>दोपहर समाचार २६.०१.२०११

26 जनवरी

>

मुख्य समाचार

  • गणतंत्र दिवस परेड में देश की सैन्य शक्ति, सम्पन्नता, प्रगति और विविधतापूर्ण सांस्कृतिक विरासत का भव्य प्रदर्शन।
  • सेना के डॉ० मेजर लैशराम ज्योतिन सिह को मरणोपरान्त अशोक चक्र।
  • जम्मू कश्मीर में गणतंत्र दिवस समारोह शांतिपूर्ण।
  • विभिन्न राज्यों और विदेशों में गणतंत्र दिवस मनाये जाने के समाचार।
  • जाने-माने संगीतकार ए आर रहमान, डेनी बॉयल की फिल्म १२७ आवर्स के संगीत के लिए ऑस्कर के लिए नामांकित।
  • ऑस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस में लिएण्डर पेस और महेश भूपति की जोड़ी पुरूषों के डबल्स के सेमीफाइनल में।
——-

  ६२वां गणतंत्र दिवस देश भर में हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। बड़ी संख्या में लोग देशभक्ति के जज्+बे के साथ इन समारोहों में हिस्सा ले रहे हैं।
 मुख्य समारोह राजधानी दिल्ली के ऐतिहासिक राजपथ पर हुआ, जहां राष्ट्रपति प्रतिभा देवीसिंह पाटील ने गणतंत्र दिवस परेड की सलामी ली।
 राष्ट्रपति अपने ४६ अंगरक्षकों के साथ राजपथ पर पहुंचीं और तिरंगा फहराया, इसके बाद उन्हें २१ तोपों की सलामी दी गयी।
 परेड शुरू होने से पहले राष्ट्रपति ने सेना के मेडिकल कोर के डॉक्टर मेजर लैशराम ज्योतिन सिंह को मरणोपरांत अशोक चक्र प्रदान किया। इसके बाद दिल्ली क्षेत्र के जनरल आफीसर कमांडिंग मेजर जनरल मानवेंन्द्र सिंह के नेतृत्व में परेड शुरू हुई। परेड शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने इंडिया गेट स्थित अमर जवान ज्योति पर पुष्पांजलि अर्पित की।
 इंडोनेशिया के राष्ट्रपति डॉक्टर हाजी सुसीलो बामबांग युधोयोनो इस बार गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि रहे।
 इस अवसर पर भारत की सैन्य शक्ति, सांस्कृतिक विरासत, विभिन्न क्षेत्रों में देश की उपलब्धियां और हवाई ताकत का प्रदर्शन किया गया। हल्के लड़ाकू विमान तेजस आकर्षण का विशेष केन्द्र था जो पहली बार परेड में शामिल हुआ। भारतीय सेना ने अपने अतिउन्नत टी-९० टैंक, ब्रम्होस लांचर सिस्टम, पिनाका मल्टीबैरल रॉकेट लांचर और आधुनिक हथियारों का प्रदर्शन किया।
 परेड में ६१वीं कैवेलरी के घुड़सवार दस्तों, पंजाब रेजीमेंट, गे्रनेडियर्स रेजीमेंट, राजपूताना राइफल्स, सिख लाइट इनफैन्ट्री और जम्मू-कश्मीर लाइट इनफैन्ट्री सहित विभिन्न दस्तों के जवानों ने हिस्सा लिया। दूसरे विश्व युद्ध में शरीक ८७ वर्षीय फ्लाइंग आफीसर एम एम शुक्ला के नेतृत्व में पूर्व सैनिकों ने भी पूरी सजधन के साथ परेड में हिस्सा लिया। सीमा सुरक्षा बल, असम राइफल्स, तट रक्षक बल, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल, भारत तिब्बत सीमा पुलिस, केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल, सशस्त्र सीमा बल, आरपीएफ, दिल्ली पुलिस, नेशनल कैडेट कोर और नेशनल सर्विस स्कीम के दस्ते भी परेड में आकर्षण का केन्द्र बने।
 २३ राज्यों और केन्द्रीय मंत्रालयों तथा विभागों की आकर्षक झांकियों में देश की ऐतिहासिक और सांस्कृतिक विरासत की झलक दिखाई गयी। इन झांकियों के माध्यम से देश के छह दशकों की विकास गाथा प्रभावपूर्ण ढंग से प्रदर्शित की गई। हमारी संवाददाता ने बताया है कि जब डॉ. आई पी सिंह अपने भाई डॉ. मेजर लैशराम ज्योतिन सिंह को मरणोपरांत प्रदान किया जाने वाला अशोक चक्र ग्रहण करने आए तो माहौलं देशभक्ति की भावना से भर गया।

रायसिन्हा हिल्स से लेकर ऐतिहासिक लालकिले के आठ किलोमीटर के रास्ते के दोनों ओर राजधानी दिल्ली और आसपास के राज्यों से हजारों की तादात में लोग गणतंत्र दिवस की परेड लेखने के लिए कार्यक्रम शुरू होने से पहले से ही खड़े थे। हर्षोल्लास गौरव और देशभक्ति की भावना से ओतप्रोत लोगों ने देश की सांस्कृतिक विरासत के विभिन्न रंगों और भारत की सैन्य शक्ति के प्रदर्शन का दिल खोलकर आनंद लिया। परेड में विभिन्न प्रदेशों और विभागों की झांकियों द्वारा झांकियों से मानों पूरे भारत का एक छोटा रूप राजपथ पर उतर आया हो। गुरूदेव रविन्द्र नाथ टैगोर की १५०वी जन्म शताब्दी के समारोह के मद्देनजर पहली दो  झांिकयां उन पर केंद्रित थी केरला और महाराष्ट्र के पारंपरिक नृत्य सिक्किम के बौद्ध मठों की घुटों चांम पारंपरिक रस्म बिदर के खूबसूरत हस्तशिल्प पटना में स्थित सूफी संत मखदूम दौलत के मकबरे, जम्मू और कश्मीर का लोक नाटय, समेत कई मनमोहक झांकियों ने लोगों का दिल जीत लिया। और जब सेना के मोटरसाइकिलों पर सवार डेयरडेविल्स ने कई तरह के रोमांचक करतब दिखाएं तो लोग उनके साहस को देख दंग रह गए।  परेड का अंत भारतीय वायु सेना के हवाई जहाजों के फ्लाई पास्ट से हुआ। और फिर सैंकड़ो गुब्बारों को हवा में छोड़ा गया जिससे पूरा आकाश मानो तिरंगे के रंग में रंग गया हो।

 राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार से सम्मानित २३ में से २१ बच्चों ने भी परेड में हिस्सा लिया। दो बच्चों को मरणोपरांत इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।  इसके अलावा दिल्ली के विभिन्न स्कूलों और क्षेत्रीय सांस्कृतिक केन्द्रों से चुने गये छह सौ ८६ बच्चों ने विभिन्न प्रकार के लोकनृत्य प्रस्तुत किये। परेड का समापन भारतीय वायुसेना के शानदार फ्लाईपास्ट से हुआ, जिसमें एमआई-२५ हमलावर हेलीकाप्टर ने पहली बार हिस्सा लिया।
 हमारे संवाददाता ने बताया है कि गणतंत्र दिवस समारोहों के मद्देनजर राजधानी दिल्ली में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये हैं।

—–

 राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में भी गणतंत्र दिवस समारोह धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है।
 जम्मू-कश्मीर में गणतंत्र दिवस समारोह का मुख्य समारोह जम्मू के मौलाना आजाद स्टेडियम में आयोजित किया गया। राज्यपाल एन.एन वोहरा ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और भव्य परेड की सलामी ली। हमारे संवाददाता ने बताया है कि गणतंत्र दिवस समारोह स्थल पर और उसके आसपास कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की  गयी थी।

 मुख्यमंत्री ने राज्य में आतंकवाद पिछड़े वर्ष पांच महीने तक चलने वाली पत्थर मारने की घटनाओं से हुए जानो माल का नुकसान लोगों को स्मरण कराते हुए कहा कि हिंसा से किसी भी मसले का हल नहीं निकाला जा सकता है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का प्रयास है कि राज्य में २० साल से आतंकवाद से ग्रस्त समाज को परिवर्तित करते हुए यहां कि राजनैतिक सुरक्षा में सुधार लाया जाए। ताकि राज्य में विकास हो सके। उमर अफजल ने अपनी सरकार के इस स्पेशल मत को दोहराया कि राज्य के तीनों संभागों का समान विकास हो। आकाशवाणी समाचार के लिए जम्मू से आर के रैना।
 पंजाब में गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह जालंधर के  गुरू गोविन्द सिंह स्टेडियम में आयोजित किया गया। इस अवसर पर राज्यपाल शिवराज सिंह पाटिल ने कहा कि देश और प्रदेश में शांति बनाये रखने के लिए लोगों को एकजुट रहने की जरूरत है।

राज्यपाल शिवराज पाटिल ने भारतीय सेना व नीम फौजी बलों द्वारा देश की सीमाओं की रखवाली करने की सराहना की और कुछ स्वतंत्रता सेनानियों को इस अवसर पर सम्मानित भी किया। राज्यपाल ने कहा कि हमें सभी तरह की रूकावटों को लांधते हुए उन्नति करते रहना है। उन्होंने कहा कि पंजाब के उद्योग को आगे लाने की जरूरत है। और यहां के लोगों को राज्य की और तरक्की के लिए सर्वशिक्षा अभियान का भरपूर लाभ उठाना चाहिए। इससे पहले उन्होंने परेछ का निरीक्षण कर सलामी ली। सीमा सुरक्षाबल द्वारा अटारी सीमा पर गणतंत्र दिवस मनाया गया। बल के डीआईजी बलजीत भनोट ने पाकिस्तान रेजरों को मिठाईयां भी बाटी।

 हरियाणा में गणतंत्र दिवस समारोह पूरे उल्लास और गरिमा के साथ मनाया गया। हिमाचल प्रदेश में मुख्य समारोह शिमला में आयोजित किया गया। हमारी संवाददाता ने खबर दी है कि बड़ी संख्या में लोगों ने समारोह में हिस्सा लिया।

शिमला के ऐतिहासिक रिज मैदान पर राज्यस्तरीय समारोह में हिमाचल के राज्यपाल उर्मिला सिंह ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया। और परेड की सलामी ली। गणतंत्र दिवस के मौके पर आयोजित समारोह को देखने के लिए सैंकड़ों लोग जिनमें बच्चे भी शामिल थे। रिज पर  इकट्ठा हुए और यहां पर प्रस्तुत रंगारंग कार्यक्रम का भरपूर आनंद उठाया। स्कूली बच्चों द्वारा प्रस्तुत लोक नृत्य ने लोगों को झूमने पर मजबूर कर दिया।
 राजस्थान में गणतंत्र दिवस का प्रमुख समारोह जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में आयोजित किया गया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया। उन्होंने उत्कृष्ट सेवा के लिए २८ प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को पुरस्कार प्रदान किए। पुलिस वीरता पदक बिमल कुमार प्रशाल को मरणोपरांत दिया गया। मुख्यमंत्री ने राष्ट्रमंडल खेलों और एशियाई खेलों में में पदक जीतने वाले कृष्ण पूनिया और बजरंग लाल ताखर सहित ९  खिलाड़ियों को भी सम्मानित किया।
 उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में भी गणतंत्र दिवस समारोह में भारी संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया।

मुख्य समारोह राजधानी देहरादून के परेड ग्राउंड में आयोजित हुआ। जहां राज्यपाल श्रीमती मारगे्रट आल्वा ने भव्य परेड की सलामी ली। पुलिस के जवान कदम से कदम मिलाते हुए अपनी चुस्ती और अनुशासन का परिचय दे रहे थे। इस अवसर पर विभिन्न विभागों की भव्य झांकियां भी निकाली गई। जिसमें वन, पर्यटन, उद्योग और ग्रामीण विकास के साथ उरेडा की झाकिंया प्रमुख थी। इस वर्ष की जनगणना को देखते हुए जनगणना विभाग की झांकिया भी परेड में शामिल हुई। साथ ही अगले वर्ष राज्य में आयोजित नंदा देवी राजनाथ यात्रा को देखते हुए इससे संबंधित झांकी भी विशेष रूप से प्रस्तुत की गई। मुख्यमंत्री निवास में डॉ. रमेश पुखरियाल निशंक ने ध्वजा रोहण किया और लोगों से प्रदेश के विकास में सहयोग की अपील की।

 उत्तरप्रदेश में भी गणतंत्र दिवस समारोह पूरे उल्लास के साथ मनाया जा रहा है। हमारे संवाददाता ने बताया हेै कि लखनऊ में मुख्य समारोह में मुख्यमंत्री सुश्री मायावती, उनके मंत्रिमंडल के सहयोगी और वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

उत्तर प्रदेश में मुख्य समारोह लखनऊ विधानभवन के सामने आयोजित किया गया। जहां राज्यपाल बी एल जोशी ने सेना, केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों पुलिस एन सी सी और हॉमगार्ड के जवानों से सजी  परेड की सलामी ली। इस परेड सेना की थोपे और अन्य वाहन भी शामिल थे। स्कूली छात्रों ने देश भक्ति से ओतप्रोत शानदार रंगारंग सांस्कृति कार्यक्रम भी प्रेरित किए। राज्य के कई जिलों में इस अवसर पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को सम्मानित भी किया गया है। राज्य के ४० पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को उनकी उत्कृष्ट सेवाओं के लिए राष्ट्रपति के पुलिस पदक से सम्मानित किया गया है। इसके अलावा पुलिस के विभन्न विभागों के १०५ पुलिस कर्मचारियों को राज्य के पुलिस महानिदेशक ने भी सम्मानित किया है।

 मध्यप्रदेश में गणतंत्र दिवस समारोह हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। हमारे संवादद्दाता ने खबर दी है कि भोपाल में आयोजित समारोह में राज्यपाल रामेश्वर ठाकुर ने तिरंगा फहराया और परेड की सलामी ली।

भोपाल में राजस्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह को संबोधित करते हुए राज्यपाल रामेश्वर ठाकुर ने प्रदेश में शासन और जनता के बीच दूरियां बाटने के प्रयासों पर प्रसन्नता जताई। परेड में पुलिस सुरक्षा बलो, एन सी सी और स्काउंड और गाइड की २१ टुकडियों ने भाग लिया। इस मौके चोमासा, बड़ेधी और भंड़म लोकनृत्यों के साथ ही विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ग्वालियर में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। आज शाम प्रदेश के सभी ५० जिलों में भारत पर्व नामक सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। जिसका करीब ढाई हजार कलाकार भजन, कव्वाली और शास्त्रीय नृत्य पेश करेंगे।
 उधर, गुजरात में सूरत में राज्यपाल डॉक्टर कमला ने तिरंगा फहराया। मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित कई गणमान्य व्यक्ति भी वहां मौजूद थे। हमारे संवाददाता ने बताया है कि इस अवसर पर राज्य में चलायी जा रही विभिन्न विकास योजनाओं से संबंधित रिपोर्ट जारी की गयी।

 महाराष्ट्र में राज्य स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह मुम्बई में आयोजित किया गया। इस अवसर पर राज्यपाल के. शंकरनारायणन ने कहा कि प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के क्षेत्र में महाराष्ट्र ने देश में महत्वपूर्ण स्थान बना लिया है। उन्होंने वर्ष २०११ को पर्यटन वर्ष के रूप में मनाने की घोषणा की। इस अवसर पर महाराष्ट्र के  मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण और अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।
 बिहार में राज्यपाल देवानंद कुंवर ने पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में तिरंगा फहराया। इस अवसर पर श्री कुंवर ने कहा कि सरकार भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों की सम्पत्ति जब्त करना शुरू कर चुकी है।

राज्यपाल देवालाल कुंवर ने राज्य के निवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार का विकास करके ही हम देश के विकास में योगदान कर सकते हैं। श्री कुंवर ने लोगों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनांएं देते हुए कहा कि तमाम चुनौतियों के बावजूद राज्य पर प्रगति के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है। राज्यपाल ने कहा कि पंचायती राज्य व्यवस्था और नगर निकायों में महिलाओं के लिए ५० प्रतिशत आरक्षण लेकर राज्य सरकार ने आदी आबादी को राजकार्य में भागीदार बनाया है। प्रदेश के विभिन्न जिलों में इस बार डीएम की बजाया प्रभावी मंत्रियों ने झंडा फहराया।
 पश्चिम बंगाल में गणतंत्र दिवस पूरे उल्लास के साथ मनाया जा रहा है। मुख्य समारोह कोलकाता के रैड रोड पर आयोजित किया गया। राज्यपाल एम.के. नारायणन ने परेड की सलामी ली। परेड में सेना, वायुसेना और नौ-सेना , पुलिस और अर्ध सैनिक बलों की टुकड़ियों सहित स्कूली बच्चों ने हिस्सा लिया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्जी, उनके मंत्रिमंडल के सहयोगी और गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।
 असम में गणतंत्र दिवस समारोह गुहावाटी ऐतिहासिक लतासील फील्ड में आयोजित किया गया। राज्यपाल जानकी वल्लभ पटनायक ने तिरंगा फहराया। हमारे संवाददाता ने बताया कि मुख्यमंत्री तरूण गोगोई सहित, वरिष्ठ अधिकारी इस मौके पर मौजूद रहे।

 मेघालय में शिलंग में राज्यपाल रनजीत शेखर मूसाहारी ने तिरंगा फहराया। उग्रवादी संगठनों के बहिष्कार के बावजूद लोग बड़ी संख्या में देश भक्ति के जजबे के साथ समारोह में शरीक हुए।
 मणिपुर में इम्फाल में कांगला के ऐतिहासिक महल में राज्यपाल गुरवचन जगत ने झंडारोहण किया और ६३ टुकड़ियों वाली परेड की सलामी ली।  राज्य के विभिन्न विभागों की १३ झांकियां निकाली गयी। मुख्यमंत्री ओकरम इबोबी सिंह और अन्य गणमान्य व्यक्ति समारोह में उपस्थित थे।
 सिक्किम से भी धूमधाम से गणतंत्र दिवस समारोह मनाए जाने का समाचार मिला है।

 नागालैंड में कोहिमा में सचिवालय प्लाजा पर तिरंगा फहराते हुए राज्यपाल निखिल कुमार ने कहा कि नागालैंड सामाजिक-आर्थिक विकास की राह पर अग्रसर है। उन्होंने लोगों से शांति बनाये रखने की अपील की।
 अरूणाचल-प्रदेश में राज्यपाल जनरल जे.जे सिंह ने ईटानगर में तिरंगा फहराया और लोगों से राज्य की तरक्की के लिए मतभेदों को भूलाकर  एकजुट होने की अपील की।
 कर्नाटक में गणतंत्र दिवस के अवसर पर बंगलुरू में राज्यपाल हंसराज भारद्वाज ने तिरंगा फहराया।
 आन्ध्रप्रदेश में राज्यपाल ई.एस.एल नरसिम्हन ने सिकंदराबाद में परेड ग्राउंड में तिरंगा फहराया। इस अवसर पर उन्होंने लोगों से अपील की कि वे हिंसा का रास्ता छोड़कर शांति और व्यवस्था बनाये रखने के लिए काम करें।
 केरल में गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह तिरूअनन्तपुरम में हुआ। राज्यपाल आर.एस गवई ने तिरंगा फहराया और भव्य परेड की सलामी ली। इस अवसर पर मुख्यमंत्री वी.एस. अच्युतानन्द, उनके मंत्रिमंडल के सहयोगी और अन्य गणमान्य मौजूद थे।
 ओड़ीशा में भुवनेश्वर में राज्यपाल मुरलीधर चंद्रकांत भंडारे ने झंडा फहराया और परेड की सलामी ली। परेड में सुरक्षा बलों, एन.सी.सी स्काउट रैडक्रॉस, फायर ब्रिगेड सहित ८३ टुकड़ियां शामिल थी। माओवादियों ने कोरापुट, रायगढ़ा और गजपति जिलों में बंद का आह्‌वान किया।
 गोआ में पणजी में कैम्पल में गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह आयोजित किया गया। हमारे संवाददाता ने बताया है कि राज्यपाल डॉक्टर शिवेंद्र सिंह सिद्दू ने राष्ट्र ध्वज फहराया और परेड की सलामी ली।

इस अवसर पर राज्य में तरह-तरह के कार्यक्रम आयोजित किए गए। राज्यस्तरीय सरकारी कार्यक्रम पंजी में कामपाल परेड मैदान में संपन्न हुआ। जहां राज्यपाल डॉ. शिवेन्द्र ंिसंह सिद्धू ने ध्वजा रोहण कियां संचलन का निरीक्षण किया तथा गोवा की जनता को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि भारत प्रजासत्ता खोने के बाद देश के सभी क्षेत्रों में सराहनीय कार्य किया है।  बल्कि इससे संतुष्ट न होकर और आगे चलने के लिए उन्होंने अपील की है। उन्होंने कहा कि इस समय देश को सताने वाली आतंकवाद की समस्या हल करने के लिए लोगों का एकजुट होना आवश्यक है।

 पुद्दुच्चेरी में उपराज्यपाल इकबाल सिंह ने इंदिरा गांधी स्पोर्ट्‌स कॉम्पलेक्स में तिरंगा फहराया और परेड की सलामी ली। इस अवसर पर उपराज्यपाल ने पुलिस पदक भी प्रदान किए।
 अंडमान निकोबार में भी गणतंत्र दिवस के अवसर पर रंगारंग कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। हमारे सवांददाता ने खबर दी है कि कार-निकोबार में मुख्य समारोह का आयोजन बिशप जॉन रिचर्डसन स्टेडियम में किया गया।

सेना की शानदार परेड और विकास को दर्शाती झांकिया के अलावा स्कूली बच्चों के सांस्कृति कार्यक्रमों को देखने हजारों की संख्या में नगरवासी स्टेडियम में मौजूद थे। देशवासियों को संबोधित करते हुए उपराज्यपाल ने कहा कि द्वीपों को अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए कई परियोजनाओं पर कार्य चल रहा है। उन्होंने कहा कि प्रशासन द्वीपों की आदिम जन जातियों को संरक्षण देने के लिए प्रतिबद्ध है। और उनकी परंपरागत जीवन शैली को बचाने के लिए एक बफर जोन अधिसूचना जारी की गई है। निकोबार जिले में मुख्य समारोह बिशप जोन रिसेशप्न स्टेडियम में आयोजित हुआ जहां उपायुक्त रूपेश कुमार ठाकुर ने तिरंगा फहराया। दूरदराज के कथाल द्वीप में भी आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर बड़ी संख्या में आदिवासी समुदाय के लोग खेलकूद और सांस्कृतिक गतिविधियों में भाग ले रहे हैं।

 लक्षद्वीप में कावारती में प्रशासक जे.के. दादू ने राष्ट्र ध्वज फहराया और परेड की सलामी ली। इस अवसर पर स्कूली बच्चों द्वारा आकर्षक झांकिया निकाली गयी।

——

 कश्मीर घाटी में आज शांतिपूर्ण ढंग से गणतंत्र दिवस समारोह संपन्न हुए। जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के अध्यक्ष यासीन मलिक को उनके एक दर्जन समर्थकों के साथ उस समय गिरफ्तार कर लिया गया जब वे श्रीनगर के लाल चौक की ओर मार्च करने की कोशिश कर रहे थे। लाल चौक पर झंडा फहराने जा रहे भारतीय जनता पार्टी के सात कार्यकर्ताओं को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

——

 जम्मू-कश्मीर पुलिस ने वरिष्ठ भाजपा नेता सुषमा स्वराज, अरूण जेटली और अनन्त कुमार को रिहा कर दिया गया है। इसके अलावा भाजपा के करीब दो सौ कार्यकर्ताओं और भाजपा युवा मोर्चा के प्रमुख अनुराग ठाकुर को भी रिहा कर कर दिया।
 रिहाई के बाद भाजपा नेताओं ने राज्य सरकार द्वारा उनको हिरासत में लेने की आलोचना की।

विदेशों से भी गणतंत्र दिवस मनाने के समाचार  हैं। बांग्लादेश में भारतीय उच्चआयुक्त ने ढाका में तिरंगा फहराया। इस अवसर पर उन्होंने उपस्थित भारतीयों के समक्ष राष्ट्रपति का राष्ट्र के नाम भाषण पढ़कर सुनाया। पूर्वी नौसेना कमान के बैंड ने देशभक्ति की धुनें प्रस्तुत की। भारतीय नौसेना का ये बैंड इसी अवसर के लिए विशाखापट्टनम से ढाका भेजा गया था।
 श्रीलंका में गणतंत्र दिवस समारोह कोलम्बो स्थित इंडिया हाउस में आयोजित किया गया।

 नेपाल की राजधानी काठमांडू में भारतीय दूतावास के परिसर में गणतंत्र दिवस समारोह आयोजित किए गए। भारतीय राजदूत श्री राकेश सूद ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और समारोह में उपस्थित भारतीयों और स्थानीय लोगों के समक्ष राष्ट्रपति श्रीमती प्रतिभा देवीसिंह पाटील का राष्ट्र के नाम संदेश पढ़कर सुनाया। हमारे संवाददाता ने खबर दी है कि परम्परागत रूप से आज तीसरे पहर एक स्वागत समारोह आयोजित किया जा रहा है, जिसमें मंत्री, राजनेता, विभिन्न देशों के राजदूत, गण्यमान्य नागरिक और प्रवासी भारतीय भाग लेंगे।

आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर भारत ने नेपाल के विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रो को २० एंबुलेंस और शिक्षण संस्थाओं को ४ बसें दिया है। राजदूत राकेश सूत ने नेपाल के विभिन्न जिले के ३६ शिक्षण संस्थाओं को किताबें भी दिया है। सन १९९४ से लेकर आज तक भारत नेपाल के ग्रामीण क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध करने के लिए कुल ३०६ एंबुलेंस और ५८ शिक्षण संस्थाओं को बसें दे चुका है।

 दुबई से हमारे संवाददाता ने खबर दी है कि पश्चिम एशिया के देशों से भी गणतंत्र दिवस समारोह मनाए जाने का समाचार है।

 पश्चिमी एशिया के विभिन्न देशों में भारतीयों द्वारा गणतंत्र दिवस उत्साह पूर्वक मनाया जा रहा है। भारतीय दूतावासों में लोगों की उपस्थित में राष्ट्र ध्वज फहराए गए और राष्ट्रपति के राष्ट्र के नाम संदेश के मुख्य अक्षरों को पड़कर सुनाया गया। इस अवसर पर विभिन्न देशों में स्थानीय बच्चों द्वारा प्रस्तुत रंगारग कार्यक्रमों ने भारत की समृद्ध सांस्कृतिक परंपरा और राष्ट्रीय एकता को उजागर किया। भारतीयों के साथ स्थानीय निवासियों की उपस्थित भारत और पश्चिमी एशिया के देशों के प्रगाड़ संबंधों का परिचायक है।

—–

 प्रवासी भारतीय मामलों और नागरिक उड्डयन मंत्री व्यालार रवि ने कहा है कि भारत सरकार देश में गरीबी कम करने के लिए काम कर रही है और विकास का लाभ समाज के सभी वगोर्ं को मिल रहा है। दुबई में इंडियन हाई स्कूल में आज भारतीय दूतावास द्वारा आयोजित समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए उन्होंने कहा कि सूचना के अधिकार, शिक्षा के अधिकार, पंचायती राज की मजबूती और रोजगार गारंटी योजना सहित सरकार द्वारा उठाए गये अनेक कदमों से देश में सकारात्मक बदलाव हो रहा है।
 श्री व्यालार रवि ने कल अबूधावी में पत्रकारों से कहा था कि वे एयर इंडिया को मजबूत करने पर विशेष ध्यान देंगे जिससे देश की छबि निखर सके।

——

  गणतंत्र दिवस के अवसर पर प्रतिष्ठित पद्म अलंकरणों की घोषणा कर दी गई है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि १३ विशिष्ट हस्तियों को पद्म विभूषण, ३१ को पद्मभूषण और ८४ लोगों को पद्मश्री सम्मान के लिए चुना गया है।

योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलुवालिया, विप्रो के अध्यक्ष अजीम प्रेमजी, जाने-माने अर्थशास्त्री विजय केलकर, पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बृजेश मिश्र, सुविख्यात लेखक डॉक्टर सीताकांत महापात्र और कला विशेषज्ञ डा. कपिला वात्स्यायन पद्म विभूषण, संगीत निर्देशक खय्याम, अभिनेता शशि कपूर, अभिनेत्री वहीदा रहमान और रंगमंच निर्देशक सत्यदेव दूबे, पूर्व विदेश सचिव श्याम सरन और सामाजिक कार्यकर्ता शोभना रानाडे सहित अनेक हस्तियों को पद्म भूषण सम्मान के लिए चुना गया है। पद्मश्री से अलंकृत होने वालों में साहित्यकार और शिक्षाविद् डॉक्टर चंद्रप्रकाश देवल, कश्मीर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर रियाज+ पंजाबी, साहित्यकार प्रोफेसर नीलाम्बर देव शर्मा और उर्वशी बुटालिया, चिकित्सक डॉक्टर इंदिरा हिंदुजा, डॉक्टर पोखराज बाफना और डॉक्टर श्यामा प्रसाद मंडल, फिल्म कलाकार तब्बू, काजोल और इरफान खान, पॉप गायिका ऊषा उथुप, कर्नाटक संगीत के गायक जानकीरमन, क्रिकेट खिलाड़ी वी०वी०एस० लक्ष्मण और हरभजन सिंह, भारोत्तोलक कुंजरानी देवी, पहलवान सुशील कुमार और निशानेबाज+ गगन नारंग सहित ८४ व्यक्ति शामिल हैं। कुल एक सौ २८ पद्म सम्मानों में से ३१ महिलाओं को दिए जाएंगे। इसके अलावा सशस्त्र बलों के कर्मियों तथा अन्य व्यक्तियों को चार सौ चालीस शौर्य पुरस्कारों तथा अन्य रक्षा सम्मानों के लिए चुना गया है। फ्लाइट लेफ्टिनेन्ट मनीष अरोड़ा को शौर्य चक्र के लिए चुना गया है। जबकि वायुसेना के तीन जांबाज पायलटों को वायुसेना पदक देने की घोषणा की गई है। मनीष अरोड़ा को साढ़े दस किलोमीटर की ऊंचाई पर करीब सुपरसोनिक रफ्तार से उड़ते हुए विमान की केनोपी के फट जाने के बाद गम्भीर रूप से घायल होने के बावजूद लड़ाकू जैट विमान को सुरक्षित उतारने के लिए शौर्य चक्र से सम्मानित किया जा रहा है। यह घटना पिछले साल फरवरी में पूर्वी सेक्टर में एक लड़ाकू विमान अड्डे पर हुई थी। विशिष्ट सेवा और कर्तव्यपरायणता के लिए ५९ वायुसैनिकों को सम्मानित किया जायेगा। सात सौ ५५ पुलिसकर्मियों को विभिन्न पुलिस पदकों के लिए चुना गया है। ८२ पुलिसकर्मियों को राष्ट्रपति के पुलिस पदक से सम्मानित किया जाएगा। पांच सौ तैंतीस कर्मियों को उनकी असाधारण सेवाओं के लिए पदक दिए जाएंगे।

—–

  राष्ट्रपति ने भ्रष्टाचार से कारगर ढंग से निपटने के लिए व्यवस्थागत बदलाव पर गम्भीरता से गौर करने का आग्रह किया है। भ्रष्टाचार को विकास और सुशासन का दुश्मन बताते हुए श्रीमती प्रतिभा देवीसिंह पाटील ने कहा कि इसके जाल में न फंसकर, इससे ऊपर उठने और इस समस्या को सुलझाने की जरूरत है। ६२ वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को सम्बोधित करते हुए श्रीमती पाटील ने कहा कि वित्तीय संस्थानों, कम्पनियों और समाज को अपने कामकाज में ईमानदारी के उच्च मानक बनाये रखने चाहिए।
  पारदर्शिता और जवाबदेही की जरूरत पर जोर देते हुए श्रीमती पाटील ने कहा कि यह अच्छे शासन और जनकेन्द्रित प्रशासन के लिए जरूरी है। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक सेवा में लापरवाह और निष्ठुर रवैया बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
 संसद के शीतकालीन अधिवेशन में गतिरोध के बारे कोई चर्चा किए बगैर राष्ट्रपति ने कहा कि संसद की कार्यवाही को जारी रखने की जिम्मेदारी सरकार और विपक्ष दोनों की है। उन्होंने कहा कि सदन की मर्यादा और गरिमा बनाये रखना जरूरी है।

——

 जाने-माने संगीतकार ए आर रहमान को इस साल फिर ऑस्कर के लिए नामांकित किया गया है। डेनी बॉयल की फिल्म १२७ आवर्स में संगीत देने वाले रहमान को दो श्रेणियों के लिए नामांकित किया गया है।
 सर्वश्रेष्ठ गीत की श्रेणी में पैंतालिस वर्षीय रहमान को ब्रिटिश पॉप गायक डिडो के साथ इफ आई राइज गीत के लिए नामांकित किया गया है।
 उत्कृष्ट मौलिक संगीत रचना के लिए रहमान को जान पॉवेल, अलेक्जेंडर डैसप्लैट, ट्रैंट रेजनर और एट्टिकस रॉस के साथ नामांकित किया गया है।

—–

लिएंडर पेस और महेश भूपति की जोड़ी, फ्रांसीसी और सर्बियाई जोड़ी मिकाइल लोडरा और निनाड जिमानइच को ६-४, ६-४ से हराकर ऑस्ट्रेआई ओपन टेनिस के पुरूषों के डबल्स मुकाबले के सेमीफाइनल में पहुंच गई है। तीसरी वरीयता प्राप्त जोड़ी आज दूसरे क्वार्टर फाइनल मुकाबले के विजेताओं से खेलेगी। क्वार्टर फाइनल में आज पोलैंड के मेरियज फ्रिस्टनबर्ग और मारसिन मेत्कोविस्की की जोड़ी का मुकाबला बेलारूस के मैक्स मिरनी और केनेडा के डेनियल नेस्तार से होगा।
प्रतियोगिता के क्वार्टर फाइनल में इंग्लैंड के एंडी मूरे, ऑस्ट्रेलिया के एलेक्जेन्डर डाल्गोपोलोव को ७-५, ६-३, ६-७ और ६-३ से हराकर सेमीफाइनल में पहुंच गये हैं।

——

 हरियाणा-उत्तर प्रदेश की सीमा पर आज सुबह भूकंप के हल्के झटके महसूस किये गये। रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता तीन दशमलव दो आंकी गयी। मौसम विभाग के अनुसार भूकंप के यह झटके आज सुबह आठ बजकर ३७ मिनट पर आए। भूकंप का केन्द्र सोनीपत और बागपत जिलों के पास था।

THE HEADLINES                                             

  • Country’s military might, rich and diverse cultural heritage, achievements in various fields and scintillating display of air power mark the Republic Day Parade at Rajpath in New Delhi.
  • Country celebrates the  62nd Republic Day today.
  • Highest peacetime gallantry award Ashok Chakra awarded posthumously to Army doctor Major Laishram Jyotin Singh.
  • Republic Day functions across Jammu and Kashmir pass off peacefully.
  • Reports of Republic Day celebrations come in from various parts of the country and abroad also.
  • Music maestro A R Rahman gets two  Oscar nominations for  music in Danny Boyle’s film ‘127 Hours’.
  • Indian duo of Leander Paes and Mahesh Bhupathi enter the semi final of the Australian Open  Men’s Doubles.
<<<>>>
The  country is celebrating the  62nd Republic Day today with patriotic fervour and gaiety. The highlight of the celebrations was the Republic Day Parade at the historic Rajpath in the capital where  India’s military might, rich and diverse cultural heritage, achievements in various fields and scintillating display of air power were  show cased. The Parade began shortly after the President Mrs. Pratibha Devisingh Patil arrived at the Rajpath escorted by the President’s 46 bodyguards riding the well-trained bedecked horses. After the President unfurled the tri-colour and the customary 21-guns salute, an Army doctor Major Laishram Jyotin Singh was awarded posthumously the highest peacetime gallantry award, the Ashok Chakra for his bravery while fighting militants during an attack on Indians in Kabul.
The synchronised military and police contingents led by General Officer Commanding Delhi Majour General Manvendra Singh marched proudly through the Rajpath as the President, who is the Supreme Commander of the Armed forces took the salute. The march-past was watched by Indonesian President Susilo Bambang Yudhoyono who was the chief guest at the Republic Day Parade, the Vice President Hamid Ansari, Prime Minister Manmohan Singh, Defence Minister A K Antony and the country’s top political and military brass.
Earlier, the Prime Minister Dr Manmohan Singh led the nation in paying homage to the martyrs by laying wreath at the Amar Jawan Jyoti at India Gate before the parade began. An eternal flame burns at the Amar Jawan Jyoti to commemorate the indomitable courage of our Armed Forces personnel who have made the supreme sacrifice in the service of the motherland.  
AIR correspondent says that the focus of attention at the parade today was Light Combat Aircraft (LCA) Tejas, that  participated in the Parade for the first time. The Indian Army  displayed its most advanced T-90 tank, Brahmos Launcher System, Pinaka Multi Barrel Rocket Launcher and other sophisticated weaponry. The Indian Navy displayed models of the aircraft carrier INS Viraat, Talwar kilo class submarine and the Mig-29K, the Indian Air Force tableau  focused on Network Centric Operations based on the AFNET, the state-of-the-art gigabyte digital information grid, also dedicated to the nation last year. 
          The marching contingents included the horse-mounted columns of the 61st Cavalry, Punjab Regiment, Grenadiers Regiment, Rajputana Rifles, Rajput Regiment, Sikh Light Infantry, Jammu and Kashmir Light Infantry, 3 Gorkha Rifles and the Territorial Army.  Another interesting feature of the Parade was the Ex-Servicemen Marching Contingent led by 87-year-old Flying Officer MM Shukla, a veteran of the 2nd World War. The marching contingents of paramilitary and other auxiliary civil forces were part of the  contingents from the Border Security Force, Assam Rifles, Coast Guards, Central Reserve Police Force, Indo-Tibetan Border Police, Central Industrial Security Force, Sashastra Seema Bal, Railway Protection Force, Delhi Police, National Cadet Corps and National Service Scheme. The Camel-mounted band of the BSF was another major attraction.
          Tableaux from 23 states and Central Ministries and Departments  presented the varied historical, architectural and cultural heritage of the country. They showcased country’s progress in different fields. The first tableau to roll out was the one on Guru Dev Rabindranath Tagore, by Culture Ministry and Sangeet Natak Akademi to commemorate the Nobel laureate’s 150th birth anniversary celebrations. Twenty-one of the 23 children selected for the National Bravery Award – 2010 participated in the parade. Two children were honoured posthumously.
          Nearly seven hundred children of different schools from Delhi and Regional Cultural Centres presented a fiesta of the varied folk and modern dances . Dare Devils, the motorcycle display by the Army’s Corps of Signals, performed breathtaking stunts. The grand finale of the parade was a spectacular flypast by the IAF fighter planes and the Mi-25 attack helicopter, participating for the first time.
          AIR correspondent says strict security arrangements were in place. Snipers kept a hawk-eye vigil from rooftops and armed personnel at every corner provided a ground-to-air security apparatus.
Thousands of people  from various parts of the capital and adjoining states had converged all along the eight kilometre  as the  as the  Parade marched from Raisina Hills to the Historic  Red fort . The myriad  colours of the country’s rich  and vibrant  culture and India’s the military might was on  full display  as the crowds cheered them on  with a sense of pride , joy and patriotism. Major attraction at the parade were the 23 tableau that presented almost a mini India before the spectators  displaying the  myriad hues  of country’s diversity. With the country celebrating Gurudev Rabindernath Tagore’s  150th birth anniversary ,  at least three of the  tableux  focussed on the nobel laureate. The exotic handicrafts from  Bidar,  17th century architectural marvel of Maner Sharif in Patna, the mausoleum of Sufi Saint Makhdoom Daulat the dance forms from Kerala and Maharashtra, the Guto Cham ceremony in monasteries from the Sikkim and the folk theatre from Jammu and Kashmir were among the main attraction. The spectators held their breath as the Dare Devils from the Army performed back riding, border man salute, lotus formation, human pyramid and ladder balancing on Motorcycles. The parade ended with the fly-past by the planes of the Indian air force and the release of balloons that filled the air with India‘s tri-colour. 
<<>>
        The republic day functions all across the kashmir valley passed of peacefully.  JKLF president Yasin Malik along with a dozen supporters was taken in to custody by police as they tried to march towards lal chowk from nearby maisuma locality.  Seven BJP activists were arrested as they made a vain bid to march to the Lal Chowk to hoist the national flag.
          The main ceremonial function was held at Bakshi Stadium in Srinagar where state Finance Minster ABDUL RAHIM RATHER unfurled the national flag and took salute of the impressive parade. Amid high security a sizeable number of people attended the function. AIR Srinagar correspondent reports that heavy security was deployed in  Lal Chowk area.
          Jammu and Kashmir Governor Mr. N.N. Vohra and Chief Minister, Omar Abdullah have called for utilizing present conducive atmosphere of dialogue in a positive manner to address political issues of Jammu and Kashmir politically. In his address Mr. Vohra urged all segments of the society to join hands to build a strong, stable and prosperous Jammu and Kashmir to make it a model state for the entire country to emulate. Chief Minister Omar Abdullah in his address appealed the separatists to rise to the occasion and play their role in bringing about peace and tranquility in the State.
The Chief Minister reminded the people of the loss of precious lives and property during the period of militancy and in five months of stone pelting and said that violence has never solved any problem. Omar said his endeavour was to improve the political and developmental scenario besides transformation of a society which has witnessed 20 years of disturbance .He also reiterated his resolve to seek equitable development of all regions of J&K.
<><>
          A day after the arrest of BJP’s senior leaders and thwarting of their plan to hoist the tricolour at Lal Chowk in Srinagar, the party today rejected Jammu and Kashmir Chief Minister Omar Abdullah’s offer to attend Republic Day function either in Jammu or in Srinagar, terming it as a mere lip service. Talking to Media persons in Kathua , BJYM National president Anurag Thakur said that BJP does not give any credence to Omar Abdullah’s invitation.  The chief minister had invited BJP leaders to be a state guest at the Republic Day functions either in Jammu or Srinagar and had spoken to Mr. Arun Jaitley in this regard.
           In Assam, the 62nd Republic Day was celebrated with colourful programmes across the state amidst tight security. Defying several North-East militant groups’ boycott call, large numbers of people gathered in the Republic parade grounds to witness the colourful programmes organized on the occasion. The Governor Mr. Janaki Ballav Patnaik unfurled the national tricolour at the main function organized at the historic Latashil Field in Guwahati this morning.  The Chief Minister Mr. Tarun Gogoi high police and civil officials and other dignitaries were present.
          In Puducherry, the Lt. Governor Mr. Iqbal Singh unfurled the national flag and inspected the guard of honour at the Indira Gandhi Sports Complex. He also presented awards and prizes for meritorious service to teachers and schools that excelled in the last academic year. He also handed over the President’s police medal for meritorious service and lieutenant Governor’s police medal for extraordinary service.
          In Odisha, the 62nd Republic Day is being celebrated all over the State with much enthusiasm and funfare. Governor Mr Muralidhar Chandrakant Bhandare hoisted the tricolour and took salute at the state-level parade organised at Mahatma Gandhi Marg in Bhubaneswar.
          In Meghalaya, the 62nd Republic Day is being celebrated with colourful programmes across the state. People are taking part in different functions defying certain banned militant outfits’ bandh call. The main function was was held in the state capital Shillong where the State Governor Mr. Ranjit Shekhar Mooshahary unfurled the national flag.
          In Goa,  several functions are being organised all over the state to mark the occasion.
          In Rajasthan. the state level function was organized in Sawai Manasingh stadium in Jaipur where Chief Minister Ashok Gehlot hoisted the tricolour. He honoured 28th Civil and Police officers for their outstanding work. Police bravery award was given away to Bimal Kumar Prashal posthumously.
          In Madhya Pradesh, the 62nd republic day is being celebrated with pomp and gaiety.  AIR correspondent reports that the main function on this occasion was organized in capital Bhopal where governor Rameshwar Thakur hoisted the tricolour and inspected the parade.
Addressing the gathering in the state level republic day function in Bhopal governor Rameshwar Thakur expressed pleasure over the efforts being made in the state to bridge gap between government and people. He said that Madhya Pradesh Public Services Guarantee Act is an effective step in this direction. Twenty one contingents of police, security forces, NCC and Scouts and guides took part in the parade. Different cultural programmes including Chaumasa, Baredi and Bhadam folk dances were also performed on this occasion. Chief minister Shivraj Singh Chouhan unfurled the national flag in Gwalior. A cultural programme named Bharat Parv will also be organized in all the 50 districts of the state this evening in which 25oo artists will present bhajans, qawwalis and classical dances.
<<>>
          Maharashtra Governor K. Sankaranarayanan said in Mumbai at the state official Republic Day celebrations that the state has retained its position as the most favoured investment destination in India, having attracted the highest number of Foreign Direct Investment proposals in the country. 
          The Republic Day is also being celebrated all over West Bengal in a befitting manner.  A colourful parade was organized at the Red Road in Kolkata where contingents of Army, Navy and Air Force took part. Besides there were contingents of police, para-military forces and school children, The Governor Mr M K Narayanan took the guard of honour.
             Kerala Governor R S Gavai highlighted India‘s strides in different areas especially in the international arena during the last decade. AIR Correspondent reports that the Governor praised Kerala for its socio-economic progress and vibrant democratic process.
          Unprecedented security measures did not dampen the spirit of republic day celebration in Kerala. Glittering functions have been organised at the capital city and district headquarters. Men in uniform marched in style to the tune of bands and bugle evoking patriotic fervour and pride. In his speech, Governor R S Gavai highlighted India‘s strides in different sectors especially in the international arena. He praised Kerala for its vibrant democratic process and socio-economic progress . Chief Minister V S Achuthanandan, his cabinet colleagues and large number of general public especially students took pride in celebrating the 62nd republic day.
<<>>
          Addressing the State Level Republic Day function at Guru Gobind Singh Stadium in Jalandhar, the Punjab Governor, Mr. Shivraj V. Patil said the people have to work collectively for maintaining peace and prosperity in the state as well as in the country. He said Punjab has to remain alert to avoid outside disturbances. AIR correspondent has filed this report on the state level function:
Appreciating Punjab’s role for always standing up against any trouble in the country, Governor said that we have to keep progressing for more development by crossing all hurdles. He said Punjab’s industry needs to be taken forward and people should make use of Sarva Shiksha Abhiyan for educating the uneducated for more progress and development of the state. Earlier, he inspected the guard-of-honor and took salute from the parade. Tableaus from various departments also presented various themes and thoughts for progress and development, whereas, students from various institutions presented a clourful cultural programme. The Border Security Force celebrated the Republic Day at Attari check post. DIG, BSF, Sanjeev Bhanot presented sweets to Pak Rangers on this occasion. 
<<>>
          In the Nicobar group of islands, colourful parades, tribal sports, student rallies and tribal folk dances mark the celebration.
          In Port Blair, the Islands Lt Governor, Lt Gen Bhopindher Singh unfurled the national flag at the historic Netaji Stadium and took the salute. Thousand of people in the stadium witnessed the impressive march past by the military contingents, spectacular fly past by Coast Guard helicopters and colourful cultural programmes by the students. Addressing the islanders, the Lt Governor said major steps are taken to make these islands as an eco-friendly international tourist destination. He said the administration is very keen in protecting the rare primitive tribes of this region and brought out a buffer zone notification to preserve their traditional life style and distinct identity.
<<>>
          In Gujarat, the State level function was held at Surat, where the Governor Dr. Kamala unfurled the tricolour amid showering of the petals by an Air Force helicopter. AIR Correspondent reports that series of developmental projects were launched in Surat district on the occasion.
          In Andhra Pradesh, pomp and gaiety marked the Republic Day celebrations through out the state. Governor E.S.L. Narsimhan hoisted the national flag and taken the salute at a main ceremonial parade held at parade Grounds in Secunderabad this morning. In his address on the occasion, the Governor called upon people to shun violence in all forms and appealed to maintain peace and public order.
          In Bihar, amid tight security arrangements Governor Devanand Kuer unfurled tricolour at historical Patna Gandhi Maidan . On this occasion Mr. Kuer said the state government has already started seizing the property of the corrupt people. He said schools will be opened in the seized buildings.
         AIR correspondent reports that the governor has awarded  ten jawans for their bravery.
          In Uttar Pradesh Republic Day celebrations are being held in most of the districts today. The main function was organised at state capital Lucknow in front of Vidhan Bhawan. AIR correspondent reports that 40 police officers and personnel are being felicitated with President Police Medal for their Distinguished Service.
          In Arunachal Pradesh, state Governor Gen Retd JJ Singh said development could be brought only when there is peace. Addressing the Republic Day function in Itanagar today, he asked the people to shed differences and work as a team. Chief Minister Dorjee Khandu and a host of ministers attended the celebration.
          Arunachal Governor Gen Retd JJ Singh said the state government will continue to give emphasis on crucial sectors like health, education, tourism, hydropower, PDS and road communication. He also highlighted the central schemes being taken up in Arunachal Pradesh saying they will give a boost to development of the border state. The Governor also announced that new policies on education and sports were being formulated by the government. Cultural troupes of different communities in traditional attires gave performances during the celebration.
<<<>>>
            In Mizoram, the national flag was hoisted by the Governor M M Lakhera in state capital Aizawl on the occasion of Republic Day today. AIR correspondent reports that the Governor inspected the parade and gave away awards to the best contingents.
The 62nd republic Day was celebrated in Mizoram with the main function being organised at Assam Rifles Ground in the state capital Aizawl this morning. The Governor of Mizoram Lt. Gen. (retd.) M M Lakhera unfurled the national flag. He also inspected the parade. The function was also attended by Chief Minister Lal Thanhawla, state cabinet ministers and other renowned persons. The parade contingents included paramilitary forces, school children, retired defence personnel and NCC. The Governor gave away awards to the leaders of the parade contingents. In his message on the occasion, the Governor said that the state government’s main aim is welfare of the people. Terming peace and tranquility vital for growth and development, he praised the support of several governmental as well as non-governmental organisations in Mizoram. He reiterated the Mizoram Government’s commitment to build a stronger and self-reliant Mizoram. Later, the Governor gave away awards in several categories for meritorious service. An “At Home” was organised at the Raj Bhavan later on where Chief Minister Lal Thanhawla, Ministers and other dignitaries were present.
<<<>>>
          In Himachal Pradesh, Republic Day is being celebrated with great enthusiasm and fervour throughout the State. Functions were organized at State, District, Sub-Divisional and Tehsil-level to mark the occasion. Unfurling of National Flag, March-past by the contingents of Police, Home Guards, ITBP, NCC and cultural programmes are the main attractions of the day long celebration.
          Governor of Himachal Pradesh Smt. Urmila Singh , presided over the State-level function held at the Historic Ridge Maidan, Shimla. Governor unfurled the National Flag and took salute at an impressive March-past presented by the contingents of Police, ITBP, Home- Guards, Army Regiments, NCC and Ex-servicemen. She also inspected Guard of Honour. Large number of people in traditional dresses gathered to mark the occasion. The cultural programme presented especially by the school children forced people to dance on the folk dances.
<<<>>>
          Stating that corruption is an anti-thesis to the rule of law and good governance, Karnataka governor H.R. Bharadwaj  called on people to lend their hand in rooting out corruption in a sustained manner to achieve visible success.
          Addressing the people after unfurling the national tricolour  in Bangalore he said eternal vigilance is the price we have to pay for the success of democracy.
            Reports of Republic Day celebrations have also come in from abroad. In Bangladesh, the Indian High Commissioner Mr. Rajeet Mitter hoisted the tricolour in Dhaka.  He read out the President’s address to the nation at the function attended by hundreds of Indians living in Bangladesh. An Indian Navy Band of the Eastern Naval Command which had specially reached Dhaka from Vishakapatnam for the  celebrations mesmerised the audience playing several patriotic songs to mark the occasion.
                   In Nepal, a function was organized at the premises of Indian Embassy in Kathmandu this morning to celebrate the 62nd Republic Day. Ambassador of India Mr. Rakesh Sood hoisted the national tri-colour and read out the text of the President Smt. Pratibha Devisingh Patil’s message to the nation to a large gathering of Indian and local people. AIR Kathmandu Correspondent reports that a customary reception is being organized later this afternoon for Nepal government ministers, political leaders, heads of diplomatic missions, prominent citizens and resident Indians.
“On the occasion of the Republic Day today, India gifted 20 ambulances, and four buses to various hospitals, health centres and educational institutions. Ambassador Sood also gifted books to 36 educational institutions located in different parts of Nepal. Since 1994, government of India has gifted 58 school buses and 306 ambulances to various organizations across 75 districts of Nepal. This has helped bring health care services to the doorstep of thousands of people, particularly in remote areas of Nepal.” On the eve of Republic Day, the Indian Embassy organized a musical programme last evening with Ghazal Maestro Satish Babbar and his daughter Vani Babbar in Kathmandu last evening.
<<>>
          In West Asia the national flag has been hoisted at the various Indian Missions and the post across the region. Musical programme and patriotic songs by school children were the highlights on the occasion.
          The Republic Day is being celebrated by Indians across the west Asia region with pomp and splendour. Ambassadors and Consul Generals in respective Indian Missions and posts hoisted the National flag in the presence of dignitaries and Indian residents. The extract from the Address to the Nation by the President was also read out on the occasion. Cultural programmes performed by school children emphasising the rich cultural diversities and stressing National Unity were the highlight on this event. Large numbers of people from local population were present on the occasion and their attendance was reminding the extraordinary bonding between India and these countries.
<<>>
            Senior BJP leaders Sushma Swaraj, Arun Jaitley and Anant Kumar have been released from custody by the Jammu and Kashmir police.   About 200 BJP activists including Bharatiya Janta Yuva Morcha chief Anurag Thakur were also released.
<<<>>>
          The re-united Indian duo of Leander Paes and Mahesh Bhupathi have stormed into the semi-finals of the Australian Open Men’s Doubles competition defeating the French-Serbian combine of Michael Llodra and Nenad Zimonjic, 6-4, 6-4. The third-seeded pair will now face the winners of the day’s second quarter-final match between Poland’s Mariusz Frystenberg and Marcin Matkowski and Max Miryni of Belarus and Canada’s Daniel Nestor.
<<<>>>
            After his double win at the 2009 Academy awards,  Music maestro A R Rahman has a chance to repeat the feat this year winning two Oscar nominations for his music in Danny Boyle’s film ‘127 Hours’.
        ‘If I Rise’, the 45-year-old singer-composer’s collaboration with British pop star Dido, has been nominated in the Best Song ategory.
        Rahman will also be competing for the Best Original Score trophy with John Powell (‘How to Train Your Dragon’), Hans Zimmer (‘Inception’), Alexandre Desplat (‘The King’s Speech’) and Trent Reznor and Atticus Ross (‘The Social Network’).
          The Mozart of Madras first won the award for his music in Boyle’s Mumbai-based potboiler ‘Slumdog Millionaire’ in 2009. He had lost out on the golden trophy last year, after his song ‘Na Na’ (from ‘Couple’s Retreat’) failed to get a nomination despite being in the long list for the ‘Best Song’ category.
        Rahman has already won a Critics Choice award this year for the film, which has received good reviews for it’s “haunting tracks” and “wonderful crescendos”, and is in the running for a  Best Original Music BAFTA for the same.

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: