>24 अप्रैल का दिन राष्ट्रीय पंचायत दिवस के रुप में मनाया जाएगा

20 अप्रैल

>

सिरसा
 जिला में राष्ट्रीय पंचायत दिवस के उपलक्ष्य में आगामी 22 अप्रैल को स्थानीय सीएमके कॉलेज के ओडिटोरियम में जिलास्तरीय समारोह का आयोजन किया जाएगा, जिसमें पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों के साथ-साथ महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना के तहत नियुक्त किए गए रोजगार सहायकों व अन्य कर्मचारियों को भी आमंत्रित किया जाएगा। राष्ट्रीय स्तर पर आगामी 24 अप्रैल का दिन राष्ट्रीय पंचायत दिवस के रुप में मनाया जाएगा।
    यह जानकारी देते हुए उपायुक्त डा. युद्धबीर सिंह ख्यालिया ने बताया कि राष्ट्रीय पंचायत दिवस  कार्यक्रम का थीम ग्राम सभा लिया गया है। इस कार्यक्रम में ग्राम सभा की गतिविधियों, कार्यक्रमों बारे विस्तार से बताया जाएगा। इसके साथ-साथ  महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना के बारे में भी विस्तृत जानकारी दी जाएगी।
    उन्होंने बताया कि जिलास्तरीय इस कार्यक्रम के पश्चात खंड एवं गांव स्तर पर भी राष्ट्रीय पंचायत दिवस समारोह का आयोजन होगा जिसमें ग्राम सभाओं की कार्यप्रणाली और गतिविधियों बारे जागरुकता पैदा की जाएगी। इसके साथ-साथ पंचायतों के लिए ई-पंचायत व रोड नक्शों के बारे में भी विचार विमर्श किया जाएगा।    
    डा. ख्यालिया ने बताया कि जिला में राष्ट्रीय पंचायत दिवस के उपलक्ष्य में ग्राम सभा और  महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना की जागरुकता पैदा करने के लिए सभी सरकार व गैर सरकारी/ मान्यता प्राप्त स्कूलों के छठी कक्षा से बाहरवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों में निबंध लेखन प्रतियोगिता भी करवाई जाएगी। इस प्रतियोगिता में छात्रों को ग्राम सभा से जुड़े चार विषय दिए जाएंगे जिनमें वास्तविक ग्रास रुट लोकतंत्र के लिए ग्राम सभा, सामाजिक समावेश, ग्राम सभा और आर्थिक विकास तथा ग्राम सभा और समाज विषय शामिल है। ये प्रतियोगिता हिंदी में करवाई जाएगी। स्कूल स्तर पर होने वाली इस प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर रहने वाले विद्यार्थियों को जिला प्रशासन द्वारा आकस्फोर्ड की एक-एक डिक्शनरी ईनाम स्वरुप दी जाएगी।
    उन्होंने बताया कि प्रशासन द्वारा की जाने वाली इन गतिविधियों से एक तो ग्राम सभा और  महात्मा गांधी ग्रामीण राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना के बारे में जागरुकता पैदा होगी, दूसरी और स्कूली बच्चों में प्रतियोगिता की भावना भी बढ़ेगी। उन्होंने बताया कि 24 अप्रैल का दिन पूरे देश राष्ट्रीय पंचायत दिवस के रुप में मनाया जाएगा। इस दिवस का उद्देश्य आम लोगों में ग्राम सभाओं, पंचायती राज संस्थाओं तथा महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण योजना से जुड़ी सभी तरह की गतिविधियों की जानकारी देना है जिससे आम लोगों का मनरेगा के प्रति आकर्षण और विश्वास बढ़ेगा और ज्यादा से ज्यादा लोग इस योजना से जुड़ेंगे।

पशु तस्करी का तीसरा आरोपी काबू
ओढ़ां

    ओढ़ां पुलिस ने पशु तस्करी के आरोपी एक अन्य व्यक्ति 45 वर्षीय अजीज पुत्र फारूक निवासी कसाईवाड़ा, मोहल्ला भोजपुर जिला मुरादाबाद को सोमवार की रात्रि सिरसा के बस स्टेंड से गिरफ्तार कर लिया है। मंगलवार को उसे डबवाली स्थित उपमंडल न्यायिक दंडाधिकारी डॉ. अतुल मडिय़ा की अदालत में पेश किया गया जहां से 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। यह जानकारी देते हुए धर्मवीर एसआई ने बताया कि ट्रक चालक जाकिर और एक अन्य पशु तस्कर मुस्तफा को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। उल्लेखनीय है कि गत 7 अप्रैल को उक्त तीनों आरोपी एक ट्रक में 27 बैल लादकर उन्हें वध के लिए उत्तरप्रदेश ले जा रहे थे कि ओढ़ां पुलिस ने ओढ़ां अनाज मंडी के निकट ट्रक को काबू करके बैलों को गऊशाला पहुंचा दिया था और वे तीनों खेतों की ओर भागने में सफल हो गए थे। बाद में पुलिस ने ट्रक चालक जाकिर को खेतों में से और मुस्तफा को रोहतक बस स्टेंड से गिरफ्तार कर लिया था।

लकड़ी चोरी करते दो काबू दो भागने में सफल
ओढ़ां

    ओढ़ां पुलिस ने 4 लोगों के खिलाफ लकड़ी चोरी का मामला दर्ज करके दो लोगों को काबू कर लिया है जबकि दो भागने में सफल हो गए। यह जानकारी देते हुए ओढ़ां पुलिस के एएसआई ओमप्रकाश दलाल ने बताया कि सोमवार की रात जब वे गश्त पर थे तो उन्हें मुखबिरी मिली कि मम्मड़ नहर से कुछ व्यक्ति वन विभाग की जकड़ी चोरी करके ले जा रहे हैं। बुर्जी नंबर 114 और 115 के ऊपर लकड़ी चोर एक शीशम के पेड़ को टैक्टर ट्राली में लादकर ले जाने की तैयारी में थे कि ओढ़ां पुलिस और वन विभाग के बीट इंचार्ज लाली राम व गार्ड दर्शन सिंह भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस को देखकर वे लोग भाग खड़े हुए। पुलिस ने उनमें से दो व्यक्तियों 22 वर्षीय रणजीत सिंह पुत्र बूटा सिंह व 24 वर्षीय लखबीर सिंह पुत्र कर्म सिंह निवासी घुकांवाली को ट्रैक्टर ट्राली सहित पकड़ लिया जबकि दो अन्य सेबू सिंह पुत्र बोला सिंह और लखबीर सिंह पुत्र गुरतेज सिंह निवासी घुकांवाली भागने में सफल हो गए। पुलिस ने इन चारों के खिलाफ लकड़ी चोरी का मुकदमा दर्ज कर लिया है। बीट इंचार्ज लाली राम ने पत्रकारों को बताया कि लकड़ी की कीमत करीब 80-85 हजार रुपए है। उन्होंने बताया कि उक्त लोगों ने कुछ दिन पूर्व ही वृक्ष को आरी से कट लगा दिया था जिससे उन्हें आशंका थी कि वे काटे गए वृक्ष को लेने अवश्य आएंगे। इसलिए उनकी टोह में वे भी गश्त पर थे और पुलिस के साथ साथ वे भी मौके पर पहुंच गए।

नजायज पिस्तौल के साथ एक काबू
सिरसा
। शहर सिरसा पुलिस ने गश्त व चैकिंग के दौरान एक व्यक्ति को नजायज पिस्तौल के साथ काबू किया है। पकड़े गए आरोपी से 32 बोर का नजायज पिस्तौल व एक जिंदा कारतूस बरामद हुआ है।
आरोपी के खिलाफ शस्त्र अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज किया गया है।
मामले की जानकारी देते हुए खैरपुर चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक दलबीर सिंह ने बताया कि वे पुलिस पार्टी के साथ टाउन पार्क क्षेत्र में गश्त कर रहे थे। इसी दौरान प्लसर मोटरसाइकिल पर सवार एक युवक आया, जिसकी शक के आधार पर तलाशी ली गई तो उससे एक नजायज पिस्तौल व एक जिंदा कारतूस बरामद हुआ। उन्होने बताया कि आरोपी की पहचान पवन कुमार पुत्र वेदप्रकाश निवासी डिंग जिला सिरसा के रूप में हुई है। आरोपी को आज न्यायालय में पेश कर रिमांड हासिल किया जाएगा ताकि पिस्तौल सप्लायर का पता ठिकाना मालूम कर उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सके।
सदर डबवाली पुलिस ने प्रेम कुमार पुत्र हरीराम निवासी ओढां को 900 ग्राम चूरापोस्त को गांव गोरीवाला से काबू किया है। आरोपी को गश्त के दौरान गोरीवाला चौकी पुलिस ने चूरापोस्त के साथ काबू किया।
सदर थाना सिरसा पुलिस ने यशपाल पुत्र हीरालाल निवासी पनिहारी को सट्टाखाईवाली करने के आरोप में 335 रूपए की सट्टाराशि के साथ उसी के गांव से काबू किया है। एक अन्य घटना में थाना सदर सिरसा पुलिस ने मक्खन ङ्क्षसह पुत्र रांझाराम निवासी शाहपुर बेगू 205 रूपए की सट्टाराशि के साथ उसी के गांव से काबू किया है।
डिंग थाना पुलिस ने एक ट्रक चालक के खिलाफ यातायात नियमों की अवहेलना कर क्षमता से ज्यादा ओवरलोड करने के मामले में अभियोग दर्ज किया है। पुलिस ने आरोपी ट्रक चालक को गिरफ्तार कर ट्रक को कब्जे में ले लिया है। आरोपी की पहचान लाल सिंह पुत्र बाला सिंह निवासी जैतों मंडी पंजाब के रूप में हुई है। आरोपी ने अपने ट्रक में क्षमता से अधिक राखी सिमेंट भर रखी थी, पुलिस ने उसे डिंग मोड से काबू किया है।

किसान की फसल का एक-एक दाना सरकार द्वारा निर्धारित मूल्य पर खरीदा जाएगा
सिरसा
, 19 अप्रैल। किसान की फसल का एक-एक दाना सरकार द्वारा निर्धारित मूल्य पर खरीदा जाएगा। किसान अन्नदाता है उनकी समस्याओं का समाधान प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा।
    यह बात सिरसा लोकसभा के सांसद एवं अखिल भारतीय कांग्रेस के सचिव डा. अशोक तंवर ने अनाज मंडी में खरीद कार्यो का जायजा लेने के उपरांत व्यापारियों व किसानों को सम्बोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि किसानों को मंडियों में फसल बेचने के लिए किसी भी प्रकार की दिक्कत नही आने दी जाएगी। केन्द्र व प्रदेश की सरकार किसानों के हितों की रक्षा करने के लिए पूरी तरह से कृतसंकल्प है।
    डा. तंवर ने कहा कि भारत कृषि प्रधान देश है जहां 80 प्रतिशत से अधिक खेती की जाती है। देश की अर्थव्यवस्था कृषि पर निर्भर करती है। किसानों की मेहनत के कारण आज हमारे खाद्य भंडार पर्याप्त मात्रा में भरे हुए है और दूसरे देशों की मांग के अनुसार खाद्य सामग्री भेजी जाती है। उन्होंने खरीद एजेंसियों व मार्केट कमेटी के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे किसानों से मधुर व्यवहार करे और उनकी समस्या का समाधान अपने स्तर पर शीघ्र करे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि अनाज मंडियों को स्वच्छ व साफ सुथरा रखे। किसानों के लिए बैठने की उचित व्यवस्था करे। इसके साथ-साथ वारदाने आदि उपकरणों का भी उचित प्रबंध करे। किसानों को पेयजल व बिजली संबंधी किसी भी प्रकार की दिक्तत न आने दे।
    इस मौके पर सांसद तंवर के समक्ष व्यापारियों ने लाईसैंस नवीकरण करवाने, खरीद कार्यो में तेजी लाने की भी मांग रखी जिस पर उन्होंने मार्किट कमेटी के सचिव को इस संदर्भ में उचित कदम उठाए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि किसानों को सभी मूलभूत सुविधाएं दिलवाने व अन्य समस्याओं के शीघ्र निदान हेतु यदि जरूरत पड़ी तो वे प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा से भी बात करेगें।
    इस अवसर पर उनके साथ मार्किट कमेटी के सचिव ओपी राणा, कांग्रेस पार्टी के जिलाध्यक्ष मलकीत सिंह खोसा, ब्लॉक कांग्रेस के शहरी प्रधान भूपेश मेहत्ता, आनन्द बियानी, पवन डिंगवाला, रू लीचंद गांधी, दलीप जैन, संजीव जैन, राजकरण भाटिया, सुशील कंदोई, नगरपार्षद रमेश मेहत्ता, अश्वनी जिंदल, वेद प्रकाश तायल सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

राष्ट्रीय युवा पुरस्कार से सम्मानित युवाओं को बसों में आजीवन निशुल्क यात्रा सुविधा
सिरसा
, 19 अप्रैल। हरियाणा देश में पहला राज्य है जिसमें राष्ट्रीय युवा पुरस्कार से सम्मानित युवाओं को राज्य परिवहन की साधारण बसों में आजीवन निशुल्क यात्रा सुविधा प्रदान की गई है।
    यह जानकारी सिरसा लोकसभा क्षेत्र के सांसद एवं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव डा. अशोक तंवर ने अपने निवास स्थान पर क्षेत्र के खिलाडिय़ों को खेल किट वितरित करने उपरांत कही। इस अवसर पर सांसद ने 200 से अधिक युवा क्लबों को 20 लाख रुपए से अधिक की लागत की खेल कीटें प्रदान की। उन्होंने कहा कि युवा देश के भावी कर्णधार है इसलिए नशे जैसी बुराईयों से दूर रहकर शिक्षा के साथ-साथ खेलों में भी विशेष रुचि रखनी चाहिए। खेलों से जहां सर्वागीण विकास होता है, वहीं अनुशासन व देशभक्ति तथा प्यार-प्रेम व भाईचारे की भावना पैदा होती है जो किसी भी राष्ट्र के नवनिर्माण में सहायक सिद्व होती है। उन्होंने कहा कि खेल आज व्यवसाय का रुप ले चुका है। खिलाडिय़ों का भविष्य उज्जवल है इसलिए युवाओं को खेलों की तरफ विशेष ध्यान देना चाहिए।
    डा. तंवर ने कहा कि राज्य सरकार की नई खेल नीति के तहत सकारात्मक परिणाम सामने आए है। खेलों को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न योजनाएं भी लागू की गई है। राष्ट्रमंडल खेल 2010 में स्वर्ण,रजत व कांस्य पदक जीतने वाले खिलाडिय़ों को क्रमश 15 लाख, 10 लाख व 5 लाख रुपए के नकद पुरस्कार दिए गए है। उन्होंने कहा कि ओलम्पिक खेलों में राज्य तथा देश के लिए गौरव प्राप्त करने वाले स्वर्ण, रजत व कांस्य पदक विजेताओं को दो करोड, एक करोड़ व 50 लाख रुपए की राशि दिए जाने का प्रावधान भी किया गया है और जिस गांव का खिलाड़ी होगा उस गांव को आदर्श गांव का दर्जा देने के साथ-साथ 50 लाख रुपए की राशि विभिन्न विकास कार्यों हेतु राज्य सरकार द्वारा प्रदान किए जाते है। उन्होंने कहा कि खिलाडिय़ों के लिए पुलिस भर्ती में तीन प्रतिशत का आरक्षण का भी प्रावधान किया गया है।
    सांसद ने कहा कि राज्य के खिलाडिय़ों को अंतरराष्ट्रीय खेल मुकाबलों के दौरान गोल करने पर प्रति गोल 10 हजार रुपए की राशि व क्रिकेट में विकेट लेने पर प्रत्येक विकेट पर 25 हजार रुपए तथा शतक लगाने पर एक लाख रुपए की राशि दी जाती है। उन्होंने कहा कि खेल प्रतिभाओं को उभारने के लिए सिरसा संसदीय क्षेत्र में 20 नई खेल स्टेडियमों का निर्माण किया गया है। राज्य के 171 गांवों   में राजीव गांधी के नाम से खेल स्टेडियमों का निर्माण किया जा रहा है जिसके लिए 50 लाख रुपए की राशि प्रति स्टेडियम खर्च हरियाणा ग्रामीण विकास निधि से खर्च की जा रही है। उन्होंने कहा कि ब्लाक स्तर पर बनाए जा रहे खेल स्टेडियमों में एक कोच व स्पोर्टिंग स्टाफ उपलब्ध करवाने के साथ-साथ वहां पानी की समुचित व्यवस्था करवाने का निर्णय भी लिया गया है। खिलाडिय़ों का खुराक भत्ता भी बढ़ाया गया है। डा. तंवर ने युवाओं से आह्वान किया कि वे खेलों के साथ-साथ गरीब, बेसहारा, जरुरतमंद लोगों की निस्वार्थ भाव से सहायता करे और समाज व राष्ट्र के नवनिर्माण में अहम भूमिका निभाए।
    इस मौके पर  जिला कांग्रेस प्रधान मलकीत सिंह खोसा, शहरी प्रधान भूपेश मेहता, लादूराम पुनिया, आनंद बियानी, सुरजीत भावदीन, पवन डिंगवाला, तिलकराज चंदेल, तेजबान, सुरेंद्र दलाल, सांसद के निजी सचिव परमवीर, नेहरु युवा केंद्र के जिला कोर्डिनेटर नरेंद्र यादव, अध्यक्ष युवा मंडल नसीब सिंह, बलदेव राज, दलबीर सिंह सहित बड़ी संख्या में क्षेत्र के लोग उपस्थित थे।

गांव भावदीन में सिलाई केन्द्र का शुभारंभ
सिरसा
, 19 अप्रैल। जन शिक्षण संस्थान सिरसा ने गांव भावदीन में सिलाई केन्द्र का शुभारंभ किया। यह जानकारी देते हुए ब्लॉक कोआर्डिनेटर कमल गंगवानी ने बताया कि गांव भावदीन में सिलाई व कढाई उपकेन्द्र का शुभारंभ गांव के सरंपच आत्माराम ने महिला चौपाल में सिलाई केन्द्र का शुभारंभ किया। इस आशय की जानकारी देते हुए संस्थान के निदेशक सुभाष पाठक ने बताया कि संस्थान के नवनिर्वाचित अध्यक्ष अरविंद बांसल के मार्गदर्शन में ज्यादा से ज्यादा नये गांवों में उपकेन्द्र खोलने पर जोर दिया जाएगा। इस अवसर पर केन्द्र की प्रशिक्षिका ममता रानी, अनिता रानी तथा राजेश कुमार तथा संस्थान की ओर से अंशुल जैन, बलदेव सिंह, महावीर सिंह एवं गांव के गणमान्य लोग उपस्थित थे।

केंद्र की यूपीए व प्रदेश की कांग्रेस सरकार वास्तविक अर्थों में किसान हितैषी है
सिरसा
। केंद्र की यूपीए व प्रदेश की कांग्रेस सरकार वास्तविक अर्थों में किसान हितैषी है। केंद्र सरकार द्वारा किसान हितैषी निर्णय लेते हुए गेंहू के समर्थन मूल्य में 50 रूपए की और बढौतरी की गई है, एक साल में सरकार द्वारा गेंहू के समर्थन मूल्य पर 70 रूपए प्रति क्विंटल की बढौतरी की गई है। पूर्ववर्ती सरकारों में से किसी भी सरकार ने किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए ऐसे सकारात्मक कदम नही उठाए। उक्त उदगार हरियाणा किसान खेत मजदूर कांग्रेस के प्रांतीय सचिव व ब्लाक कांग्रेस कमेटी सिरसा शहरी के अध्यक्ष भूपेश मेहता ने आज जिला के गांवों बाजेकां, फुलकां, कंवरपुरा इत्यादि गांवों का दौरा करते हुए ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहें। श्री मेहता के गांवों के  दौरे के दौरान ग्रामीणों ने उनका स्वागत किया तथा किसानों का दुख दर्द जानने के उनके प्रयासों की सराहना की। इस अवसर पर बाजेकां गांव के सरपंच प्रतिनिधि जग्गी बाजेकां, तेज ङ्क्षसह, दीपक कुमार, देसराज, जोगेंद्र ङ्क्षसह, कर्ण ङ्क्षसह,  विनोद उपाध्याय, प्रेम सैनी सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।
ओलावृष्टि व बरसात के कारण प्रभावित हुई फसलों का जायजा लेते हुए भूपेश मेहता ने किसानों को आश्वासन दिलवाया कि प्रभावित किसानों को जिला प्रशासन के द्वारा हर संभव सहायता दी जाएगी। श्री मेहता ने कहा कि प्रदेश में हुई ओलावृष्टि व बरसात के कारण प्रभावित फसलों का पीडि़त किसानों को मुआवजा देने के लिए मुख्यमंत्री चौ. भूपेंद्र ङ्क्षसह हुड्डा ने अधिकारियों को तुरंत गिरदावरी करने के आदेश दिए है। श्री मेहता ने गेंहू के समर्थन मूल्य में बढौतरी किए जाने के लिए कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी, प्रधानमंत्री मनमोहन ङ्क्षसह, मुख्यमंत्री चौ. भूपेंद्र ङ्क्षसह हुड्डा, हरियाणा खेत मजदूर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौ. शमशेर सिंह सूरजेवाला, सांसद डा. अशोक तंवर सहित पार्टी हाईकमान का आभार जताते हुए कहा कि किसानों को उनके खून पसीने की कमाई का पूरा हक दिलवाया जाएगा। मंडियों में आई गेेंहू का दाना दाना खरीदा जाएगा तथा किसानों को 24 घंटों के भीतर भुगतान किया जाएगा।

गरीब के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा
सिरसा
। किसी भी गरीब के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा और उसका हक उसे जरूर मिलकर रहेेगा। यह बात आज हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधि होशियारी लाल शर्मा ने आज रंगड़ी गांव के लोगों द्वारा १००-१०० गज प्लाट आवंटन को लेकर करवाई जा रही निशानदेही के विरोध में प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों को समझाते हुए कही। आज सुबह करीब ८ बजे जमाल रोड पर सैकड़ों की संख्या में एकत्रित हुए ग्रामीणों ने प्रशासन व ग्राम पंचायत पर आरोप लगाया की उन्होंने गरीबों को सरकार द्वारा जी रही १००-१०० गज प्लाटों की स्कीम में उन अपात्र लोगों को प्लाट की निशानदेही में शामिल किया है जो पहले से करोड़ों की संपत्ति के मालिक हैं। ग्रामीणों ने कहा कि गरीब वर्ग को मिलने वाले कुल ८२ प्लाटों के सर्वे में ज्यादातर अपात्र लोगों को शामिल किया गया है जोकि अन्याय पूर्ण है। जैसे ही मामले की जानकारी होशियारी लाल शर्मा को मिली वे मौके पर पहुंचे और लोगों से बातचीत की।
    जमाल रोड पर प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों को समझाने के लिए श्री शर्मा बीडीओ सिरसा सुखदेव शर्मा के साथ मौके पर पहुंचे । प्लाटों की निशानदेही में हो रही धांधली की शिकायत मिलने के बाद सुखदेव शर्मा ने तत्काल सर्वे रोकने का आदेश जारी कर दिया। इस दौरान सुखदेव शर्मा ने कहा कि वे दोबारा निशानदेही का सर्वे करवाएंगे जिसके बाद ही पात्र लोगों को प्लाट आवंटित किए जाएंगे। उधर ग्रामीणों ने भी प्रशासन की ओर से निशानदेही की पूर्णत: निष्पक्ष जांच करवाने की मांग की। इस मौके पर देवीलाल सैनी, प्रेम सैनी, बलबीर सैनी, श्रीराम सैनी, नंद किशोर गक्खड़, प्रभुदयाल, रमेश कुमार, हरि सिंह भाट, भगताराम , छोटूराम, भजन लाल, रामकुमार, सुलखल सिंह, चेतन कुमार, कृष्ण कुमार, विजय कुमार, धनी देवी, मुन्नी देवी, वीना देवी, वीरो देवी, रिंपी रानी, कमलेश रानी,  मैना देवी, फूला रानी, वीरो देवी, कैलाश रानी, गीता देवी, भूरी देवी, प्रवीण रानी, सीमा रानी, राम मूर्ति सहित अनेक ग्रामीण मौजूद थे।

विधवा बहन को आठ एकड़ गेंहू काटकर दिया।
सिरसा
। डेरा सच्चा सौदा के ब्लाक चक्कां की साध-संगत ने आज परम पूज्य हजूर पिता संत गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की पावन प्रेरणा  पर अमल करते हुए गांव केहरवाला की एक विधवा बहन की आठ एकड़ गेंहू काटकर दिया। यह जानकारी देते हुए ब्लाक भगीदांस राजाराम इन्सां ने कहा कि बीरखा देवी के पत्नि स्व. अमीलाल केहरवाला कुछ दिन पूर्व निधन हो गया था और उसके बाल-बच्चें छोटे थे। भगीदांस राजाराम इन्सां ने बताया कि बीरखा देवी इस बात को लेकर चितिंत थी कि उसकी 8 एकड़ में बोई गई गेंहू की फसल पककर तैयार है लेकिन इसे काटेगा कौन। उन्होंने बताया कि इस बात की सूचना गांव की साध-संगत को लगी तो 60 सेवादार बहन-भाई इस कार्य को करने के लिए बीरखा देवी के खेत में पहुंच गए और मात्र 6 घन्टों में फसल को काट दिया। वहीं  केहरवाला व आस-पास के गांवों के गणमान्य लोगों द्वारा साध-संगत के इस महान कार्य के लिए साध-संगत व उन्हें ऐसी शिक्षा देने वाले पूज्य गुरू संत गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की भूरि-भूरि प्रशंसा की जा रही है और कहा जा रहा है कि धन्य है ऐसी साध-संगत जिन्हें  उनके पूज्य गुरू जी द्वारा निस्वार्थ भावना से सेवा करने के लिए प्रेरित किया जाता है। इस मौके पर दलीप इन्सां, महाबीर सिंह इन्सां, जगदीस इन्सां, भालाराम इन्सां, चुनीराम इन्सां, औमप्रकास इन्सां, जीया देवी, बीद्या देवी इन्सां, गुड्डी देवी इन्सां, दौपद्दी इन्सां, सन्तोष इन्सां, चन्द्रकंला इन्सां, रेशमा देवी इन्सां, सोना देवी इन्सां, गीता देवी इन्सां सहित सैंकड़ों सेवादारों ने सेवा कार्य में हिस्सा लिया।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: