>local news, sirsa news, स्थानीय समाचार, सिरसा समाचार

2 जून

>


 32 लोगों को व्यवसाय स्थापित करने हेतु 11 लाख 73 हजार रुपए के ऋण उपलब्ध करवाए

सिरसा
    हरियाणा अनुसूचित जाति वित्तीय एवं विकास निगम द्वारा जिला में चालू वित्त वर्ष के दौरान गत मई माह कुल 32 लोगों को विभिन्न प्रकार के व्यवसाय स्थापित करने हेतु 11 लाख 73 हजार रुपए के ऋण उपलब्ध करवाए गए जिनमें निगम द्वारा राज्य सरकार की योजना के तहत 2 लाख 6 हजार रुपए की सब्सिडी उपलब्ध करवाई गई।
    यह जानकारी देते हुए उपायुक्त डा0 युद्धबीर सिंह ख्यालिया ने बताया कि निगम द्वारा कृषि से जुड़े व्यवसाय डेयरी फार्मिंग के लिए  7 लाख 92 हजार  रुपए की ऋण राशि उपलब्ध करवाई गई जिसके  तहत  एक लाख 25 हजार रुपए की राशि की सब्सिडी शामिल है। उन्होने  बताया कि भेड़ पालन योजना के तहत 3 लाख 51 हजार रुपए की राशि ऋण के रुप में विभिन्न बंैकों से उपलब्ध करवाई गई। इसमें से 75 हजार रुपए की सब्सिडी भी निगम द्वारा दी गई।  उन्होंने   बताया कि औद्योगिक एवं व्यापारिक गतिविधियों के लिए भी निगम द्वारा  30 हजार रुपए की राशि ऋण के रुप में विभिन्न बैंकों के माध्यम से दिलवाई गई।
  
    डा0 ख्यालिया ने बताया कि अनुसूचित जाति के लोगों को आर्थिक रुप से ऊपर उठाने और अपना व्यवसाय स्थापित करने के उद्देश्य से कृषि, औद्योगिक, व्यापारिक क्षेत्रों से जुड़ी गतिविधियों के लिए ऋण सहायता उपलब्ध करवाई जाती है। उन्होंने बताया कि डेयरी व्यवसाय में एक पशु खरीदने के लिए 23 हजार 650 रुपए और मुर्गी पालन के लिए 22 हजार रुपए, भेड़ पालन के लिए 47 हजार 700, सुअर पालन के लिए 34 हजार 100 रुपए, झोटा-बुग्गी तथा ऊंंट रेहड़े की एक यूनिट खरीद के लिए 20 हजार रुपए की राशि उपलब्ध करवाई जाती है। इसी प्रकार से लघु उद्योग लगाने के लिए 40 हजार रुपए प्रति व्यक्ति और दुकान आदि खोलने के लिए भी 40 हजार रुपए की राशि प्रति लाभार्थी प्रदान की जाती है। उन्होंने बताया कि निगम द्वारा कार, आटो रिक्शा, टैक्सी व अन्य वाणिज्यिक वाहन खरीदने हेतु भी आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाई जाती है। उन्होंने अनुसूचित जाति के लोगों से अपील की कि वे सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ उठाए और निगम में ऋण एवं आर्थिक सहायता प्राप्त करने हेतु आवेदन करे।

श्री प्रहलाद सिंह गिल्लाखेड़ा कार्यकत्र्ताओं की बैठक लेंग
सिरसा
    5 जून को  प्रात: 10 बजे नाथुसरी चौपटा में लोक निर्माण, वन एवं आवास  विभाग हरियाणा के मुख्य संसदीय सचिव श्री प्रहलाद सिंह गिल्लाखेड़ा कार्यकत्र्ताओं की बैठक लेंगे और इस मौके पर वे ग्रामीणों की समस्याएं भी सुनेगे।
    यह जानकारी देते हुए   श्री प्रहलाद सिंह  गिल्लाखेड़ा   के निजि सचिव राजपाल भाम्भु ने बताया कि 11 जून को मुख्यमंत्री श्री भुपेन्द्र सिंह हुड्डा के सिरसा में आगमन हेतू  कार्यकत्र्ताओं की बैठक लेकर  डियुटीयां लगाएगे तथा आवश्यक दिशा निर्देश देेेंगे। उन्होंने बताया कि सिरसा वासी  मुख्यमंत्री के स्वागत के लिए 11 जून का बेसब्री से इंतजार कर रहे है। इस दिन मुख्यमंत्री जिला वासियों केलिए नई सौगात लेकर आ रहे है। उन्होंने बताया कि लोगो मे मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर  उत्साह है।

वर्ष 2011-12 के लिए भीम पुरस्कार के लिए आवेदन- पत्र आंमत्रित
सिरसा
    खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग ने वर्ष 2011-12 के लिए भीम पुरस्कार के लिए आवेदन- पत्र आंमत्रित किए हैं। आवेदन-पत्र निदेशालय, खेल एवं युवा कार्यक्रम 31 जूलाई 2011 तक पहुंच जाना चाहिए।
यह जानकारी देते हुए उपायुक्त डा0 युद्धबीर सिंह ख्यालिया ने बताया कि राज्य सरकार की खेल नीति के अनुसार गत तीन वर्षो के दौरान मान्यता प्राप्त अंतराष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं तथा सीनीयर राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओ तथा सीनीयर राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले छ: उत्कृष्ट(शरीरकरूप से विकलांग एक खिलाड़ी )खिलाडिय़ों को भीम पुरस्कार से सम्मानित किया जाना है। उन्होने बताया कि भीम पुरस्कार के अंतर्गत दो लाख रूपए का नकद ईनाम, एक भीम प्रतिमा, एक स्क्रोल, एक बलैजर एवं टाई/स्कार्फ प्रदान किया जाता है आवेदन केवल वे ही खिलाड़ी कर सकते है। जिन्होने राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में हरियाणा राज्य की और से प्रतिनिधित्व किया हो तथा मान्यता प्राप्तअंतराष्ट्रीय प्रतियोगिताओ में भाग लेने के लिए भारतीय राष्ट्रीय टीम में उनके चयन से पूर्व हरियाणा की ओर से प्रतिनिधितव किया हो।
    डा0 ख्यालिया ने बताया कि वर्ष 2011-2012के लिए नकद पुंरस्कार हेतुभी आवेदन आमंत्रित किए गए है। गत वित्त वर्ष के दौरान राष्टीय/ अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओ में प्राप्त प्रत्येक पदक के आधार पर अलग से नकद पुरस्कार दिया जाएगा। खिलाडी़ हरियाणा राज्य का निवासी होना चाहिए। तथा इस संबंध में एक प्रमाण पत्र आवेदन पत्र के साथ सलंगन होना चाहिए । उन्होन बताया कि अंतर्राष्ट्रीय  उपलब्धि का दावा करने वाले खिलाडी़ ने अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता  से पूर्व राष्ट्रीय प्रतियोगिताओ में हरियाणा राज्य की ओर से प्रतिनिधित्व किया हो। उन्होने बताया कि नकद पुरस्कार के लिए खिलाड़ी द्वारा हरियाणा राज्य की ओर से राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में प्रतिनिधत्व अनिवार्य है। भीम पुरस्कारों आर नकद पुरस्कारों के लिए आवेदन पत्र संबधित ,खेल के सचिव ओर कौच द्वारा विधिवत साक्ष्याकित जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी के माध्यम से प्राप्त किए जा सकते है। उन्होंने बताया कि  आवेदन पत्र निदेशालय, खेल एवं युवा कार्यक्रम में 31 जुलाई 2011 तक पहुंच जाने चाहिए।

सिरसा जिले में विकास की अनेक योजनाएं आरंभ की गई
सिरसा
    गृह राज्यमंत्री गोपाल कांडा और हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधि गोबिंद कांडा के प्रयासों से सिरसा जिले में विकास की अनेक योजनाएं आरंभ की गई हैं। कांडा बंधुओं ने अपने सभी चुनावी वायदों पर खरा उतरकर यह साबित कर दिया है कि उनकी कथनी और करनी में कोई अंतर नहीं है। मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व में व कांडा बंधुओं के प्रयासों की बदौलत दशकों से धर्मशाला के लिए भूमि की मांग कर रहे अग्रवाल और अरोड़वंश समुदाय को 2600-2600 वर्ग गज जगह धर्मशाला निर्माण हेतु अलॉट हुई है। उपरोक्त शब्द कांग्रेस नेता प्रेम शर्मा ने 11 जून को आयोजित होने वाले मुख्यमंत्री चौ. भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के अभिनंदन समारोह हेतु ग्रामीणों को आमंत्रित करते हुए चलाए जनसंपर्क अभियान के दौरान चामल गांव में आयोजित सभा में कहे। 11 जून के अभिनंदन समारोह को भव्य बनाने को लेकर कांडा बंधुओं एडी-चोटी का जोर लगा रखा है। पूरे जिले में व्यापक जनसंपर्क अभियान आरंभ करके ग्रामीणों को सरकार की जनहितैषी नीतियों की जानकारियां दी जा रही हैं। इसी के तहत रानियां हलके के डेढ़ दर्जन गांवों में प्रेम शर्मा, मक्खन सिंह ख्योंवाली, रामकुमार खैरेकां, भालचंद भाटीवाल, स. गुरदेव सिंह, कृपाल सिंह, नीलम शेखावत, रोशनी देवी, पूर्ण चंद सहारनी, हंसराज पूर्व सरपंच ने सभाएं की। वहीं दूसरी ओर कृष्ण सैनी, जयसिंह कुसुंबी, रंगड़ी के सरपंच जगजीत सिंह, चरण सिंह कैरांवाली, बाबू लाल अलीमोहम्मद ने चाडीवाल, नहराना सहित सिरसा हलके के दर्जन भर गांवों का दौरा कर लोगों को अभिनंदन समारोह के लिए आमंत्रित किया।

पुलिस समाचार
सिरसा
    जिला की सदर डबवाली पुलिस ने सट्टा खाईवाली करने के आरोप में गांव फूलो निवासी अंग्रेज सिंह पुत्र करतार सिंह को 310 रुपये की सट्टा राशि के साथ उसी के गांव से काबू कर लिया है।
    एक अन्य घटना में थाना सदर पुलिस ने फूलो गांव से ही काका सिंह पुत्र नेक सिंह को 240 रुपये की सट्टा राशि के साथ काबू किया। पकड़े गए दोनों आरोपियों के विरुद्ध थाना सदर डबवाली में मामले दर्ज किये गये हैं।
    ओढां पुलिस ने गश्त व चैकिंग के दौरान एक व्यक्ति को 17 बोतल देसी शराब के साथ गांव मलिकपुरा क्षेत्र से काबू किया है। पकड़े गए आरोपी की पहचान गोपी राम पुत्र रामचंद निवासी मलिकपुरा के रूप में हुई है। आरोपी के विरुद्ध थाना ओढां में मामला दर्ज किया गया है।
    थाना शहर सिरसा पुलिस ने तीन लोगों के विरुद्ध दहेज प्रताडऩा का अभियोग दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस को दर्ज करवाई शिकायत में सुनीता घुलाटी पुत्री जोगेन्द्र सिंह निवासी रानियां रोड सिरसा ने पुलिस को दर्ज करवाई शिकायत में अपने पति सचिन, देवर अनिल व सास संतोष निवासी राम नगर करनाल के विरुद्ध दहेज के लिए प्रताडि़त करने और दहेज न देने की सूरत में जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है। थाना शहर सिरसा पुलिस ने इस संबंध में आरोपियों के विरुद्ध भादसं की धारा 498ए, 406, 506 व 34 के तहत अभियोग दर्ज कर मामले की जांच सब्जी मंडी चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक रामकुमार को सौंप दी है।

श्रीमती सोनिया गांधी ने स्वास्थ्य सेवाओं में बढ़ोत्तरी की नई पहल की
सिरसा
    बुधवार का दिन न केवल हरियाणा प्रदेश बल्कि पूरे देश के लिए एक अहम दिन रहा चूंकि श्रीमती सोनिया गांधी ने स्वास्थ्य सेवाओं में बढ़ोत्तरी की नई पहल देशभर में की है।
    यह बात सिरसा लोकसभा क्षेत्र के सांसद एवं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव डा. अशोक तंवर ने प्रैस को जारी एक बयान में कहीं। उन्होंने मेवात जिले के गांव मांडी खेड़ा में शुरू की गई जननी शिशु सुरक्षा योजना का स्वागत करते हुए यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी तथा हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा का आभार जताया है। सांसद ने कहा कि जब तक महिलाएं स्वस्थ नहीं होगी तब तक एक स्वस्थ समाज की कल्पना भी नहीं की जा सकती। सशक्त और जागरूक महिला का समाज के विकास में अहम योगदान है। आज की महिला किसी भी क्षेत्र में पुरूषों से कम नहीं है और महिलाओं ने हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा को लोहा मनवाया है।
    डा. अशोक तंवर नेे जारी ब्यान में कहा कि समाज की 50 प्रतिशत आबादी महिलाओं की है औरअगर समाज का आधा हिस्सा खुश नहीं है तो विकास कैसे होगा। उन्होंने कहा कि उन्हें अहसास है कि सामाजिक चेतना न होने की वजह से महिलाओं को सामाजिक बंधनों का सामना करना पडता है और उन्हें योग्यता एवं क्षमता का सही उपयोग नहीं हो पाता और उन्हें बराबर समान एवं अवसर नहीं मिलता। उन्होंने कहा कि हम सबका कर्तव्य है कि महिलाओं के योगदान को समझें। चाहे कानूनी तौर पर हो या सामाजिक तौर पर, महिलाओं का भी हर तरह से उत्थान होना चाहिए।
    उन्होंने बताया कि गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं के अभिभावकों की विभिन्न प्रकार से होने वाल परेशानियों को देखते हुए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से सभी राज्यों की सहमति से एक प्रमुख पहल की है जिसके अंतर्गत शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों में सामान्य डिलीवरी और सिजेरियन आपरेशन के साथ-साथ जन्म के 30 दिन तक नवजात दुर्बल शिशु की देखभाल सहित गर्भवती महिलाओं को बिना किसी नगद भुगतान के नि:शुल्क सेवाएं प्रदान की जाएंगी।
    डॉ. तंवर ने बताया कि हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व में राज्य सरकार जनहितकारी नीतियों एवं जन कल्याणकारी नीतियों का लाभ आमजन तक पहुंचाने के लिए गंभीरता से प्रयासरत हैं। उन्होंने कहा कि यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी के करकमलों द्वारा आरंभ की गई जननी शिशु सुरक्षा योजना में जच्चा-बच्चा की देखभाल के लिए व शिशु जन्म दर में बढ़ोत्तरी करने के उद्देश्य से सार्थक पहल की गई है। उन्होंने कहा कि सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ आमजन तक बेहतर ढंग से मिल सके इसके लिए राज्य सरकार की ओर से भी कारगर कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि जननी शिशु सुरक्षा योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को जो नगद सहायता राशि दी जाती है, इसके साथ ही अन्य मिलने वाली सुविधाएं उसके अतिरिक्त हैं और इनका उद्देश्य गर्भवती महिलाओं व नवजात शिशुओं के लिए लोगों द्वारा किए गए खर्च के बोझ को कम करना है। इस कार्यक्रम से गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं को सरकारी अस्पतालों तथा स्वास्थ्य केन्द्रों में मुफ्त सेवायें और सुविधायें मिलेंगी, जिससे मातृ और शिशु मृत्यु दर को कम करने में सहायता मिलेगी। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम से महिलाओं को सरकारी अस्पतालों और स्वास्थ्य केन्द्रों में नि:शुल्क प्रसूति के अलावा दवायें, भोजन और यहां तक कि आवश्यकता पडऩे पर खून भी मुफत उपलब्ध कराया जायेगा। गर्भवती महिलाओं को घर से स्वास्थ्य केन्द्र तक लाने के लिए ए बुलैंस की मुफत सेवा मिलेगी और अगर वहां से उन्हें किसी बड़े अस्पताल में रैफर किया जाता है, तो सरकारी खर्च पर भेजा जायेगा।
   
सरकारी अस्पतालों में प्रसव के दौरान जहां एक तरफ मुफ्त ईलाज मिलेगा
सिरसा
    महिलाओं को अब सरकारी अस्पतालों में प्रसव के दौरान जहां एक तरफ मुफ्त ईलाज मिलेगा, वहीं शिशु की देखभाल का जिम्मा एक महीने तक सरकार उठाएगी, जिसमें सृजेरियम ऑप्रेशन, दवाएं, उपयोगी वस्तुएं, जांच, भोजन, रक्त, घर से स्वास्थ्य केन्द्र तक वाहन सुविधा शामिल है। यह बात सिरसा शहर कॉलेज के ब्लॉक शहरी अध्यक्ष भूपेश मेहता ने आज सामान्य अस्पताल में मरीजों से बातचीत व उनका हालचाल पूछते हुए कही। श्री मेहता ने कहा कि कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी व प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा की सदैव यह सोच रही है कि स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ आम आदमी तक पहुंचे और बिना महिलाओं व शिशु के उत्थान के बिना देश की तरक्की को गति प्रदान नहीं की जा सकती। इसके लिए जननी व शिशु को आत्मनिर्भर होना जरूरी है, क्योंकि देश में 67 हजार गर्भवती महिलाएं व 13 लाख बच्चे ईलाज के अभाव में दम तोड़ जाते हैं। जननी योजना जहां इस तरह की मौतों पर अंकुश लगाएगी, वहीं इस जननी शिशु सुरक्षा योजना से अब कोई भी मां व शिशु ईलाज के अभाव में दम नहीं तोड़ेगा। इस अवसर पर श्री मेहता के साथ डॉ. श्रीमती विरेन्द्र दीप गिल, प्रभुदयाल, विनोद उपाध्याय, प्रेम सैनी, अशोक कायत, कृष्ण सैन, फूला राम, सुरेन्द्र कंवरपुरा, रामरत्न इंदौरा साथ थे। इस अवसर पर श्री मेहता ने सामान्य अस्पताल प्रशासन द्वारा मरीजों के हित में किये जा रहे कार्यों की प्रशंसा की।

सीएम आगमन को लेकर गिल्लांखेड़ा लेंगे 5 को बैठक
नाथूसरी चौपटा
    हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के 11 जून सिरसा आगमन को लेकर हरियाणा सरकार के मुख्य संसदीय सचिव प्रहलाद सिंह गिल्लांखेड़ा 5 जून को चौपटा की शिव धर्मशाला में कार्यकर्ताओं की बैठक लेंगे। कांग्रेसी नेता बलबीर ङ्क्षसंह जांदू ने बताया कि बैठक उपरांत गिल्लांखेड़ा व गृह राज्य मंत्री गोपाल कांडा, गोबिन्द कांडा लोगों की समस्याएं सुनकर उनका मौके पर निवारण करेंगे। बैठक का निमंत्रण देने के लिए बलबीर जांदू, हवासिंह कासनियां, रामसिंह कागदाना, रणजीत ङ्क्षसह कासनियां ने गांव अरनियांवाली, बकरियांवाली, गुडिया, ढूकड़ा, जमाल सहित दर्जन भर गांवों का दौरा करके कार्यकर्ताओं से बैठक में पहुंचने का आह्वान किया।

डा. गजेंद्र कुमार सिंह की नानी के निधन पर शोक व्यक्त किया
सिरसा
    हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट के पूर्व प्रधान डा. गजेंद्र कुमार सिंह की नानी के निधन पर हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट परिवार ने गहरा शोक व्यक्त किया है। हयूज द्वारा आयोजित एक बैठक में सभी सदस्यों ने दो मिनट को मौन रख कर परम पिता प्रमात्मा से दुआ की कि इस नशवर संसार को छेाड़ गई रूह को अपने चरणों में स्थान दें।

आत्मप्रकाश शर्मा सेवानिवृत्त हो गए
सिरसा
    अग्निशमन विभाग में बतौर सब अग्निशमन अधिकारी 34 वर्ष की लंबी सेवा देने के बाद सिरसा निवासी आत्मप्रकाश शर्मा सेवानिवृत्त हो गए। उनके सम्मान में अग्निशमन कार्यालय में एक विदाई समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें उनके साथियों व विभाग के कई अधिकारियों ने भाग लेकर उन्हें विदाई दी। इस अवसर  पर नगर परिषद के चेयरमैन सुरेश कुक्कू, अग्निशमन अधिकारी रामकुमार खिच्चड़, डबवाली अग्निशमन अधिकारी हरमिन्द्र शर्मा व उप अग्निशमन अधिकारी श्याम सुंदर, राम निवास शर्मा, पुरुषोत्तम लाल शर्मा, फायर मैन धर्मपाल, अशोक शर्मा, शंकर लाल शर्मा, नसीब सिंह पूनिया, समरेन्द्र, सुखदेव सिंह, सज्जन सिंह, रणधीर सिंह, जगदीश, प्रकाश सहित अनेक कर्मचारी व अधिकारी उपस्थित थे।
    इस अवसर पर नगर परिषद चेयरमैन व अग्निशमन अधिकारी रामकुमार खिच्चड़ ने कहा कि आत्मप्रकाश शर्मा ने विभाग में लंबे समय से जो सेवा दी है, उसे हमेशा याद रखा जाएगा। उनका कार्य करने का तजुर्बा काफी सराहनीय रहा है। उन्होंने हर एक व्यक्ति के साथ शालिन व मधुर स्वभाव बनाए रखा तथा अपने कार्य को ईमानदारी से निभाया। इस अवसर पर स्टाफ सदस्यों ने उन्हें फूल मालाएं पहनाकर व स्मृति चिन्ह देकर तथा ढोल की थाप पर पूरे सम्मान के साथ विदा किया।

स्वदेशी शिक्षा व्यवस्था व अपनी न्याय व्यवस्था हो : योगी
रानियां
    स्थानीय भगत सिंह चौक में पंतजलि योग समिति व भारत स्वाभिमान ट्रस्ट की तरफ से एक जनसभा का आयोजन किया गया। जिसमें अंग्रेज सिंह ने मुख्यातिथि के रूप में शिरकत की। जनसभा को संबोधित करते हुए पंतजलि योग समिति के जिलाध्यक्ष चंद्रपाल योगी व गुरदेव सिंह कूका एडवोकेट ने बाबा रामदेव द्वारा जनकल्याणकारी मुद्दों को लेकर चलाए जा रहे सत्याग्रह व 4 जून को अनशन पर बैठने के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारत 15 अगस्त 1947 को आजाद तो हो गया लेकिन इस आजादी के बाद अंग्रजों के बनाए गए 34735 लूट के कानून व मैकाले की शिक्षा नीति में हम लगातार पिसते आ रहे हैं। अंग्रेजों के द्वारा बनाई गई लूट की नीति ज्यों की त्यों बरकरार रहने से हमारे देश के कुछ भ्रष्ट राजनेताओं, भ्रष्ट अधिकारियों व भ्रष्ट ब्यूरोक्रेटस द्वारा देश की जनता की खून व पसीने की कमाई को लूट कर विदेशी बैंकों में जमा करवाकर देश को कंकाल करने की कोशिश की जा रही है। बाबा रामदेव द्वारा चलाए जा रहे सत्याग्रह के अंतर्गत विदेशी बैंकों में जमा काले धन को राष्ट्रीय सम्पति घोषित कर भारत लाने व स्वदेशी शिक्षा व्यवस्था व अपनी न्याय व्यवस्था बनाने के अभियान के बारे में लोगों  को जानकारी दी। इस अवसर पर बहन इंद्रावली, बहन मोहनी, एड़वोकेट यादव, मलकीत सिंह, जसविंद्र सिंह गोरा, गुरबचन सिंह सूबेदार, कस्तूरी लाल सिंगला, डा. चोपड़ा, सुखविंद्र सिंह च_ा, सुरजीत सिंह, श्याम सुंदर, दिलबाग बाजवा, सुरेंद्र गोयल समेत अनेक उपस्थित थे। 

4 जून को विशाल क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया जाएगा
सिरसा
    शहीद उधम सिंह युवा कलब बहावदीन द्वारा गांव बहावदीन में 4 जून को विशाल क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया जाएगा। यह कार्यक्रम 3 दिन तक चलेगा। टूर्नामेंट गांव के सतुलुज पब्लिक स्कूल के मैदान में होगा और लगभग 30 टीमें इसमें भाग लेंगी। टूर्नामेंट में प्रथम स्थान हासिल करने वाली टीम को 5100 रुपए की राशि व द्वितीय स्थान पर रहने वाली टीम को 3100 रुपए व ट्रॉफी देकर सम्मानित किया जाएगा। क्लब के सदस्य परमिंद्र सिंह व जयभगवान ने बताया कि टूर्नामेंट में मैन ऑफ द मैच व मैन ऑफ द सीरिज रहने वाले खिलाडिय़ों को भी पुरस्कार दिया जाएगा।

अपनी काबलियत के दम पर महारथ को छुआ
सिरसा
    सीबीएसई बोर्ड द्वारा घोषित हुए मैट्रिक के परीक्षा परीणाम में हर बार की तरह परचम लहराने वाला शाह सतनाम सिंह जी शिक्षण संस्थान के छात्राओं ने अपनी काबलियत के दम पर फिर से महारथ को छुआ है। घोषित हुए रिजल्ट के अनुसार शाह सतनाम जी गल्र्स स्कूल की कक्षा 10वीं की कुल 191 छात्राओं में से 191 छात्राएं उत्तीर्ण हुई, जिनमें से 9 छात्राओं ने 95 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करके स्कूल के साथ-साथ सिरसा के नाम को भी चमकाया है, वहीं आठ छात्राएं ऐसी हैं, जिन्होंने 90 से 94 प्रतिशत के बीच अंक प्राप्त किये हैं, वहीं 41 छात्राओं ने 85 से 89 प्रतिशत के बीच अंक प्राप्त करके झंडे गाड़े हैं। इसी प्रकार 40 छात्राओं ने 80 से 84 प्रतिशत के बीच अंक प्राप्त किये। 33 छात्राओं ने 75 से 79 प्रतिशत के बीच अंक जुटाए तथा बाकी बची 60 छात्राओं ने 60 प्रतिशत से 74 प्रतिशत के बीच अंक लिये। स्कूल की कोई भी ऐसी छात्रा नहीं, जिसने 60 प्रतिशत से कम अंक लिये हों। बेहतरीन शिक्षा व उच्च व्यवस्था के कारण ही शाह सतनाम जी शिक्षण संस्थान की छात्राओं ने जहां खेल में तो विश्व पटल पर सिरसा का नाम चमकाया ही है, वहीं हर बार शिक्षा के क्षेत्र में भी सिरसा का नाम अव्वल स्थान पर रहता है। जिन छात्राओं ने 95 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किये हैं, उनमें गुरुशरण जो राष्ट्रीय गन शूटर की खिलाड़ी भी है व रणजीत जो राष्ट्रीय स्वीमिंग की खिलाड़ी हैं, ने 95 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किये हैं। इसी प्रकार सरूची, सुमन, पल्लवी, छाया, निलमानी, सुखमंजीत, पूनम ने 95 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त कर स्कूल के साथ-साथ अपने माता-पिता शहर का नाम भी रोशन किया है। अपने इस बेहतरीन रिजल्ट का श्रेय पूज्य हजूर पिता संत गुरमीत राम रहीम सिंह जी को देते हुए सभी छात्राओं ने कहा कि पूज्य पिता जी के दिशा-निर्देश अनुसार वे बेहतरीन अध्यापकों के प्रशिक्षण में ही यह महारत हासिल की है। इस अवसर पर स्कूल प्राचार्या शीला पूनिया ने बताया कि स्कूल प्रबंधन द्वारा बेहतरीन शिक्षा के साथ-साथ बच्चों को नैतिक जिम्मेदारियों का एहसास भी करवाया जाता है, जिस कारण ही आए वर्ष शाह सतनाम जी शिक्षण संस्थान की छात्राओं द्वारा बेहतरीन प्रदर्शन किया जा रहा है। इस अवसर पर प्राचार्या शीला पूनिया ने सभी प्राध्यापकों व छात्राओं के साथ लड्डू बांटकर खुशी जाहिर की व छात्राओं ने भांगड़ा डालकर खुशी का इजहार किया।

पंचायती भूमि से अवैध कब्जा हटाया
ओढ़ां
    गांव ख्योवाली में पंचायती भूमि पर किए गए अवैध कब्जे को ग्राम पंचायत ने प्रशासन व पुलिस की सहायता से गुरुवार को हटा दिया। गत 30 मई की रात को प्रेम कुमार पुत्र तुलसा राम ने प्राइमरी कन्या स्कूल की दीवार व जोहड़ के बीच में रातोंरात एक कमरे का निर्माण कर लिया। इस बारे में तुरंत ओढ़ां पुलिस को सूचना दी गई लेकिन फिर भी उसने काम नहीं रोका। 31 मई को ग्राम पंचायत ने रेजूलेशन डालकर खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी बलराज सिंह को दिया तो उन्होंने पुलिस की सहायता से तुरंत कब्जा हटाने के आदेश दे दिए लेकिन पुलिस किसी अन्य कार्य में व्यस्त होने के कारण मौके पर नहीं जा सकी तो खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी ने कब्जाधारी को कब्जा हटाने के लिए कहा तो उसने कहा कि वो एक दिन में कब्जा हटा देगा लेकिन उसने कब्जा अपने आप नहीं हटाया। सरपंच रीना रानी ने कहा कि वे अपने कार्यकाल में पंचायती भूमि पर किसी को भी कब्जा नहीं करने देगी और इसके लिए उसे चाहे जितना संघर्ष करना पड़े। आज गुरुवार को समाज शिक्षा एवं पंचायत अधिकारी भूप सिंह के नेतृत्व में एएसआई सुभाषचंद्र व अन्य पुलिस कर्मचारियों ने मौके पर जाकर मकान को गिरा दिया। इस दौरान कब्जाधारी ने ग्राम पंचायत व सरपंच को अश£ील गालियां देते हुए उसे देख लेने की धमकी दी। कब्जा हटाने के बाद प्रेम कुमार ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल छिड़क लिया और परिवार सहित आत्महत्या करने की धमकी दी तो मौके पर मौजूद सुभाषचंद्र एएसआई प्रेम कुमार, उसकी पत्नी कलावती, दो पुत्र कर्ण सिंह व कृष्ण लाल और पुत्रवधु सोनू को पकड़कर थाना में ले आए। इस मौके पर ग्राम सचिव कर्ण सिंह, पटवारी सतपाल, सरपंच रीना रानी व उसके पति वीरेंद्र कुमार, नंबरदार तनसुख राम, पंच कुलबीर सिंह, रमेश कुमार, सरस्वती देवी, असमानी देवी, राम सिंह और कृष्ण लाल सहित अनेक गांववासी उपस्थित थे।

17 बोतल शराब सहित एक काबू
ओढ़ां
    ओढ़ां पुलिस ने गांव मलिकपुरा से 17 बोतल ठेका शराब देसी बरामद करके एक व्यक्ति का आबकारी अधिनियम के तहत चालान काट दिया है। ओढ़ां थाना में कार्यरत जगतराम हैडकांस्टेबल ने गश्त के दौरान गेहूं खरीद केंद्र मलिकपुरा के निकट 17 बोतल ठेका शराब देसी सहित गोपीराम पुत्र रामचंद्र निवासी मलिकपुरा को पकड़कर चालान काट दिया।

सात दिवसीय प्रशिक्षण शिविर समपन्न
ओढ़ां
    ग्रामीण विकास एवं पंचायत विभाग द्वारा ग्राम रोजगार सहायकों व मेटों को खंड कार्यालय ओढ़ां में निर्माण उद्योग विकास परिषद नई दिल्ली के प्रशिक्षकों देवी सिंह व अमर सिंह पांचाल द्वारा दिया जा रहा सात दिवसीय खंड स्तरीय प्रशिक्षण शिविर गुरुवार को सम्पन्न हो गया। शिविर के अंतिम दिन खंड ओढ़ां के 37 गांवों के 69 रोजगार सहायकों व मेटों में से 67 ने लिखित परीक्षा दी। परीक्षा में मनरेगा से संबंधित प्रश्न पूछे गए। इन पेपरों को जांच के लिए निर्माण उद्योग विकास परिषद नई दिल्ली भेजा जाएगा। इस अवसर पर एबीपीओ सुनील कंबोज ने अपने संबोधन में कहा कि इस एक सप्ताह के दौरान आपको जो प्रशिक्षण दिया गया है आप उसी के अनुसार गांवों में काम करवाएं और अगली ग्राम सभा की बैठकें रोजगार सहायकों की अध्यक्षता में आयोजित की जाएंगी तथा मजदूरों को आगे से 15 दिन की बजाय हर सप्ताह मजदूरी दी जाएगी। इस अवसर पर रोजगार सहायकों ने उनसे अनेक प्रकार के प्रश्न पूछे जिनका उन्होंने मौके पर उत्तर देकर उन्हें संतुष्ट किया तथा प्रशिक्षक देवी सिंह व अमर सिंह को धन्यवाद दिया गया।
छायाचित्र:  लिखित परीक्षा देते प्रशिक्षणार्थी।

आंधी तूफान से नरमा कपास की फसल का नुकसान
ओढ़ां
    गत रात्रि आए आंधी, तूफान, बरसात के कारण ओढ़ां क्षेत्र के गांव बनवाला, रिसालियाखेड़ा, रत्ताखेड़ा, राजपुरा, नुहियांवाली, घुकांवाली, पन्नीवाला मोटा आदि अनेक गांवों में नरमा कपास की फसल का नुकसान होने के साथ साथ एक कमरा व दीवार गिर गई तथा बिजली व्यवस्था ठप्प होने के साथ साथ पेड़ों की शाखाएं टूट गई हैं व कुछ वृक्ष जड से उखड गए हैं।
    किसानों भूप सिंह, बलदेव सिंह, जयपाल, किरपाराम, रामकुमार और प्रदीप कुमार आदि का कहना है कि उन्होंने महंगे बीज व मोल के पानी से नरमा कपास की बिजाई की थी लेकिन आंधी तूफान से फसल नष्ट हो गई जिसकी अब नए सिरे से बिजाई करनी पड़ेगी। इसके अलावा कालूराम सिहाग के खेत में बना एक कमरा गिर गया और नलकूप के उपकरण क्षतिग्रस्त हो गए। जीताराम, हंसराज, जगदीश चंद्र और महावीर जाखड़ आदि के घरों की जालियां उखड़कर गिर गई। बिरमा राम व जीताराम के घरों के मुख्य द्वार टूट गए। जलघर की दीवार गिर गई, हाई स्कूल व प्राइमरी स्कूल में अनेक पेड़ गिर गए तथा हाई स्कूल में लगा झूला पेड़ के नीचे आकर क्षतिग्रस्त हो गया। मंगतराम के घर में कीकर का पेड़ गिरने से उसके नजदीक बंधी गाय बाल बाल बच गई और नुहियांवाली रोड़ पर बिजली के पोल गिर जाने के कारण रिसालियाखेड़ा के बिजलीघर से इस क्षेत्र में सप्लाई की जाने वाली पूरे क्षेत्र की बिजली व्यवस्था ठप्प होकर रह गई है तथा अनेक पेड़ गिर गए और पेड़ों की शाखाएं टूट गई।
    इस विषय में डबवाली के उपमंडल अधिकारी मुनीश कुमार व सिरसा के उपमंडल अधिकारी रोशन लाल से बात किए जाने पर उन्होंने कहा कि प्रकृति के कारण जो तबाही हुई है और किसानों की फसलों का जो नुकसान हुआ है उसकी जांच करने के लिए तहसीलदार व पटवारी को भेजा जाएगा।

कार्यस्थलों का दौरा करवाते हुए प्रशिक्षण दिया
ओढ़ां
    ग्रामीण विकास एवं पंचायत विभाग द्वारा ग्राम रोजगार सहायकों व मेटों के लिए खंड कार्यालय ओढ़ां में आयोजित सात दिवसीय खंड स्तरीय प्रशिक्षण शिविर में खंड ओढ़ां के 37 गांवों के 60 से अधिक रोजगार सहायकों व मेटों को निर्माण उद्योग विकास परिषद नई दिल्ली के प्रशिक्षकों देवी सिंह व अमर सिंह द्वारा दिए जा रहे प्रशिक्षण के दौरान आज सभी प्रशिक्षणार्थियों को एबीपीओ सुनील कंबोज के निर्देशन में गांव पन्नीवाला मोटा व रोहिडांवाली ले जाकर उन्हें मौके पर दोनों प्रशिक्षकों ने प्रैक्टीकल के रूप में काम कर प्रशिक्षित किया और गांव पन्नीवाला मोटा में जोहड़ की खुदाई कर रहे मजदूरों द्वारा खोदे गए गड्ढों को मापकर किस आधार पर मजदूरों की मजदूरी तय करनी है के बारे में विस्तार से बताया। गांव रोहिडांवाली में किसानों के खेतों में भूमि को समतल करने का काम व ग्राम पंचायत द्वारा लगाए गए बाग में ले जाकर दिखाया कि पंचायती भूमि में बाग कैसे लगाया जाता है और मजदूरों से क्या क्या काम कैसे करवाए जाते हैं तथा भूमि को कैसे समतल करवाया जाता है। इस अवसर पर पन्नीवाला मोटा की सरपंच सरपंच श्रीमती मंदोरी देवी, सहायक हरपाल सिंह, शीशपाल, रोहिडांवाली के सरपंच बनवारी लाल सहायक महेंद्र सिंह और ग्राम सचिव जयपाल सहित अनेक लोग उपस्थित थे।
छायाचित्र: कार्यस्थल पर प्रशिक्षण देते प्रशिक्षक।

सिलाई सैंटर गई लड़की घर नहीं लौटी
ओढ़ां
    गांव रत्ताखेड़ा से एक 22 वर्षीय लड़की अपने प्रेमी के साथ घर से चली गई है। लड़की के पिता दलीप कुमार ने ओढ़ां पुलिस को दिए अपने बयान में लिखा है कि उसकी 22 वर्षीय पुत्री पूनम उर्फ मोनिका जिसने जेबीटी की हुई है मंगलवार को सुबह के करीब 11 बजे घर से गांव में स्थित एक सिलाई सैंटर में जाने के लिए गई थी कि और वापिस नहीं आई। दलीप कुमार ने बताया कि पूछताछ करने पर उसकी सहेलियों ने बताया कि पूनम एक कार में सवार होकर चली गई है। दलीप कुमार को शक है कि उसकी लड़की को जिला रोहतक के गांव बलियाना निवासी 27 वर्षीय राजकुमार पुत्र परमवीर मलिक भगाकर ले गया है। उसने बताया कि राजकुमार मोबाइल पर उसकी बेटी का रिश्ता करवाने के बारे में अक्सर बात करता था और जो कि बठिंडा में स्थित तेलशोधक कारखाने में नौकरी करता है। थाना प्रभारी हीरा सिंह ने बताया कि दलीप कुमार की शिकायत पर रपट लिख ली गई है और उन दोनों की तलाश में अनेक जगहों पर रेड मारी है लेकिन उनका अभी तक कोई पता नहीं चला है।

ग्रामसभा के कार्यों बारे जानकारी दी
ओढ़ां
    ग्रामीण विकास एवं पंचायत विभाग द्वारा ग्राम रोजगार सहायकों व मेटों के लिए खंड कार्यालय ओढ़ां में आयोजित सात दिवसीय खंड स्तरीय प्रशिक्षण शिविर में खंड ओढ़ां के 37 गांवों के 60 रोजगार सहायकों व मेटों को निर्माण उद्योग विकास परिषद नई दिल्ली के प्रशिक्षकों देवी सिंह व अमर सिंह पांचाल द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षक देवी सिंह व अमर सिंह ने मनरेगा के तहत विभिन्न संस्थाओं की भूमिका पर प्रकाश डालते हुए कहा कि ग्राम सभाग्राम पंचायत द्वारा किए जाने वाले कार्यो का अनुमोदन करती है जिसके आधार पर ग्राम पंचायत अपनी कार्ययोजना तैयार करती है तथा ग्राम सभा ग्राम पंचायत द्वारा पंचायत क्षेत्र के भीतर किए जाने वाले कार्यों के क्रियान्वयन की मॉनिटरिंग करती है और ग्राम पंचायत क्षेत्र की समस्त परियोजनाओं के लिए नियमित सामाजिक अंकेक्षण करती है। उन्होंने बताया कि ग्राम सभा ग्राम पंचायत के सामाजिक अंकेक्षण के दायरे में आने वाले कार्यों की जांच करती है। सामाजिक अंकेक्षण से संबंधित सभी कागज, दस्तावेज और प्रमाणपत्र जैसे मस्टर रोल, बिल, वाऊचर, माप पुस्तिका, खाता पुस्तिका, मंजूरी आदेशों की प्रतिलिपी तथा लेखा संबंधी अन्य जरूरी कागजात ग्राम पंचायत ग्राम सभा को उपलब्ध करवाएगी। उन्होंने बताया कि आज के बाद मनरेगा के तहत काम करने वाले मजदूरों को हर सप्ताह मजदूरी दे दी जाया करेगी। इस अवसर पर बीडीपीओ बलराज सिंह, एबीपीओ सुनील कंबोज सहित स्टाफ के अन्य लोग उपस्थित थे।

बुढ़ापा पैंशन को लेकर वृद्धों में रोष
ओढ़ां
    वरिष्ठ नागरिकों को बुढ़ापा पैंशन समय पर न मिलने के कारण वृद्धों में फैले रोष को खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी ने समझदारी दिखाते हुए शांत किया। मंगलवार की सुबह 10 बजे एक्सिस बैंक द्वारा वृद्धों को दो महीने की पैंशन देने का कार्य शुरू किया गया तो बीच बीच में मशीन के रूकने से सभी को विशेषकर महिलाओं काफी परेशानी का सामना करना पड़ा तथा कर्मचारी लोगों को बिना बताए ही सिरसा चले गए जिसके कारण वृद्धों में रोष फैल गया और महिलाएं सुखदेव कौर, सरस्वती, कलावती, सुरजीत कौर, पाल कौर, पुरुष सुखदेव सिंह, कृष्णलाल, रामकुमार और जगदीश कुमार आदि ने रोष में आकर धरना प्रदर्शन व रोड जाम करने की धमकी दी। मौके पर उपस्थित खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी बलराज सिंह ने उन्हें ऐसा करने से रोका और एक्सिस बैंक के जिला अधिकारी से बात करके उन्हीं कर्मचारियों को दोबारा ओढ़ां बुलाया और वृद्धों को पैंशन देने का कार्य दोपहर तीन बजे फिर से शुरू करवाया जिससे वृद्धों ने राहत की सांस ली।

6 विद्यर्थियों ने मैरिट में स्थान पाया
ओढ़ां
    हरियाणा शिक्षा बोर्ड भिवानी द्वारा घोषित मैट्रिक परीक्षा परिणाम के तहत राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय नुहियांवाली का परीक्षा परिणाम 85 प्रतिशत रहा। यह जानकारी देते हुए विद्यालय की प्राचार्या मधु जैन ने बताया कि दसवीं की वार्षिक परीक्षा में कुल 83 विद्यार्थी बैठे जिनमें से 70 उत्तीर्ण हुए। उन्होंने बताया कि 6 विद्यर्थियों ने मैरिट में स्थान पाया और 57 विद्यार्थियों ने प्रथम श्रेणी में परीक्षा उत्तीर्ण की। उन्होंने बताया कि सागर सुपुत्र मदनलाल ने 455 अंकों के साथ प्रथम और एकता पुत्री बंसीलाल ने 451 अंको के साथ द्वितीय स्थान प्राप्त किया। उन्होंने बताया कि एकता ने गणित में 100 में से 100 अंक प्राप्त किए और सागर ने अंग्रेजी में 100 और गणित में 99 अंक प्राप्त किए। एक अन्य छात्र प्रेम ने भी गणित में 100 अंक प्राप्त किए।
    मलिकपुरा हाई स्कूल के कुल 20 विद्यार्थी परीक्षा में बैठे और सभी उत्तीर्ण हुए। प्रिंसिपल सोमप्रकाश शर्मा ने बताया कि अमन भांभू सुपुत्र शिव भगवान ने 383 अंकों के साथ प्रथम और दुर्गा देवी सुपुत्री डॉ. सीताराम ने 354 प्राप्त करके द्वितीय स्थान प्राप्त किया। उन्होंने बताया अशोक कुमार ने विज्ञान में 94 प्रतिशत अंक प्राप्त किए।
    आनंदगढ़ के राजकीय उच्च विद्यालय के कुल 54 विद्यार्थी परीक्षा में बैठे जिनमें से 50 उत्तीर्ण हुए, इस प्रकार परीक्षा परिणाम 92.59 प्रतिशत रहा। यह जानकारी देते हुए मुख्याध्यापक हवा सिंह गोदारा ने बताया कि विद्यालय के 5 विद्यार्थियों ने मैरिट में स्थान पाया और 27 ने प्रथम श्रेणी में परीक्षा उत्तीर्ण की। नवदीप पुत्री रोहताश ने 433 अंकों के साथ प्रथम स्थान प्राप्त करते हुए गणित में 100 में से 100 अंक प्राप्त किए और किरणा ने 427 अंकों के साथ द्वितीय तथा अनीता पुत्री सुभाष ने 423 अंकों के साथ तृतीय स्थान प्राप्त किया।

इनेलो का युवा सम्मेलन 2 जून को
ओढ़ां
    इनैलो का युवा सम्मेलन 2 जून को सिरसा के प्रीतम पैलेस में होगा जिसमें मुख्यातिथि के रूप में ऐलनाबाद के विधायक अभय सिंह चौटाला शिरकत करेंगे। इनेलो युवा जिला प्रधान धर्मबीर नैन और इनेलो के जिला महासचिव बलविंद्र सिंह ने ज्यादा से ज्यादा संख्या में युवा सम्मेलन में भाग लेने का आह्वान करने हेतु आज गांव घुकांवाली, ओढ़ां, नुहियांवाली, सालमखेड़ा, जंडवाला, किंगरा, मलिकपुरा आदि का दौरा करने के बाद ओढ़ां में पत्रकारों को यह जानकारी देते हुए बताया कि इनेलो के युवा सम्मेलन को लेकर युवाओं में उत्साह पाया जा रहा है और 2 जून को युवा भारी संख्या में युवा सम्मेलन में भाग लेंगे। उन्होंने बताया कि जनविरोधी कांग्रेस सरकार के राज में प्रदेश लूट खसोट, महंगाई और भ्रष्टाचार का बोलबाला है जिससे प्रदेश की जनता त्रस्त है तथा इसी को लेकर इस युवा सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इस अवसर पर उनके साथ अनेक इनेलो कार्यकर्ता उपस्थित थे।

सेवानिवृत्ति पर विदाई पार्टी का आयोजन किया
ओढ़ां
    बिजलीघर पंजुआना में फोरमैन के पद पर कार्यरत ओढ़ां निवासी सुखदेव सिंह 41 वर्ष तक अपनी सेवाएं देने के बाद आज सेवानिवृत्त होकर जब अपने ओढ़ां स्थित निवास पर पहुंचे तो उनके शुभचिंतकों ने उनका भव्य स्वागत किया। इस अवसर पर सहजपाठ का भोग डाला गया और उनके निवास पर भव्य विदाई पार्टी आयोजित की गई जिसमें गांव के सरपंच व ग्राम पंचायत सहित काफी संख्या में गणमान्य लोगों व रिश्तेदारों ने भाग लिया तथा उन्हें स्मृतिचिन्ह व उपहार भेंट कर सम्मानित किया। उल्लेखनीय है कि सुखदेव सिंह ने बिजली विभाग 12 मई 1970 में कालांवाली में ज्वाइन किया। सन 1985 में वे लाइनमैन बने और ऐलनाबाद में कार्य किया तथा सन 2003 में वे फोरमैन बने और बिजलीघर पंजुआना में अपनी सेवाएं दी।

ढानी में पानी न पहुंचने के कारण रामनगरवासियों में रोष
ओढ़ां
    ओढ़ां से 2 किलोमीटर दूर स्थित घुकांवाली रोड पर स्थित ढानी रामनगर में पीने का पानी न पहुंचने के कारण लोगों ने रोष स्वरूप इकठ्ठे होकर जनस्वास्थ्य विभाग के खिलाफ नारोबाजी की। प्रदर्शनकारी रवि कुमार, मदन लाल, लाल सिंह, करनैल सिंह, पंच अजीत कुमार, पूर्व पंच अजायब सिंह, ज्ञानचंद, गुरदीप सिंह, प्रदीप शर्मा, विजय कुमार, गुलशन कुमार व विक्रम सिंह आदि ने बताया कि जलघर ओढ़ां से 2 वर्ष पूर्व उनकी ढानी के लिए अलग से 3 इंची पाइप डाली गई थी लेकिन ठेकेदार की लापरवाही व विभाग के अधिकारियों की अनदेखी के कारण ठेकेदार ने पाइप 4 फुट की जगह डेढ, दो या तीन फुट की गहराई तक डाल दिया और चला गया। जब उस पाइप में पानी छोड़ा गया तो पाइप ऊंची नीची होने के कारण वो जगह जगह से लीक हो गई और जलघर के कर्मचारियों ने उसमें पानी छोडऩा बंद कर दिया जिस कारण उनके यहां पानी पहुंचता और उन्हें पानी मोल लेना पड़ता है। इस बारे में उन्होंने अधिकारियों से अनेक बार गुहार लगाई है लेकिन कोई असर नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि अगर एक सप्ताह के अंदर उनकी ढानी में पानी न पहुंचाया गया तो वे धरना प्रदर्शन करते हुए रोड जाम करने पर मजबूर हो जाएंगे।
    इस संबंध में जलापूर्ति एवं अभियांत्रिकी विभाग के कनिष्ठ अभियंता हरभजन सिंह से बात किए जाने पर उन्होंने बताया कि रामनगर को जाने वाली पाइप लाइन को ऊंची नीची व गलत डालने के लिए ठेकेदार की गलती है जिसके कारण पाइप लीक हो जाती है। उन्होंने कहा कि बीच में एक दो कनेक्शन देने और एयरबाल लगाने से ही इसका समाधान हो सकता है जो कि शीघ्र ही कर दिया जाएगा।

छायाचित्र:  जनस्वास्थ्य विभाग के खिलाफ रोष प्रदर्शन करते ढानी रामनगरवासी।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: