>प्रादेषिक समाचार, हिन्दी 30.1.2011

31 जनवरी

>

मुख्य समाचारः
ऽ  हरियाणा सरकार ने मुख्यमंत्रियों और मंत्रियों की सहायता के लिए मुख्य संसदीय सचिवों
के विभागों में फेर बदल किया।
ऽ  उपजाऊ कृषि भूमि के अधिग्रहण को लेकर गुड़गांव में किसानों की महापंचायत।
ऽ  राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने कहा है कि मिर्चपुर जैसी घटनाओं की पुनरावृति
रोकने के लिए आयोग द्वारा कड़े कदम उठाए जा रहे है।
ऽ  राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 63 वीं पुण्यतिथि पर आज राष्ट्र उन्हें श्रद्धंाजलि अर्पित कर
रहा है।

हरियाणा सरकार ने मुख्यमंत्री और मंत्रियों की सहायता  के लिए मुख्य संसदीय सचिवों के
विभागों में फेर बदल किया हैं।
आदेषों के अनुसार मुख्य संसदीय सचिव श्रीमती अनिता यादव को खाद्य एवं आपूतर््िा मंत्री तथा
समाज कल्याण मंत्री के साथ संबद्ध किया गया हैं। श्री दान सिंह को षिक्षा मंत्री के साथ संबद्ध
किया गया है और वे नगर एवं ग्राम आयोजना विभाग में मुख्यमंत्री की सहायता भी करेंगे।
श्री धर्मवीर को कृषि मंत्रि के साथ संबद्ध किया गया है और वे विकास एवं पंचायत विभाग में
मुख्यमंत्री की सहायता करेंगे। श्री जयवीर को समाज कल्याण मंत्री और सहकारिता मंत्री के साथ
संबद्ध किया गया है। श्री जलेब खान को राजस्व मंत्री श्रम एवं रोजगार मंत्री उद्योग मंत्री के
साथ संबद्ध किया गया है और वे वक्फ बोर्ड में मुख्यमंत्री की सहायता भी करेंगे। श्री प्रह्लाद
सिंह गिल्लाखेड़ा को लोक निर्माण मंत्री वन मंत्री के साथ संबद्ध किया गया है तथा वे आवास
विभाग में मुख्यमंत्री की सहायता करेंगे।
इसी प्रकार श्री राम किषन फौजी को अतिथि सत्कार तथा पर्यटन विभाग के साथ स्वास्थ्य मंत्री
और पर्यटन मंत्री के साथ संबद्ध किया गया है और वे न्याय प्रषासन में मुख्यमंत्री की सहायता
भी करेंगे।
सुश्री षारदा राठौर गृह विभाग में मुख्यमंत्री की सहायता करेगी और उन्हें आबकारी एवं कराधान
मंत्री षहरी स्थानीय निकाय मंत्री के साथ संबद्ध किया गया है। श्री राम किषन को उद्योग मंत्री
के साथ संबद्ध किया गया है और वे इलैक्टॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग में मुख्यमंत्री
की सहायता करेंगे।
श्री विनोद भयाना को बिजली मंत्री के साथ संबद्ध किया गया है और वे जेल और कानून तथा
विधाय विभागों के कार्य में मुख्यमंत्री की सहायता भी करेंगे।
पंडित  जिले राम छोक्कर को जन सवास्थ्य मंत्री के साथ संबद्ध किया गया है और वे मुद्रण एवं
लेखन सामग्री विभाग में मुख्यमंत्री की सहायता भी करेंगे।
————————————
राज्य में 55 गावों के किसानों ने आज राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर आठ के निकट गुड़गांव के पंचगांव
चौक में एक महापंचायत का आयोजन किया । किसानों द्वारा यह महापंचयात उनकी गुड़गांव ,
रिवाड़ी और बावल में बासठ सौ एकड़ उपजाऊ कृषि भूमि के अधिग्रहण का विरोध करने और
आगे की रणनीति तय करने के लिए बुलाई गई थी। राज्य सरकार द्वारा अधिग्रहीत की जा रही
इस भूमि में से 1800 सौ एकड़ कृषि भूमि गुड़गांव में मानेसर के पास पांच सौ एकड़ बावल में
और सैंतीस सौ रिवाड़ी जिलें में है।
गौरतलब है कि किसानों को भूमि अधिग्रहण के बारे  में नोटिस जारी हो चुके हैं। मानेसर
औद्योगिक क्षेत्र के उद्योगपति भी इन किसानों का समर्थन कर रहे हैं। आज बुलाई गई
महापंचायत के नेताओं का कहना है कि यह भूमि अधिग्रहण सर्वोच्च न्यायालय के उस निर्णय के
खिलाफ है। जिसमें उन्होंने किसानों की उपजाऊ कृषि भूमि को अधिगृहित करने पर रोक लगाने
को कहा था हांलाकि आज महापंचायत की बैठक कुल मिला कर षांतिपूर्ण रही, लेकिन उनके
नेताओं ने सरकार को चेताया है कि यदि उनकी बात नही सुनी गई तो वे दिल्ली जा कर
कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी से मिलेंगे और अगर जरूरत पड़ी तो अधिग्रहण के खिलाफ
राज्य में आदांेलन तेज किया जाएगा।
विपक्ष के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री श्री ओम प्रकाष चौटाला ने इस भूमि अधिग्रहण पर प्रतिक्रिया
देते हुए कहा है कि सरकार की यह कोषिष न केवल सर्वाेच्च न्यायालय के आदेषों के खिलाफ
है बल्कि कांग्रेस हाई कमान श्रीमती सोनीया गांधी और महासचिव श्री राहुल गांधी के उन षब्दों
के भी खिलाफ हैं। जिसमें उन्होंने देष में उपजाऊ भूमि अधिगृहीत न करने को कहा था।
————————————
राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ राजकुमार वेरका ने कहा है कि हरियाणा प्रदेश
में मिर्चपुर जैसी घटनाओं की पूनरावृति रोकने के लिए आयोग द्वारा कड़े कदम उठाए जा रहे है। करनाल में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होने कहा कि आयोग द्वारा प्रदेश मे अनुसूचित
जाति के लोगों पर हो रहे अत्याचारों को रोकने के लिए जल्द ही जिला स्तर पर दौरा कर
अवलोकन किया जाएगा। उन्होने कहा कि  अनुसूचित वर्ग पर हो रहे अत्याचारों को लेकर राज्य
सरकार से जवाब तलब करते हुए राज्य के मुख्य सचिव सहित डीजीपी व अन्य वरिष्ठ
अधिकारियों को नोटिस दिए गए है। उन्होने कहा कि अगर एक महीने के अंदर आरोपियों को
गिरफ्तार नहीं किया गया तो आयोग द्वारा इसका कड़ा संज्ञान लिया जाएगा। श्री वेरका ने कहा
कि मिर्चपुर मामले में कसूरवार लोगों को किसी कीमत  पर बख्शा नहीं जाएगा। आयोग के
उपाध्यक्ष ने कहा कि हरियाणा सहित देश के सभी प्रदशों में राज्य सरकारों को आयोग का
गठन जल्द करने के निर्देश दिए गए है। इस अवसर पर राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के
सदस्य  हरिराम सूद, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ज्ञान सहोता सहित अन्य लोग भी मौजूद रहे।
————————————
राष्ट्र आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को उनकी 63 वी पुण्य तिथि पर भावभीणी श्रद्धांजलि अर्पित
कर रहा है देष के विभिन्न हिस्सों में इस अवसर पर प्रार्थना सभाएं आयोजित की गई तथा बापू
के जीवन दर्षन और षिक्षाओं पर प्रकाष डाला गया।
हिसार लघु सचिवालय परिसर में आज श्रद्धांजलि समारोह का आयोजन किया गया। समारोह में
उपायुक्त श्री युद्धवीर सिंह वालिया तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने दो मिनट का मौन रख कर
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी तथा स्वतंत्रता संग्राम के षहीदों को नमन किया । भिवनी में भी आज
विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कर बापू को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।
उपायुक्त श्री रमेष वर्मा ने भिवानी में राष्ट्रपिता की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और उनके त्याग
, तप और अहिंसा के संदेष को याद किया। यमुनानगर से भी महात्मा गांधी का षहीदी दिवस
मनाए जाने के समाचार मिला है।
————————————
हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने दैनिक ट्रिब्यून के पूर्व संपपादक बलराम दत्त
षर्मा के निधन पर षोक व्यक्त किया है।
73 वर्षीय श्री षर्मा का आज पंचकूला के एक निजी अस्पताल में देहांत हो गया था वे अपने
पीछे चारपुत्र तथा एक पुत्री छोड़ गए हैं आज चंडीगढ़ में जारी एक षोक संदेष में मुख्यमंत्री ने
श्री षर्मा को एक अनुभवी पत्रकार बताया है जिन्हें उनकी  निष्पक्ष लेखनी के लिए याद रखा
जाएगा। श्री हुड्डा ने कहा कि बलराम दत्त षर्मा ने हिंदी पत्रकारिता के विकास में महत्वपूर्ण
योगदान दिया हैं श्री हुड्डा ने दिवंगत की आत्मा की षांति के लिए प्रार्थना की है तथा षोक
संतप्त परिवार के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त की हैं।
————————————
हरियाणा सरकार ने 664 करोड़ रूपए की लागत वाली दो सौ इक्यावन नई बाढ़ नियंत्रण
योजनाएं स्वीकृत की हैं और पहले से ही चल रही 103 योजनाओं के लिए 157 करोड़ रूपए की
राषि मंजूर की है। सिचाई मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव ने चंडीगढ़ में बताया कि गंगा बाढ़
नियंत्रण योजना पर 82 करोड़ रूपए खर्च किए जाएगे, जबकि हरियाणा राज्य बाढ़ नियंत्रण बोर्ड
के तहत योजनाओं पर 150 करोड़ रूपए खर्च किए जाएंगे।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: