गई। इस मौके पर महिलाओं को उनके अधिकारों व बाल श्रम से सम्बन्धित विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर गांव की सरंपच जसवीर कौर, थाना सदर क ेसहायक उपनिरीक्षक बनवारी लाल सहित गांव की अनेक महिलाएं व बच्चें तथा ग्रामीण मौजूद थे।

दड़बी ने जीती क्रिकेट प्रतियोगिता
सिरसा।
शहीद उद्यम सिंह युवा क्लब भावदीन द्वारा आयोजित की गई क्रिकेट प्रतियोगिता का समापन बीते दिवस हुआ। इस प्रतियोगिता में जिलाभर से 34 टीमों ने भाग लिया। प्रतियोगिता का शुभारंभ चार जून को जिला क्रिकेट एसोसिएशन के प्रधान डा. वेद बेनीवाल व सतलुज स्कूल के निदेशक बलदेव सिंह सरकारिया ने किया था। प्रतियोगिता में विजेता दड़बी बी टीम विजेता रही। उप स्थान पर दड़बी ए टीम रही। क्लब के पदाधिकारों ने विजेता टीम को 51 सौ रुपये व ट्राफी प्रदान की। उप विजेता टीम को 31 सौ रुपये की इनाम राशि देकर सम्मानित किया गया। प्रतियोगिता में मैन ऑफ दि मैच व मैन ऑफ दि सीरिज रहने वाले खिलाडिय़ों को भी सम्मानित किया गया। दोनों टीमों के खिलाडिय़ों को भी शहीद उद्यम सिंह युवा क्लब की तरफ से सम्मानित किया गया। समापन पर गांव के गणमान्य लोगों ने भाग लिया और आई हुई टीमों ने आयोजित समिति का किए गए प्रबंधों की सराहना की। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हमे उम्मीद है कि यह क्लब इस प्रकार की प्रतियोगिता समय-समय पर आयोजन करता रहेगा।

ड्राईवरों को नियमित करने की मंाग की जाएगी
सिरसा।
राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत स्वास्थ्य वाहन सेवा 102 एम्बूलैंस के ड्राईवरों द्वारा आगामी 11 जून को मुख्यमन्त्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के सरसा दौरा पर मुलाकात करके ड्राईवरों को नियमित करने की मंाग की जाएगी। ड्राईवरों का यह भी कहना है कि रैली वाले दिन रैली स्थल पर प्रदेशभर से एम्बुलैंस कर्मचारी एकत्रित होगें। उनका कहना है कि योजना के तहत वे पिछले दो वर्षो से उपायुक्त रेटों पर काम कर रहे है लेकिन कड़ी मेहनत के बावजूद सरकार के द्वारा उनके नियमित करने के लिए कोई योजना नहीं बनाई गई है। उनका यह भी कहना है कि उनके वेतन में पिछले दो वर्षो में कोई भी बढ़ोतरी नही की गई है लेकिन नियमों के अनुसार उन्हें 12 घन्टें से अधिक अनेक बार ज्यादा समय देना पड़ता है।

पत्रकारों की एक सामूहिक बैठक मीडिया सेंटर में हुई
सिरसा
, 8 जून। सिरसा जिला के पत्रकारों की एक सामूहिक बैठक आज स्थानीय मीडिया सेंटर में हुई जिसमें पत्रकारों से जुड़े तीन अहम मुद्दों आवासीय सुविधा, चिकित्सा सुविधा व एक्रीडेशन (प्रैस मान्यता) पर चर्चा हुई। चर्चा के दौरान उपस्थित तमाम पत्रकारों ने जोरदार तरीके से उपरोक्त तीनों मामलों में सहमति देकर इन्हें अमलीजामा पहनाने पर अपनी बात रखी।
    बैठक में सभी संगठनों के सदस्यों ने उपरोक्त तीनों मामलों को पत्रकारों के जीवन के लिए सबसे अहम मुद्दे बताते हुए इसे सकारात्मक कदम बताया। अहम बात यह रही है कि इस बैठक में सभी पत्रकारों ने आवासीय सुविधा, चिक्तिसा सुविधा आदि सुविधाओं को हासिल करने के लिए रूपरेखा भी बनाई और इसके लिए आवश्यक दस्तावेजों को जुटाए। बैठक में 11 जून को मुख्यमंत्री को पत्रकारों की समस्याओं को लेकर एक मांग पत्र उन्हें सौंपने पर भी आम सहमति बनी। इस मौके पर उपस्थित पत्रकारों को एक्रीडेशन फॉर्म भी उपलब्ध कराए गए ताकि उन्हें शीघ्रातिशीघ्र भरकर प्रक्रिया तेजी से आगे बढ़ाई जा सके। सभी पत्रकारों ने उपरोक्त तीनों मामलों में सरकार के रूख पर भी चर्चा की और उसकी पत्रकारों के प्रति रचनात्मक सोच को सकारात्मक बताया। बैठक में गुरजीत मान, राजेंद्र संधू, दिनेश कौशिक, धीरज बजाज, भास्कर मुखर्जी, कमल शार्मा, नकूल जसूजा, पंकज धींगड़ा, राम माहेश्वरी, जगदीश शर्मा, नरेश अरोड़ा, प्रवीण कौशिक, भगवान चंद, विनोद शर्मा, संसार भूषण दिवाकर, संजीव शर्मा (बाबी), नंद सेठी, सतीश बांसल, सुभाष बांसल, दीपक शर्मा, रविंद्र सिंह, सूरज प्रकाश, अशोक गर्ग, अमरजीत, संजीव शर्मा, प्रमोद रिसालिया, रविंद्र शर्मा, अमनदीप बांसल, प्रमोद मित्तल, भूपेंद्र सिंह विर्क, भगत सिंह, सुनील कुमार, रोहताश वर्मा, अमरेंद्र सिंह, पवन मेहता, विष्णू सिंगला, संजीव गर्ग, रामचंद्र तुर्किया, डा. रमेश खट्टर, मनमोहित ग्रोवर सहित अनेक सदस्य उपस्थित थे।

पूर्व मुख्यमंत्री चौ. भजन लाल के निधन पर शोक व्यक्त किया
हिसार,
8 जून :राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व सिरसा लोकसभा क्षेत्र से सांसद एवं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव डॉ. अशोक तंवर ने हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री चौ. भजन लाल के निधन पर शोक व्यक्त किया। हिसार स्थित भजन लाल के आवास पर आयोजित शोक सभा में दोनों नेताओं ने भजन लाल की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। श्री गहलोत व डॉ. तंवर ने भजन लाल की पत्नी श्रीमति जसमा देवी व कुलदीप बिश्राई को ढाढस बंधाया। डॉ. तंवर ने शोक संदेश में कहा कि चौ. भजन लाल 36 बिरादरी के नेता थे। उन्होंने ताउम्र सिद्धांतों व आर्दशों की राजनीति की। उन्होंने अपने लंबे राजनीतिक जीवन में लोगों की भलाई के लिए काम किया। उन्होंने कहा कि चौ. भजन लाल ने कांग्रेस पार्टी को मजबूत करने के लिए काम किया। चौ. भजन लाल देश में राजनीति के स्तम्भ थे।
    इससे पूर्व डॉ. अशोक तंवर फलाइंग कल्ब हिसार में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का स्वागत किया। इस अवसर पर दोनों नेताओं ने लंबी राजनीतिक मंत्रणा की।

मुख्यमंत्री के अभिनंदन समारोह के लिए गोबिंद कांडा ने अपना जनसंपर्क अभियान तेज किया
सिरसा
, 8 जून। 11 जून को आयोजित होने वाले मुख्यमंत्री के अभिनंदन समारोह के लिए गोबिंद कांडा ने अपना जनसंपर्क अभियान तेज कर दिया है, जिसके तहत आज गोबिंद कांडा ने दर्जन भर गांवों का तूफानी दौरा किया और जनसमुदाय को अभिनंदन समारोह में शिरकत करने का आह्वान किया। अपने जनसंपर्क अभियान के दौरान गांव पन्नीवाला मोटा में सभा को संबोधित करते हुए गोबिंद कांडा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी देश की सबसे बड़ी पार्टी है। इस पार्टी की सोच सदैव विकास की रही है। यही कारण है कि मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने लगातार दूसरी बार हरियाणा की बागडोर संभाली है। मुख्यमंत्री के जनकल्याणकारी कार्यों को देखते हुए यह कहना अतिश्योक्ति नहीं होगा कि 2014 के विधानसभा चुनावों में भूपेन्द्र सिंह हुड्डा जीत की हैट्रिक बनाकर  हरियाणा में एक नया इतिहास रचेंगे। इस अवसर पर ग्रामीण दाता राम, अशोक कुमार, भगवाना राम, ज्ञानी राम, पूर्व सरपंच श्रीराम ने श्री कांडा का स्वागत किया और उन्हें विश्वास दिलाया कि वे भारी संख्या में अभिनंदन समारोह में पहुंचेंगे।
    इसके पश्चात गोबिंद कांडा ने अभिनंदन समारोह स्थल का निरीक्षण किया और चल रहे कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने उपस्थित कार्यकर्ताओं को अभिनंदन समारोह की तैयारियां तेज करने के दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अभिनंदन समारोह में पहुंचने वाले जनसैलाब को किसी तरह की दिक्कत का सामना न करना पड़े, इसलिए व्यापक तैयारियां करें। इस अवसर पर गोबिंद कांडा के साथ कृष्ण सैनी, रामकुमार खैरेकां, प्रेम शर्मा, राजू लाडवाल, बंसी कायत, भूपेश गोयल, हरभगवान दड़बी, मक्खन सिंह ख्योंवाली, राजेन्द्र जिंदल ठेकेदार, हरजिन्द्र सिंह बब्बू, प्रदीप चामल, मनोहर, जगदीश बोमरा, जगदीश नंदा, मनोहर सहित अनेक कार्यकर्ता मौजूद थे।

जीवन में कला का विशेष महत्व : शर्मा
छात्राओं ने सीखे स्किल डेवलपमैंट के गुर
सिरसा
, 08 जूून : भुर्टवाला स्थित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में आयोजित समर कैंप में छात्राओं को लाइफ स्किल डेवलपमेंट के गुर सीखाए गए। समापन समारोह में विद्यालय के प्राचार्य सुरेन्द्र शर्मा ने कहा कि जीवन में कला का विशेष महत्व है। इसके सहारे हम संस्कृति को जीवित रख सकते हैं। अपनी कला में निपुण होने के लिए बार-बार अभ्यास करना चाहिए ताकि जीवन में सफलता की मंजिल तक पहुंचा जा सके। एक सप्ताह चले समर कैंप में छात्राओं को सिलाई, कढ़ाई, अचार बनाना, रंगोली, मोमबत्ती बनाना, मुरब्बा बनाना, प्राथमिक चिकित्सा व स्वच्छता के बार विस्तृत जानकारी दी गई। कार्यक्रम में चिकित्सा विभाग की ओर से कुलदीप कौर तथा प्रशिक्षक पैमल ने छात्राओं को प्रशिक्षण दिया।  समापन समारोह पर छात्राओं ने कन्या भू्रण हत्या, महिला सशक्तिकरण पर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर समाज में फैली कुरीतियां मिटाने का संदेश दिया। इस मौके पर प्राचार्य सुरेन्द्र शर्मा, एबीआरसी हरबंस, प्रबंधक कमेटी के प्रधान कृृृृृृृृष्ण कस्वां, कृष्ण शर्मा सहित विद्यालय के अन्य स्टाफ सदस्य उपस्थित थे।

बौद्धिक विकास का सबसे प्रभावी माध्यम मातृभाषा ही हो सकती है
सिरसा।
प्राथमिक शिक्षा का माध्यम मातृभाषा होना चाहिए। विश्वभर के शिखर शिक्षाविदों में इस मसले पर आम सहमति है कि बच्चे के बौद्धिक विकास का सबसे प्रभावी माध्यम मातृभाषा ही हो सकती है।  यूनेस्को सरीखे वैश्विक संगठनों के नीतिगत दस्तावेज ही  नहीं, हमारी अपनी राष्टीय शिक्षा नीति भी मातृभाषा की अहमियत को स्वीकार करती है, मगर अपने देश में भारतीय भाषाओं की लगातार अनदेखी की जा रही है। निजी विद्यालयों के बाद अब तो राज्यों की सरकारें भी प्राथमिक शिक्षा के माध्यम के रूप में हिंदी व अन्य भारतीय भाषाओं को बेदखल करने की दिशा में कदम बढ़ा रही हैं। यह कहना है जाने-माने पत्रकार और दैनिक आज समाज के प्रधान संपादक राहुल देव का। वे रेडियो सिरसा के कार्यक्रम हैलो सिरसा में केंद्र निदेशक व चौधरी दवीलाल विश्वविद्यालय के पत्रकारिता विभाग के अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह चौहान ने बातचीत कर रहे थे।
  राहुल देव ने कहा कि यह मामला हिंदी बनाम अंग्रेजी न होकर अंग्रेजी बनाम भारतीय भाषाएं है। उनका मानना है कि अंग्रेजी का भारतीय भाषाओं की जगह लेना भारत व भारतीयता के लिए आत्महत्या करने जैसी बात है।  बकौल राहुल देव यह सभ्यतामूलक संकट है और परेशान करने वाली बात यह है कि इस पर कहीं विमर्श नहीं हो रहा।
    तीन दशक से अधिक समय से समाचार पत्रों व खबरिया चैनलों के लिए काम कर रहे राहुल देव ने स्वयं अपने कॅरिअर की शुरूआत अंग्रेजी दैनिक पॉयनियर से की थी और कई वर्ष अंग्रेजी पत्र-पत्रिकाओं में कार्य करने के बाद उन्होंनें हिंदी मीडिया की डगर पकड़ी। आज भी कहते हैं कि अंग्रेजी से उन्हें इश्क है, मगर इस बात को लेकर वे बहुत चिंतित हैं कि हिंदी समेत अन्य भारतीय भाषाओं के आंगन में अंग्रेजी जिस ढंग से घुसपैठ कर आधिपत्य स्थापित कर रही है, उसके दूरगामी और कल्पनातीत दुपरिणाम होंगे। उन्होंने कहा कि देखते देखते हिंदी व भारतीय भाषाओं की जो दुर्गति होगी वह तो होगी ही साथ में भारतीय संस्कृति व जीवनमूल्य भी कहीं खो जाएंगे। ऐसा इसलिए चूंकि भाषा महज भाषा नहीं होती बल्कि उसके साथ संस्कृति, संस्कार, परंपराएं और विरासत भी जुड़ी होती हैं। उन्होंने कहा कि वे अंग्रेजी के विरोधी नहीं हैं मगर यह सोचकर किसी भी देशभक्त भारतीय की रूह कांप सकती है कि हम नहीं जागे तो आने वाले तीन चार दशक बाद हमारे बच्चे मातृभाषा के रूप में जो सीखेंगे वह हिंदी तो बिल्कुल नहीं होगी। जनसत्ता के   कार्यकारी संपादक रहे राहुल देव ने जोर देकर कहा कि प्राथमिक शिक्षा के माध्यम के रूप में हिंद व अन्य भारतीय भाषाओं को बचाने के लिए देशव्यापी बहस ही नहीं बल्कि आंदोलन की दरकार है।
स्वर्गीय प्रभाष जोशी को एक अद्भुत संपादक के रूप में स्मरण करते हुए राहुल देव ने कहा कि उनके चिंतन का क्षितिज बहुत व्यापक था। वे अपने सहयोगियों व मातहतों को काम करने की बहुत छूट देते थे। भाषा पर उनकी पकड़ भाषा और लेखन शैली अनूठी थी। उन्होंने कहा कि वे एक सहज नायक थे।
   राहुल देव ने कहा कि प्रभाष जोशी की निर्भीकता, राजनीति पर उनकी पकड़, उनके तेवर और धार ऐसे तत्व हैं जिनसे नई पीढ़ी के पत्रकार बहुत कुछ सीख सकते हैं। राहुल देव ने स्वीकार किया भारत में समाचार पत्रों में संपादक पद का अवमूल्यन हुआ है। बहुत कम ऐसे संपादक बचे हैं जो सच्चे अर्थों में स्वायत्त संपादक हैं। उन्होंने कहा कि समाचार पत्र के मालिक का संपादक होना कोई गलत बात नहीं और भारत में ऐसे अनेक स्वामी संपादक हुए हैं जिन्होंने प्रोफेशनल संपादकों से कहीं अच्छी तरह से संपादक की भूमिका अदा की है।
  आज तक, जी न्यूज, जनमत और सीएनईबी आदि चैनलों से जुड़े रहे राहुल देव कहते हैं कि मीडिया का कंटेंट व्यावसायिक हितों से प्रभावित न हो, यह सुनिचित करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि नई पीढ़ी के पत्रकार अध्ययनशील नहीं हैं। शिक्षण संस्थानों से पत्रकारिता पढ़कर निकलने वाले युवक-युवतियों से मिलकर साफ पता चलता है कि वे अपनी पाठ्यपुस्तकों व चंद अखबारों के अलावा कुछ पढ़ते ही नहीं हैं। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता के शिक्षण संस्थानों के पास सक्षम व अनुभवी शिक्षकों की कमी है जो इन संस्थानों के उत्पाद में साफ महसूस की जा सकती है। उन्होंने कहा कि देश में इस समय पत्रकारिता के शिक्षण संस्थानों की संख्या आवश्यकता से कहीं ज्यादा हो गई है। अब आवश्यकता इनके कार्य में गुणात्मक  इजाफे की है। उन्होंने कहा कि जो लोग समाचार पत्रों में कुछ समय लगाने के बाद टेलीविजन की डगर पकड़ते हैं वे उन लोगों की तुलना में कहीं अच्छे पत्रकार बनते हैं जो सीधे टेलीविजन से पत्रकारिता प्रारंभ करते हैं। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि जो पत्रकारिता शिक्षण संस्थानों अपने यहां व्यावहारिक प्रशिक्षण की पर्याप्त व्यवस्था करनी चाहिए।

काबलियत के बल पर फैशन की दुनिया में विशेष मुकाम पाने में कामयाब रहे हैं वरूण सिडाना
सिरसा
। हरियाणा प्रदेश के एक कोने में बसे सिरसा शहर का कोई युवक यदि किसी भी क्षेत्र में मुकाम हासिल करता है तो वह केवल सिरसा जिला के लिए ही नहीं, बल्कि पूरे प्रदेश व देश के लिए गौरव की बात है। फैशन की चकाचौंध से पूरी तरह आत्मसमर्पित होने वाले वरूण सिडाना ने अपनी काबलियत के बल पर फैशन की दुनिया में विशेष मुकाम पाने में कामयाब रहे हैं। वरूण सिडाना का जन्म सरकारी सेवा में कार्यरत परिवार में 1985 को हुआ। वरूण सिडाना में फैशन की दुनिया में जाने का बचपन से ही गहरा लगाव था। इसी लगाव के चलते उनके कदम दिल्ली, मुंबई और कोलकत्ता जैसे महानगरों की ओर बढ़ते चले गए। उन्होंने अल्प समय में मुंबई जाने वाले फैशन डिजाइनर सोहम चकवर्ती व तस्लीम मर्चेंट जैसी शख्सीयतों के साथ काम करना शुरू किया। इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। वह फैशन की दुनियां में अब अपनी विशेष पहचान बना चुके हैं और देश के जाने-माने फैशन डिजाईनरों और वस्त्र निर्माता कम्पनियों से जुड़ चुके हैं। वरूण सिडाना अब तक अनेक फैशन शो में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा चुके हैं। सिरसा जैसे छोटे से शहर में जन्म लेने वाला शख्स यदि फैशन की रंगीन दुनिया में अपना नाम कायम रखने में सफल होता है तो यह सिरसा के लोगों के लिए गौरव की बात है।

आधुनिक युग में बिजली विकास की धुरी है
सिरसा,
8 जून। आधुनिक युग में बिजली विकास की धुरी है। जनता को बिजली समस्या से निजात दिलाने तथा उन्हें प्रर्याप्त मात्रा में बिजली उपलब्ध करवाने के लिए सरकार द्वारा व्यापक कदम उठाए गए हैं। प्रदेश में बिजली व्यवस्था को मजबूत करने के लिए जिला के सभी बड़े गांवों में बिजली के सब स्टेशन स्थापित किए जाएंगे। यह बात सिरसा के सांसद डा अशोक  तंवर ने अपने निवास स्थान पर धिगंतानियां गांव के लोगों की समस्याएं सुनने के उपरान्त कही। धिगंतानियां ग्राम पंचायत व ग्रामवासियों ने सांसद तंवर से अनुरोध किया कि गांव में 33 केवी स्टेशन स्थापित किया जाए जिसके लिए पंचातय डेढ एकड़ जमीन भी देने को तैयार हैं। ग्रामीणों ने सांसद तंवर को बताया कि शहीदांवाली रोड़ पर इस सब स्टेशन को स्थापित करने के लिए पंचायत की और से जमीन मुहैया करवाई गई है। ग्रामीणों व पंचायत सदस्यों ने इस मौके पर जमीन का रैजुलेशन पत्र भी डा. अशोक तंवर को सौंपा। डा. तंवर ने ग्रामीणों की समस्याओं को ध्यानपूर्वक सुनकर कहा कि उक्त विषय में वे प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा व बिजली मंत्री से बात करके इस समस्या का हर संभव हल करने का प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार भी जनता को बिजली, पानी, स्वास्थ्य शिक्षा, सड़क आदि सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि शहरों जैसी सुविधाएं ग्रामीणों को उपलब्ध करवाने के लिए सरकार नई-नई योजनाएं क्रियावंत कर रही है। उन्होंने कहा कि जनता को पर्याप्त मात्रा में बिजली उपलब्ध करवाने के लिए प्रदेश में नए-नए कारखाने लगवाए जा रहे हैं। प्रदेश के सभी बड़े गांवों में बिजली के सब स्टेशन लगाए जा रहे हैं। ग्रामीणों ने सांसद तंवर को बताया कि धिंगतानियां में इस सब स्टेशन के स्थापित होने से रंगड़ी,बकरियांवाली,अरनियांवाली,चौबुर्जा,धिंगतानिया सहित अन्य गांवों के सैंकड़ों लोगों को इससे काफी फायदा होगा। उन्होंने बताया कि पिछले काफी समय से संबंधित गांवों के लोगों को बिजली की समस्या दो-चार होना पड़ रहा है। वहीं किसानों को फसल की बिजाई करने में भी काफी परेशानी सामने आ रही है। ग्रामीणों ने सांसद तंवर को विश्वास दिलाया कि वे इस सब स्टेशन को स्थापित करवाने में पूरा सहयोग करेंगे।
         इस अवसर पर उनके साथ पार्टी जिलाध्यक्ष मलकीत सिंह खोसा,लादूराम पूनियां,औमप्रकाश केहरवाला, भूपेश मैहता,आनन्द बियानी, नवीन केडिया,सुरजीत बहावदीन,सरपंच प्रतिनिधि बलबीर न्यौल, पूर्व सरपंच ओमप्रकाश सहारण, कन्हैया लाल, हरफूल जांगू, कन्नी राम नांदेवाल,जगदीश न्यौल,अमीलाल भाकर,ओमप्रकाश सैनी, डा. सुभाष जोधपूरिया, भूपेन्द्र सिंह राठौड़, शीशपाल केहरवाला सहित अन्य कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित थे

प्रदेश के हर जिले के लिए एक समान सोच रखकर कार्य कर रहे हैं मुख्यमंत्री
सिरसा
। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के एक बार फिर पश्चिमी छोर पर बसे सिरसा जिले में आगमन से यह बात साफ हो जाती है कि वे प्रदेश के हर जिले के लिए एक समान सोच रखकर कार्य कर रहे हैं। विकास पुरूष की शैली के रूप में कार्य करने के कारण मुख्यमंत्री प्रदेश की राजनीति के अब तक के सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री साबित हो रहेे हैं। यह बात आज प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधि होशियारी लाल शर्मा ने रानिया रोड पर पुरानी सब्जी मंडी के पास श्री बालाजी हरा चारा यूनियन के तत्वावधान में आयोजित एक जनसभा में लोगों को संबोधित करते हुए कही। इसकी अध्यक्षता यूनियन के प्रधान राम स्वरूप ने की। गौरतलब है कि श्री शर्मा मुख्यमंत्री के कार्यक्रमों के आमंत्रण को लेकर सुबह-शाम जनसंपर्क अभियान में जुटे हुए हैं। इस दौरान श्री शर्मा के साथ पूर्व जिला उपप्रधान मा. राजकुमार वर्मा, जिला कांग्रेस महासचिव संत लाल गुंबर, युवा कांग्रेस मीडिया सैल के उपाध्यक्ष संजय शर्मा, पूर्ण गिरधर, हरीश सोनी, तिलक चंदेल, रवींद्र मलिक, नायब सिंह थिराज व सुखदेव बाजीगर सहित अन्य कांग्रेसी कार्यकर्ता भी मौजूद थे।
    उन्होंने कहा कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा 11 जून को शहर में करोड़ों रूपए की परियोजनाओं कि शुरूआत करेंगे। उन्होंने यह भी बताया कि इस दिन मुख्यमंत्री हुड्डा अग्रवाल व अरोड़वंश की चिरलंबित मांग पर धर्मशालाओं का नींव पत्थर रखेंगे साथ ही सिरसा के लोगों के लिए रानियां रोड़ पर अत्याधुनिक अस्पताल का शिलान्यास भी करेंगे। 11 जून को मुख्यमंत्री के स्वागत में लोगों से कार्यक्रमों में पहुंचने की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि श्री हुड की महान सोच के कारण प्रदेश दिन दोगुनी रात चौगुनी उन्नति कर रहा है। उनकी करनी और कथनी में कोई अंतर नहीं है।  इस मौके पर कालू जैन, मन्नी सिंह, डब्बू सैनी, आदराम, वेद प्रकाश, रघुबीर सिंह, ओम प्रकाश, गोपी चंद, पप्पू नागपाल, कश्मीर चंद, बलदेव, बाबूराम, प्रेम, मनरूप, किशन लाल, लीलराम, बक्शीश, मनोहर व भूरा सहित सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित थे।

मूर्ति स्थापना दिवस 11 जून को मनाया जाएगा
ओढ़ां
    पुरानी अनाज मंडी ओढ़ां में स्थित श्रीदुर्गा मंदिर में आगामी 11 जून को श्रीदुर्गा मंदिर प्रबंधक कमेटी के तत्वाधान में मूर्ति स्थापना दिवस बड़ी धूमधाम व उत्साह के साथ मनाया जाएगा। यह जानकारी देते हुए मंदिर के पुजारी पंडित विष्णु भारद्वाज ने बताया कि इस वार्षिक समारोह को लेकर सेवादारों द्वारा जोरशोर के साथ तैयारियां की जा रही है। 11 जून के कार्यक्रम के बारे में उन्होंने बताया कि सुबह सबेरे श्रीदुर्गा जी की मूर्ति को दूध, दही, शहद, घी एवं गंगाजल से स्नान करवाया जाएगा। तदुपरांत हवन यज्ञ का आयोजन किया जाएगा तथा भोग लगाने के बाद भंडारा शुरू कर दिया जाएगा जो शाम तक चलेगा। उन्होंने बताया कि रात्रि को श्री भगवती भजन मंडल एवं श्री ज्वालाजी भजन मंडल द्वारा जागरण का आयोजन किया जाएगा जिसमें क्षेत्रभर के श्रद्धालु काफी संख्या में शामिल होकर मां भगवती का आशीर्वाद प्राप्त करेंगे।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: