>भारतरत्न डा. भीमराव अंबेडकर महान व्यक्तित्व के धनी थे

14 अप्रैल

>

सिरसा। भारतरत्न डा. भीमराव अंबेडकर महान व्यक्तित्व के धनी होने के साथ-साथ एक  महान समाज सुधारक भी थे। उनकी करनी और कथनी में कोई अंतर नहीं था। वे जातपात, छूआछात को मिटाकर समानता के पक्षधर थे।
    उक्त विचार सिरसा लोकसभा क्षेत्र के सांसद एवं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव डॉ. अशोक तंवर ने आज बेगू रोड़ स्थित भीमराव अंबेडकर भवन में आयोजित डा. भीमराव अंबेडकर 121वें जयंती सम्मान समारोह को संबोधित कर हुए व्यक्त किए।  इस अवसर पर सांसद ने हाल कमरे का नींव पत्थर भी रखा और 21 लाख रुपए देने की घोषणा की। कार्यक्रम की अध्यक्षता कांग्रेस कमेटी के जिला प्रधान मलकीत सिंह खोसा ने की। डा. तंवर ने विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लिया। सभी जगह जनता द्वारा उन्हें पगड़ी व बुके, फूल मालाओं व स्मृति चिन्हृ देकर सम्मानित भी किया।
   
डा. तंवर ने कहा कि बाबा साहेब का नारा व गुरुमंत्र था कि शिक्षित बनो, संगठित रहो, संघर्ष करो। इन शब्दों से ही हमें बहुत कुछ सीखने को मिलता है। उन्होंने कहा कि डा. भीमराव अंबेडकर व अन्य सभी महापुरुषों की जीवनी पढऩे से ज्ञान प्राप्त होता है जिससे समाज व देश के लिए कुछ करने की सोच पनपती है। उन्होंने कहा कि भारतीय संविधान शिल्पी बाबा साहब भीमराव अंबेडकर ने यह सिद्ध करके दिखा दिया कि महान व्यक्ति बनने के लिए बड़े घराने में जन्म लेना अनिवार्य नही होता, अपितु दृढ़ संकल्प व मजबूत हौसलों के बलबूते इंसान सफलता के नए आयाम स्थापित कर सकता है। उनके दृढ़ संकल्प और मजबूत इच्छाशक्ति का ही यह परिणाम है कि उन्हें देश के सर्वोत्तम सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया और अपनी काबिलियत के चलते ही वे देश के प्रथम कानून मंत्री बने।  इससे पूर्व सांसद ने अंबेडकर चौक स्थित बाबा साहेब की प्रतिमा पर पुष्प चढ़ाकर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए।
          
सांसद ने कहा कि अम्बेडकर ने देश में वंचित वर्गों के उत्थान के लिए जो संघर्ष किया वह एक नजीर के रूप में हमारे सामने है। यदि वे न होते तो आज दलित और पिछड़े समाज की हालत में इतना सुधार नहीं हो सकता था। बाबा साहब ने वंचित वर्गों का आह्वान किया था कि अपने हकों की पूर्ति के लिए लोकतंत्र के मंदिर पर कब्जा करो। इसके अलावा उन्होंने दहेज प्रथा, बाल विवाह, जाति प्रथा व अंधविश्वास के खिलाफ अपनी आवाज को बुलंद किया। तंवर ने कहा कि महिलाओं की गिरती दशा को सुधारना अंबेडकर का मुख्य उद्देश्य था, इसलिए आज हर भारतीय का दायित्व बनता है कि डॉ. अंबेडकर के सपनों को साकार करने में अपना अहम योगदान दें। डॉ. तंवर ने कहा कि समय की तेज रफ्तार और बदलते दौर में लड़कियों को शिक्षित बनाना अति आवश्यक है, क्योंकि नारी शिक्षा से तीन परिवार शिक्षित होते हैं। इसलिए प्रत्येक अभिभावक  को चाहिए कि वह अपनी बेटियों को शिक्षित बनाने के लिए प्रयास करें। इस मौके पर उपमंडलाधीश रोशन लाल ने भी अपने विचार व्यक्त किए और बाबा साहेब के जीवन पर प्रकाश डाला। इससे पूर्व डा. अशोक तंवर ने आटो मार्केट में हरियाणा बेरोजगार युवा संगठन द्वारा आयोजित बाबा भीमराव अंबेडकर जयंती समारोह में भाग लिया। डा. तंवर ने आज वरिष्ठ चिकित्सक डा. बी.आर बिश्राई की पत्नी के निधन व प्रमुख समाजसेवी जुगल किशोर हिसारिया के निधन पर शोक करने उनके निवास स्थान पहुंचे और उनके परिवारजनों को सांत्वना दी। इसके उपरांत सांसद तंवर ने रानियां गेट स्थित गुरुद्वारा में भी आयोजित एक विशाल जनसभा को भी संबोधित किया और जनता की समस्याएं सुनी।
    जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री मलकीत सिंह खोसा ने एक लाख रुपए देने की घोषणा की। इस अवसर पर उनके साथ पूर्व विधायक मनीराम केहरवाला, ओमप्रकाश केहरवाला, सुरेंद्र दलाल, सभा के प्रधान आत्मप्रकाश मेहरा, लादू राम पूनियां, भूपेश मेहता, आनन्द बियानी,
नवीन केडिया, ठाकुर भूपेंद्र सिंह, सुरजीत भावदीन, बलदेव मराड़, तेजभान पनिहारी, तिलकराज चंदेल, मा. सूबे सिंह, नत्थू राम, नवीन मेहरा, राजबीर सिंह रंगा, दलबीर सिंह सोढी, बंसीलाल दहिया, रतन लाल मनहर, रामकृष्ण, महेन्द्र सिंह पातलान, गीता राम मंडल, मिठू राम ढ़ैणवाल नगर पार्षद, मोहन लाल सुखरालिया, रमेश मेहरा, बलराज सिंह, जगदीश भीमा, कैलाश चंद्र गहलोत, रतनबाला गहलोत, सुभाष मेहरा, ईश्वर सिंह तंवर, रामपाल दड़बी, मनदीप कसवां, सांसद के निजी सचिव परमवीर सिंह, अमित सोनी सहित विभिन्न गांव के सरपंच व विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

गरीब परिवारों व सभी वर्गों के उत्थान के लिए विभिन्न योजनाएं लागूसिरसा। केंद्र तथा राज्य सरकार ने गरीब परिवारों व सभी वर्गों के उत्थान के लिए विभिन्न योजनाएं लागू की है। इन योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर अधिक से अधिक लाभ उठाना चाहिए।
   
यह जानकारी सिरसा लोकसभा क्षेत्र के सांसद एवं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव डा.अशोक तंवर ने आज स्थानीय पंचायत भवन में स्वर्ण जयंती शहरी रोजगार योजना के तहत  50 गरीब परिवारों को रिक्शा वितरित करने उपरांत विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए दी। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन भी बधाई का पात्र है कि आज 14 अप्रैल का दिन बहुत शुभ दिन है।  आज के दिन को बैसाखी व डा. बाबा भीमराव अंबेडकर 121वें जयंती समारोह को देशभर में हर्षोल्लास के साथ बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उक्त योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन कर रहे गरीब परिवारों को रिक्शा वितरित की गई है ताकि  वे बेहतरीन ढंग से रोजी रोटी कमा सके। उन्होंने कहा कि गरीब आदमी जो किराए की रिक्शा चलाता है उसके लिए रिक्शा की बहुत अहमियत है। नई रिक्शा खरीदने के लिए उसके पास पैसे भी नहीं होते जिससे उसको बहुत कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है। गरीबों की कठिनाईयों व मुसीबतों को दूर करने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा स्वर्ण जयंती शहरी रोजगार योजना चलाई गई है। इस योजना के तहत पांच लाख रुपए से भी अधिक की धनराशि खर्च करके गरीब परिवारों को रिक्शा प्रदान की गई है। उन्होंने लाभार्थियों से कहा कि यातायात नियमों का पालन करते हुए रिक्शा चलाकर अपनी रोजी रोटी कमाए और अन्य योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर लाभ उठाए।
    इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त श्रीमती पंकज चौधरी ने कहा कि सरकार और प्रशासन का मुख्य उद्देश्य गरीब परिवारों को रोजगार प्रदान कर उनको आर्थिक रुप से सशक्त बनाना है। उन्होंने कहा कि स्वर्ण जयंती शहरी रोजगार योजना के तहत महिलाओं के लिए महत्वपूर्ण स्कीमें चलाई गई है। इस योजना के तहत महिलाओं को ब्यूटीशियन कोर्स, सिलाई कढ़ाई, डिजाईनिंग आदि का प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगारान्मुखी बनाया जाता है। इसके साथ-साथ प्रशिक्षण करने उपरांत प्रमाण पत्र व टूल किट भी दी जाती है ताकि वे घर में रहकर छोटा-मोटा काम कर सके। उन्होंने कहा कि उक्त योजना के तहत साढ़े पांच लाख रुपए की राशि खर्च करके 50 गरीब परिवारों को रिक्शा प्रदान कर दी गई है। इसके अलावा जो गरीब व्यक्ति वंचित रह गया है तो उन्हें निकट भविष्य में शीघ्र ही इस योजना से लाभांवित किया जाएगा। इससे पूर्व डा. अशोक तंवर ने स्थानीय कृषि विज्ञान केंद्र में नेहरु युवा केंद्र द्वारा आयोजित जिला युवा सम्मान समारोह में युवाओं को सम्मानित किया। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि  युवा देश के भावी कर्णधार है इसलिए उन्हें नशे जैसी बुरी आदत से बचकर रहना चाहिए और भारतरत्न व संविधान निर्माता डा. भीमराव अंबेडकर, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, लौहपुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल, पंडित जवाहर लाल नेहरु, शहीद भगत सिंह सहित अन्य गणमान्य महापुरुषों के जीवन से प्रेरणा लेकर समाज व  राष्ट्र के नवनिर्माण में अपनी अहम भूमिका निभानी चाहिए। उन्होंने समस्त जिलावासियों को बैसाखी व डा. भीमराव अंबेडकर जन्मोत्सव पर बधाई दी और सिरसा लोकसभा क्षेत्र व प्रदेशवासियों के उज्जवल भविष्य की कामना की। इस अवसर पर युवाओं द्वारा श्री तंवर का जोरदार ढंग से स्वागत किया गया।
 
  इस मौके पर जिला कांग्रेस प्रधान मलकीत सिंह खोसा, लादूराम पुनिया, सुरेंद्र दलाल, भूपेश मेहता, आनन्द बियानी, नवीन केडिया, ठाकुर भूपेंद्र सिंह, नेहरु युवा केंद्र के जिला समन्वयक नरेंद्र यादव, डा. बी.एस श्योकंद, सुरजीत भावदीन, बलदेव मराड़, तेजभान पनिहारी, मा. सूबे सिंह, नत्थू राम, नवीन मेहरा, राजबीर सिंह रंगा, बंसीलाल दहिया, रतन लाल मनहर, रामकृष्ण, महेन्द्र सिंह पातलान, गीता राम मंडल, मिठू राम ढ़ैणवाल नगर पार्षद, मोहन लाल सुखरालिया, रमेश मेहरा, बलराज सिंह, जगदीश भीमा, कैलाश चंद्र गहलोत, रतनबाला गहलोत, ईश्वर सिंह तंवर, रामपाल दड़बी, मनदीप कसवां, सांसद के निजी सचिव परमवीर सिंह, अमित सोनी सहित गणमान्य लोग व  बड़ी संख्या में युवा उपस्थित थे।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: